विधानसभा (Assembly)

राज्य विधायिका से सम्बंधित अनुच्छेद(अनुच्छेद 168- 213) 

सामान्य अनुच्छेद 

अनुच्छेद 168- राज्यों में विधायिकाओं का गठन
अनुच्छेद 169- राज्यों में विधान परिषदों का गठन अथवा उन्मूलन
अनुच्छेद 170- विधान सभाओं का गठन
अनुच्छेद 171- विधान परिषदों का गठन
अनुच्छेद 172- राज्य विधायिकाओं का कार्यकाल
अनुच्छेद 173- राज्य विधायिका की सदस्यता के लिए योग्यता
अनुच्छेद 174- राज्य विधायिका के सत्र, सत्रावसान एवं उनका भंग होना
अनुच्छेद 175- राज्यपाल का सदन अथवा सदनों को संबोधित करने तथा उन्हें संदेश देने का अधिकार
अनुच्छेद 176- राज्यपाल द्वारा विशेष संबोधन
अनुच्छेद 177- सदनों से संबंधित मंत्रियों तथा महाधिवक्ता के अधिकार

राज्य विधायिका के पदाधिकारीगण 

अनुच्छेद 178- विधानसभा के अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष
अनुच्छेद 179- विधानसभा अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष के पदों से पदत्याग, त्यागपत्र तथा पद से हटाया जाना।
अनुच्छेद 180- उपाध्यक्ष अथवा अध्यक्ष का पदभार संभाल रहे व्यक्ति की शक्तियां
अनुच्छेद 181- अध्यक्ष अथवा उपाध्यक्ष द्वारा उस समय सदन की अध्यक्षता से विरत रहना जबकि उन्हें हटाए जाने संबंधी प्रस्ताव सदन के विचाराधीन हो।
अनुच्छेद 182- विधान परिषद के सभापति एवं उपसभापति
अनुच्छेद 183- सभापति तथा उपसभापति के पदों से पदत्याग, त्यागपत्र तथा पद से हटाया जाना
अनुच्छेद 184- उपसभापति अथवा अन्य व्यक्ति जो कि सभापति का कार्यभार देख रहा हो, को सभापति के रूप में कार्य करने की शक्ति
अनुच्छेद 185- सभापति एवं उप-सभापति द्वारा उस समय सदन की अध्यक्षता से विरत रहना जबकि उन्हें हटाए जाने सबंधी प्रस्ताव सदन के विचाराधीन हो।
अनुच्छेद 186- विधानसभा अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष और विधान परिषद सभापति और उपसभापति के वेतन एवं भत्ते
अनुच्छेद 187- राज्य विधायिका का सचिवालय

कार्यवाही का संचालन 

अनुच्छेद 188- सदस्यों द्वारा शपथ ग्रहण
अनुच्छेद 189- सदन में मतदान, सदनों की रिक्तियों एवं कोरम का विचार किए बिना कार्य करने की शक्ति

सदस्यों की अयोग्यता 

अनुच्छेद 190- सीटों का रिक्त होना
अनुच्छेद 191- सदस्यों के लिए अयोग्यता
अनुच्छेद 192- सदस्यों की अयोग्यता संबंधी प्रश्नों पर निर्णय
अनुच्छेद 193- अनुच्छेद 188 के अंतर्गत शपथ ग्रहण के पहले स्थान ग्रहण और मतदान के लिए दंड अथवा उस स्थिति के लिए भी जब की अहर्ता नहीं हो अथवा अयोग्य ठहरा दिया गया हो।

राज्य विधायिकाओं एवं सदस्यों की शक्तियां विशेषाधिकार तथा सुरक्षा 

अनुच्छेद 193- विधायी सदनों तथा इनके सदस्यों एवं समितियों की शक्तियां एवं विशेषाधिकार इत्यादि
अनुच्छेद 193- सदस्यों के वेतन-भत्ते

