Behavioural Geography Questions

व्यावहारिक भूगोल महत्वपूर्ण प्रश्नोत्तरी  

प्रशन 1 – व्यवहारवाद की विशेषताएं कौन सी है
(अ) व्यवहारवादियो का दृष्टिकोण बहु विषयक होता है
(ब) मानव समुदाय या संगठन है
(स) व्यवहारवादियो ने मानो समूह है या सामाजिक समूह को महत्वपूर्ण स्थान दिया
(द) सभी

(द)✔
व्याख्या – व्यवहार वादियों का दृष्टिकोण बहु विषयक होता है इसमें भूगोलवेत्ता मनोवैज्ञानिक समाज शास्त्रियों मानव शास्त्रियों आचरण शास्त्रियों का वर्णन होता है आचरण भूगोलवेत्ता मानव समुदाय या संगठन की अपेक्षा व्यक्ति को देता है इसकी मान्यता है कि व्यक्ति अपने भौतिक और सामाजिक पर्यावरण को निर्मित करता है व्यवहारवादी यू ने मानव है या सामाजिक अंतर संबंधों में अधिक महत्व है भूगोल में आचरण पद्धति लाभदायक है और यह मानव तथा भौतिक पर्यावरण के बीच विज्ञानिक संबंध स्थापित करने में सहायता करता है

प्रशन 2 – आचरण वाद के क्षेत्र कौन से हैं
(अ) प्राकृतिक संसाधन
(ब) स्थानिक वितरण
(स) भौगोलिक अवस्थिति
(द) सभी

(द)✔
व्याख्या – आचरण वाद के क्षेत्र निम्न है भौगोलिक अवस्थिति प्राकृतिक संसाधन स्थानिक वितरण स्थानिक अंतः क्रिया मानव की पारिस्थितिकी

प्रशन 3 – 1950 के बाद भौगोलिक चिंतन के विकास पर कितने प्रकरण का समावेश प्रभाव पड़ा
(अ) 2
(ब) 3
(स) 5
(द) 9

(ब)✔
व्याख्या – मात्रात्मक विधियों का बढ़ता हुआ अनुप्रयोग
तंत्र संकल्पना आचरण वाद या आचरण भूगोल यह तीन भौगोलिक चिंतन के विकास में महत्वपूर्ण है

प्रशन 4 – भूगोल वेता कॉल सावर कहां का निवासी था
(अ) जापान
(ब) अमेरिका
(स) फ्रांस का
(द) यूरोप का

(ब)✔
व्याख्या – अमेरिकी भूगोलवेत्ता कार सावर अट्ठारह सौ नवासी 1970 में मानव द्वारा उसके सामाजिक सांस्कृतिक पर्यावरण को पढ़ने में भौतिक पर्यावरण को उपयोगी बनाने और परिवर्तित करने में महत्वपूर्ण भूमिका को स्वीकार किया

प्रशन 5 – पंजाब में कौन सी फसल के लिए प्राकृतिक वातावरण उपयोगी है
(अ) तंबाकू की खेती
(ब) सोयाबीन की खेती
(स) जीरे की खेती
(द) कोई नहीं

(अ)✔
व्याख्या – पंजाब में तंबाकू की खेती के लिए प्राकृतिक वातावरण उपयुक्त है लेकिन पद की प्रधानता ने इसकी कृषि को रोक रखा है इसी तरह जम्मू-कश्मीर में धरातल जलवा वीक्स खेती अफीम संस्कृति के प्रतीक प्रमाण है लेकिन राज्य कृषि प्रशासनिक नीति इसे प्रश्नों के हित के अनुकूल घोषित नहीं करते बल्कि वहां का मानव व पर्यावरण पर आधारित केसर की खेती का महत्व प्रदान करता है

प्रशन 6- सोने फील्ड 1972 में पर्यावरण का अध्ययन कितने स्तरों में प्रस्तुत किया
(अ)2
(ब)3
(स)4
(द)8
👉(स)✔

व्याख्या – सोने फील्ड मैं पर्यावरण दिन को चार सत्रों में प्रस्तुत किया भौगोलिक पर्यावरण या परिवेश कार्यात्मक पर्यावरण य स क्रियात्मक परिवेश ज्ञानात्मक जगतिया उपलब्धि प्रवेश आचरण या आचरण परिवेश

प्रशन 7 – स्थानिक ज्ञान स्वरूप किस रूप में रखा
(अ) प्रज्ञा प्रभावित स्थल
(ब) भौतिक क्रियाओं का लाभप्रद स्थान
(स) शुद्ध संबंधों का सर्वोच्च स्थल
(द) सभी

(द)✔
व्याख्या – स्थानिक ज्ञान प्रज्ञा प्रवाह स्थल मोकाला प्रस्थान शुद्ध संबंधों का सर्वोत्तम उपलब्धि स्थल बाह्य स्थल

