Bharat ki Jalvayu Objective Questions

भारत के जलवायु

प्रश्न=1- मावट किस के कारण होती हैं 
【अ】बंगाल की खाड़ी के चक्रवातों को
【ब】हिंद महासागर चक्र बातों को
【स】भूमध्यसागरीय चक्रवातों को ✔
【द】भूमध्य रेखीय चक्रवात

व्याख्या:➖ शीत ऋतु में भूमध्य सागर से जन्म लेकर आने वाले चक्रवात ओं से जम्मू कश्मीर हिमाचल प्रदेश पंजाब हरियाणा राजस्थान उत्तरांचल इत्यादि राज्यों में वर्षा होती है जिसे मावठ कहते हैं। 

प्रश्न= 2- भारत में शीत ऋतु में सर्वाधिक वर्षा किस राज्य में होती है 
【अ】केरल
【ब】उड़ीसा
【स】तमिलनाडु ✔
【द】आंध्र प्रदेश

व्याख्या:➖  शीतकालीन वर्षा का अधिकतम भाग तमिलनाडु को प्राप्त होता है। 

प्रश्न=3- भारत में कुल वार्षिक वर्षा का सर्वाधिक भाग लगभग 90% किस ऋतु में प्राप्त होता है 
【अ】उत्तरी पूर्वी मानसून
【ब】दक्षिण पश्चिम मानसून ✔
【स】भूमध्यसागरीय चक्रवातों
【द】इनमें से कोई नहीं

व्याख्या:➖ दक्षिण पश्चिम मानसून की पवने जल स्थल की ओर चलने के कारण अत्यंत आर्द्र होती है। भारत में कुल वार्षिक वर्षा का लगभग 90% भाग वर्षा ऋतु में प्राप्त होता है। 

प्रश्न=4- मानसून का प्रत्यावर्तन काल कोनसा है  
【अ】दिसंबर से फरवरी तक
【ब】मार्च से मध्य जून तक
【स】मध्य जून से मध्य सितंबर तक
【द】मध्य सितंबर से दिसंबर तक ✔

व्याख्या:➖  शरद ऋतु की अवधि मध्य सितंबर से दिसंबर तक रहती है यह मानसून का प्रत्यावर्तन काल कहलाता है 

प्रश्न=5- भारत में वार्षिक वर्षा का औसत कितना है 
【अ】90 centimetre
【ब】100 सेंटीमीटर
【स】110 सेंटीमीटर ✔
【द】115 सेंटीमीटर

व्याख्या:➖ भारत की वार्षिक वर्षा का औसत 110 सेंटीमीटर है जबकि सर्वाधिक वर्षा वाला स्थान मौसिनराम में 1300 सेंटीमीटर तथा थार के मरुस्थल जैसलमेर में केवल 5 सेंटीमीटर वर्षा का औसत है। 

प्रश्न= 6- यदि भूमध्य रेखा भारत के मध्य से गुजरती तो भारत की जलवायु होती 
【अ】उष्ण व शुष्क
【ब】शीत एवं शुष्क
【स】उष्ण एवं आर्द्र ✔
【द】शीत एवं आर्द्र

व्याख्या:➖ भूमध्य रेखा प्रदेश की जलवायु उष्ण एवं आर्द्र प्रकार की पाई जाती है। यदि भूमध्य रेखा भारत के मध्य से गुजरती तो यहां की जलवायु भी इसी प्रकार की होती। 

प्रश्न=7. एक ही अक्षांश पर स्थित होते हुए भी ऊंचाई में भिन्नता का कारण है?
(अ) समुद्र तल से ऊंचाई ✔
(ब) समुद्र से दूरी
(स) भूमध्य रेखा से दूरी
(द) पर्वतों की स्थिति

व्याख्या:- समुद्र तल से ऊंचाई का तापमान से विपरीत संबंध होता है सामान्यतः प्रति 165 मीटर की ऊंचाई पर 1 डिग्री सेंटीग्रेड तापमान कम होता जाता है इसी कारण हिमालय की उच्च ढालो पर हमेशा बर्फ जमी रहती है एक ही अक्षांश पर स्थित होते हुए भी ऊंचाई की भिन्नता के कारण ग्रीष्मकालीन औसत तापमान मसूरी से 24 डिग्री सेंटीग्रेड देहरादून से 32 डिग्री सेंटीग्रेड तथा अंबाला में 40 डिग्री सेंटीग्रेड होता है

प्रश्न=8. दक्षिणी भारत को किस प्रदेश में सम्मिलित किया जाता है ?
(अ) उष्ण प्रदेश ✔
(ब) शीतोष्ण प्रदेश
(स) उपोष्ण प्रदेश
(द) आर्द्र प्रदेश 
 
व्याख्या:- भूमध्य रेखा से दूरी तापमान को प्रभावित करने वाला आधारभूत का रखें बढ़ते हुए अक्षांश के साथ तापमान में कमी आती जाती है क्योंकि सूर्य की किरणों का तिरछापन बढ़ता जाता है इससे सोर्यताप की मात्रा प्रभावित होती है