विधायी प्रकिया 

अनुच्छेद 196- विधेयकों की प्रस्तुति एवं उन्हें पारित करने सम्बन्धी प्रावधान
अनुच्छेद 197- विधान परिषद के वित्त विधेयकों के अतिरिक्त अन्य विधेयकों के सम्बन्ध में शक्तियों पर प्रतिबंध
अनुच्छेद 198- वित्त विधेयकों सम्बन्धी विशेष प्रक्रिया
अनुच्छेद 199- वित्त विधेयक की परिभाषा
अनुच्छेद 200- विधेयकों की स्वीकृति
अनुच्छेद 201- बिल विचारार्थ सुरक्षित

वित्तीय मामलों सम्बन्धी प्रक्रिया

अनुच्छेद 202- वार्षिक वित्तीय विवरण( Annual financial statement)
अनुच्छेद 203- विधायिका में प्राक्कलनों से संबंधित प्रक्रिया
अनुच्छेद 204- विनियोग विधेयक(Appropriation bill)
अनुच्छेद 205- पूरक, अतिरिक्त अथवा अतिरेक अनुदान
अनुच्छेद 206- लेखा, ऋण एवं असाधारण अनुदानों पर मतदान
अनुच्छेद 207- वित्त विधेयक को संबंधी विशेष प्रावधान

 साधारण प्रक्रिया 

अनुच्छेद 208- प्रक्रिया सम्बन्धी नियम
अनुच्छेद 209- राज्य विधायिका में वित्तीय कार्यवाहियों में सम्बंधित प्रक्रियागत नियम
अनुच्छेद 210- विधायिका में प्रयोग की जाने वाली भाषा
अनुच्छेद 211- विधायिका में चर्चा पर प्रतिबन्ध
अनुच्छेद 212- न्यायालय द्वारा विधायिका की कार्यवाहियों के सम्बन्ध में पूछताछ नही
अनुच्छेद 213- विधायिका की अवकाश अवधि में राज्यपाल की अध्यादेश जारी करने की शक्ति

 

rajasthan vidhan sabha
RAJASTHAN ASSEMBLY

 राजस्थान विधानसभा ( Rajasthan Assembly )

  • राजस्थान में एक सदनीय विधानमंडल (विधानसभा) है।
  • राज्य की प्रथम विधानसभा के लिए आम चुनाव 4 जनवरी से 24 जनवरी 1952 तक हुए थे।
  • राजस्थान में प्रथम विधानसभा का गठन 29 फरवरी 1952 को हुआ था। राज्य की पहली विधान सभा का चुनाव 1952 में जयनारायण व्यास के नेतृत्व में हुआ इस विधानसभा के लिए 616 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा था
  • राजस्थान विधानसभा की प्रथम बैठक 29 मार्च 1952 को राजस्थान की राजधानी *जयपुर के सवाई मानसिंह टाउन हॉल में हुई जिसे बाद में विधानसभा भवन का रुप दिया गया।
  • नवीन राजस्थान विधानसभा भवन का लोकार्पण 6 नवंबर 2001 को राष्ट्रपति श्री के. आर. नारायणन ने किया।
  • राज्य विधानसभा को 7 वीं अनुसूची में वर्णित राज्य सूची और समवर्ती सूची के विषयों पर कानून बनाने का अधिकार प्राप्त है।
  • राजस्थान विधानसभा में प्रथम विधानसभा चुनाव में 160 सीटों की संख्या थी।
  • वर्तमान में राजस्थान में 14वीं विधानसभा चल रही है। जिसमें सदस्य संख्या 200 हैं वर्तमान में अध्यक्ष श्री कैलाश मेघवाल व उपाध्यक्ष राव राजेंद्र सिंह है।
  • 14 वीं विधानसभा में महिला सदस्यों की संख्या 27 है
  • सविधान के अनुच्छेद 194 में विधान सभा सदस्यो के विशेषाधिकारो का उल्लेख है

राजस्थान 14वीं विधानसभा केपदाधिकारी..