प्रश्न=8. व्यवहारात्मक क्रांति को अन्य किस नाम से जाना जाता है?
(अ) मात्रात्मक क्रांति
(ब) आचारपरक क्रांति
(स) अतिवादी भूगोल
(द) मानवतावादी भूगोल

(ब)✔
व्याख्या:- व्यवहारात्मक क्रांति को आचारपरक क्रांति के नाम से भी जाना जाता है।

प्रश्न=9. आचारपरक क्रांति का आगमन कब हुआ?
(अ) 1970 के दशक में
(ब) 1990 के दशक में
(स) 1960 के दशक में
(द) 1950 के दशक

(स)✔
व्याख्या:- 1960 के दशक में भूगोल में परिमाणात्मक क्रांति के विरोध में आचारपरक क्रांति का आगमन हुआ।

प्रश्न=10. व्यवहारात्मा क्रांति में किन तत्वों पर जोर दिया गया ?
(अ) मानवीय बोध
(ब) मानवीय व्यवहार
(स) क्षेत्रीय एवं वातावरण संबंधी निर्णय
(द) उपरोक्त सभी

(द)✔
व्याख्या:- व्यवहारात्मक में क्रांति में मानवीय बोध एवं व्यवहार, क्षेत्रीय एवं वातावरण संबंधी निर्णय पर जोर दिया जाता है।

प्रश्न=11. आचारपरक क्रांति में किस प्रकार का विधि तंत्र अपनाया जाता है ?
(अ) गेम थ्योरी
(ब) तंत्र उपागम
(स) अवस्थितिकी विश्लेषण
(द) उपरोक्त सभी

(द)✔
व्याख्या:- आचारपरक क्रांति में तंत्र उपागम, गेम थ्योरी, अवस्थिति की विश्लेषण, जैसे विशिष्ट विधि तंत्र को अपनाया गया है।

प्रश्न=12. व्यवहारात्मक भूगोल के विकास के प्राथमिक चरण में किस भूगोलवेत्ता का योगदान नहीं था ?
(अ) कर्क
(ब) हैगेट
(स) राइट
(द) हैंगरस्टैंड

(ब)✔

प्रश्न=13. नवोत्पादों के विवरण का सिद्धांत किसने दिया?
(अ) कर्क
(ब) हैगेट
(स) राइट
(द) हैंगरस्टैंड

(द)✔
व्याख्या:- हैंगर स्टैंड नवोत्पादों के विसरण का सिद्धांत दिया। इस सिद्धांत में उन्होंने यह बताया कि नवोत्पादों के वितरण पर मानव के आचरण, सूचना तंत्र आदि का प्रभाव पड़ता है।

प्रश्न=14. किस विद्वान ने व्यवहारात्मक भूगोल के विकास में योगदान नहीं दिया?
(अ) रसलीन
(ब) डाउनस
(स) बर्टन
(द) जे आर पीट

(द)✔
व्याख्या:- गिलबर्ट व्हाइट, ऑलपर्ट, डेविड हफ, बुक कोल्ड, रसलीन, बर्टन, कीट्स आदि विद्वानों ने आचारपरक क्रांति के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया है, जबकि जे आर पीट ने अतिवादी भूगोल के विकास में योगदान दिया है।

प्रश्न=15. आचरण भूगोल में मानव को किस रूप में स्वीकार नहीं किया गया है ?
(अ) विवेकशील
(ब) आर्थिक मानव
(स) अ एवं ब दोनों
(द) इनमें से कोई नहीं

(स)✔
व्याख्या:- आचरण भूगोलवेत्ता मानव को एक विवेकशील अथवा आर्थिक मानव के रूप में स्वीकार नहीं करते हैं, जो सदैव अपने लाभ को अधिकतम करने का प्रयास करता है।

प्रश्न=16. पर्यावरण उपलब्धि एवं आचरण से संबंधित मॉडल किसने दिया?
(अ) सोनेफील्ड
(ब) डाउन्स
(स) एलेन प्रेड
(द) बाॅल्डिंग

(ब)✔
व्याख्या:- पर्यावरण उपलब्धि एवं आचरण से संबंधित डाउंस ने 1970 में मॉडल दिया जिसके अनुसार वास्तविक जगत की सूचनाएं व्यक्ति के व्यक्तित्व, संस्कृति ज्ञान आदि के अनुसार छन कर उसके मस्तिष्क में पहुंचती है, जिनके सहारे संसाधनों के दोहन हेतु हुए आवश्यक निर्णय लेता है ताकि वह अपने विभिन्न आवश्यकताओं की पूर्ति कर सके।

Specially thanks to Post and Quiz Creator ( With Regards )

विजयपाल बधाल, कमलेश, धर्मवीर शर्मा