  • कल्याण सिंह –  राज्यपाल ,राजस्थान राज्य
  • कैलाश मेघवाल – अध्यक्ष राजस्थान विधानसभा
  • वसुंधरा राजे सिंधिया – मुख्यमंत्री राजस्थान सरकार
  • प्रध्युम्न सिंह – प्रोटेम स्पीकर राजस्थान विधानसभा
  • वसुंधरा राजे सिंधिया – नेता राजस्थान विधानसभा
  • रामेश्वर डूडी- नेता प्रतिपक्ष राजस्थान विधानसभा
  • अशोक परनामी- प्रदेशाध्यक्ष राजस्थान भाजपा
  • सचिन पायलट- प्रदेशाध्यक्ष राजस्थान कांग्रेस
  • कालूलाल गुर्जर- सरकारी मुख्य सचेतक
  • गोविंद सिंह डोटासरा- कांग्रेस विधायक दल का मुख्य सचेतकः राजस्थान विधानसभा

Important Question

1. राजस्थान में वर्तमान में कोनसी विधानसभा चल रही है।
उत्तर -राजस्थान में वर्तमान में 14वी विधानसभा चल रही है।

2. विधानसभा सदस्य किस प्रकार चुने जाते हैं ?
उत्तर- विधानसभा के सदस्यों का निर्वाचन प्रत्यक्ष जनता द्वारा की जाता हैं।

3. वर्तमान में राजस्थान विधानसभा उपाध्यक्ष कौन है तथा विधानसभा उपाध्यक्ष किस प्रकार चुना जाता है ?
उत्तर – वर्तमान राजस्थान विधानसभा उपाध्यक्ष राव राजेंद्र सिंह है तथा यह विधानसभा सदस्य बनने के बाद विधानसभा सदस्यों में से विधानसभा सदस्य द्वारा ही चुना जाता है।

4.विधानसभा सदस्य बनने के लिये योग्यता बताइये ?
उत्तर- (१) वह भारत का नागरिक हो।
(२) वह कम से कम 25 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुका हो।
(३) वह 2 वर्ष से अधिक जेल में न रह हो।

5.राजस्थान में विधानसभा के बारे में विस्तार से बताइये ?
उत्तर- वर्तमान में भारत में कुल 31 विधानसभा(29 राज्य + 2 केन्द्र शासित प्रदेश में )व 7 विधानपरिषद है ।

  • सर्वाधिक विधानसभा सीटे 403 उत्तरप्रदेश में तथा सबसे कम 36 सीटे सिक्किम/गोवा में है। राजस्थान में 200 सीटे है।
  • सदस्यों का निर्वाचन- इसमे प्रत्यक्ष जनता द्वारा ही चुना जाता है। 
  • सदस्यों का कार्यालय – सामान्यतः 5 वर्ष लेकिन विधानसभा में विश्वास प्राप्त करने तक
  • सदस्यों की योग्यता- वह भारत का नागरिक हो, वह काम से कम 25 वर्ष की आयु पूर्ण कर चुका हो। वह 2 वर्ष से अधिक जेल में न रहा हो।
  • गणपूर्ति/ कोरम- उस सदन की बैठक हेतु न्यूनतम सदस्यों की संख्या को गणपूर्ति/ कोरम कहते है। राजस्थान विधानसभा मे गणपूर्ति /कोरम हेतु 20 सदस्य आवश्यक है।

विधानसभा के प्रमुख पदाधिकारी

(1) विधानसभा अध्यक्ष- कैलाश मेघवाल
निर्वाचित- विधानसभा सदस्यों द्वारा
कार्यकाल – सामान्यतः 5 वर्ष लेकिन नवगठित विधानसभा की प्रथम बैठक तक
शपथ- नही लेता केवल सदस्य के रूप में लेता है
त्यागपत्र- उपाध्यक्ष को
पद से हटाना – विधानसभा सदस्यों द्वारा

(2) विधानसभा उपाध्यक्ष – राव राजेंद्र सिंह
निर्वाचित – विधानसभा सदस्यों द्वारा
कार्यकाल – सामान्यतः 5 वर्ष लेकिन विधानसभा के कार्यकाल तक।
शपथ- नही लेता केवल विधानसभा सदस्यों के रुप में लेता है
त्यागपत्र- अध्यक्ष को
पद से हटाना- विधानसभा के सदस्यों द्वारा

(3) प्रोटेम स्पीकर/ अंतरिम/अस्थाई अध्यक्ष- प्रद्युम्न सिंह
नियुक्ति- राज्यपाल के द्वारा विधानसभा के सबसे वरिष्ठ सदस्यों को
कार्य- (१)नवगठित विधानसभा की अध्यक्षता करता हैं।
(२) नवनिर्वाचित विधायको को शपथ दिलवाता है।
(३) अध्यक्ष व उपाध्यक्ष का चुनाव करवाता है।

(4) सदन का नेता- वसुंधरा राजे सिंधिया
 सामान्यतः 99% सदन का नेता मुख्यमंत्री ही होता है लेकिन 1% यदि मुख्यमंत्री विधानसभा से न होकर विधानपरिषद से हो तो उस स्थिति में विधानसभा के सबसे वरिष्ठ मंत्री को सदन का नेता बनाया जाता है।
कार्यकाल- समान्यतः 5 वर्ष लेकिन विधानसभा में विश्वास प्राप्त करने तक

(5) विपक्ष का नेता – रामेश्वर डूडी
विधानसभा में सबसे बड़ी विपक्षी दल के नेता को विपक्ष का नेता कहा जाता है।

 राजस्थान में वर्तमान में 200 विधानसभा सीटे है जो 2025 तक यही रहेंगी ।

06.  केबिनेट का एजेंणडा कोन तैयार करता है
मुख्य सचिव

07. सविधान के किस अनुछेद में प्रावधान हे की मुख्यमंत्री की नियुक्ति राज्यपाल द्धारा की जायेगी
अनुछेद 164

08. मुख्य सचिव की नियुक्ति कोंन करता हे
मुख्य मंत्री

09. राजस्थान मुख्य न्यायालय के मुख्य न्याधीश की नियुक्ति कोंन करता हे
राष्ट्रपति

10. कार्यपालिका की वास्तविक शक्तिया किस के पास होती हे
मुख्यमंत्री

11: किस अनुच्छेद के तहत राज्य का एक विधान मंडल होगा
उत्तर -अनुच्छेद 168

12 संविधानका अनुच्छेद333 क्या है?
उत्तर : राज्यपाल विधानसभा में एंग्लो-इंडियन समुदाय के एक सदस्य को मनोनीत कर सकता है

13: विधानसभा अध्यक्ष को शपथ कौन दिलवाता है?
उत्तर : अध्यक्ष के रुप में कोई शपथ नहीं लेता है साधारण सदस्य के रुप मे शपथ लेता है।

14: विधानसभा के सदस्यों की संख्या 200 किस विधानसभा में हुई?
उत्तर : छठी विधानसभा में।

15: अनुच्छेद 178मे क्या प्रावधान है?
उत्तर : विधानसभा के अध्यक्ष तथा उपाध्यक्ष के पदों का प्रावधान है।

Special Note-

भावांतर भुगतान योजना- मध्य प्रदेश ( Bhavantar Bhugtan Yojana -M.P )

भावांतर भरपाई योजना हरियाणा ( Bhavantar Bharpai Yojana- HARYANA )

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

कमल सिंह टोंक,  राजवीर प्रजापत चूरू, ओम सहारण बाडमेर, विनोद गरासिया बाँसवाड़ा, मुकेश पारीक ओसियाँ, नवीन कुमार, B.s.meena G Alwar

2 thoughts on “Assembly ( विधानसभा )”

Leave a Reply