इसी का नाम हिमालय के दक्षिणी ढालो पर हिम रेखा की ऊंचाई अधिक किंतु तिब्बत की ओर अर्थात उत्तरी ढालो पर इसकी ऊंचाई कम होती है कर्क रेखा भारत के लगभग मध्य से गुजरती उतरी भारत शीतोष्ण प्रदेश में तथा दक्षिणी भारत उष्ण प्रदेश में सम्मिलित किया जाता है

प्रश्न=9. पश्चिमी घाट की स्थिति प्रायद्वीपीय भारत के किस तट के निकट है ?
(अ) पश्चिमी तट ✔
(ब) पूर्वी तट
(स) उत्तरी तट
(द) दक्षिणी तट
 
व्याख्या:- पश्चिमी घाट की स्थिति प्रायद्वीपीय भारत के पश्चिमी तट के निकट है इस कारण दक्षिण- पश्चिमी मानसून से इनके पश्चिमी घाटों पर प्रचुर वर्षा होती है जबकि इसके विपरीत ढाल एवं प्रायद्वीपीय पठार दक्षिण पश्चिम मानसून की वृष्टि – छाया क्षेत्र में आते हैं

प्रश्न=10. पश्चिमी राजस्थान में शुष्कता का कारण है ?
(अ) अरावली श्रेणी की दिक स्थिति ✔
(ब) अरावली का वृष्टि छाया क्षेत्र
(स) पवन की दिशा
(द) समुद्र तल से दूरी
 
व्याख्या:- हिमालय पर्वत की स्थिति व दिशा के कारण ही भारत की जलवायु सौम्य है हिमालय साइबेरियाई ठंडी हवाओं से हमारे देश की रक्षा करते हैं साथ ही ग्रीष्म कालीन मानसून को रोककर भारत में ही वर्षा करने के लिए बाध्य करते हैं पश्चिमी राजस्थान में शुष्कता का एक कारण यह भी है कि अरावली श्रेणी की दिशा दक्षिणी- पश्चिमी मानसून के समानांतर है अतः यह पवनों के मार्ग में अवरोध उपस्थित नहीं करती है

प्रश्न=11. ग्रीष्मकालीन मानसून हिंद महासागर से चलने के कारण होते हैं ?
(अ) उष्ण व आर्द्र ✔
(ब) शीत व शुष्क
(स) उष्ण व शीत
(द) शीत व आद्र
 
व्याख्या:- पवने अपने उत्पत्ति के स्थान एवं मार्ग के गुण लाती है ग्रीष्मकालीन मानसून हिंद महासागर से चलने के कारण उष्ण व आद्र होते हैं अतः वर्षा करते हैं शरद कालीन मानसून स्थलीय व सीत क्षेत्र से चलते हैं अतः सामान्यतः सीत व शुष्कता लाते हैं

प्रश्न=12. भारत में शीत ऋतु संबंधित विशेषता नहीं है ?
(अ) भारत में शीत ऋतु दिसंबर से फरवरी तक रहती है
(ब) किस ऋतु में आकाश सच रहता है
(स) इस ऋतु में हवाएं तेज गति से चलती है ✔
(द) शीत ऋतु में आद्रता की कमी रहती है
 
व्याख्या:- भारत में शीत ऋतु दिसंबर से फरवरी तक रहती है इस ऋतु में आकाश स्वच्छ रहता है इस ऋतु की यह विशेषता है कि इसमें हवाएं धीमी गति से चलती है तथा इनमें आद्रता की कमी रहती है

प्रश्न=13. एशिया महाद्वीप में सर्वाधिक वायुदाब तंत्र किस क्षेत्र के पास रहता है ?
(अ) बैकाल झील के पास ✔
(ब) पाकिस्तान में पेशावर के पास
(स) उत्तरी पश्चिमी राजस्थान में
(द) हिंद महासागर मैं
 
व्याख्या:- भारतीय उपमहाद्वीप में सामान्यतः सर्दियों में तापमान काफी कम हो जाता है जिसके परिणाम स्वरूप स्थल पर उच्च तापमान विकसित होता है

संपूर्ण एशिया महाद्वीप के वायुदाब तंत्र में सर्वाधिक वायुदाब का एक केंद्र बैकाल झील के पास दूसरा पाकिस्तान में पेशावर के निकट तथा तीसरा उत्तरी पश्चिमी राजस्थान में विकसित होता है इस ऋतु में जलीय क्षेत्र अपेक्षाकृत उसने रहते हैं हिंद महासागर में निम्न दाब विकसित होता है

प्रश्न=14. शीत ऋतु में पवने मैदानी भाग को पार करने के बाद यह पवने किस दिशा से चलने लगती है?
(अ) दक्षिण पश्चिम
(ब) उत्तर पूर्वी ✔
(स) पश्चिमी पुरवा
(द) उत्तर दक्षिण
 
व्याख्या:- पवने उच्च दाब से निम्न दाब की ओर चलती है अतः भारत में इस ऋतु में पवने स्थल से जल की ओर चलने लगती है यह पवने भारत में उत्तर पश्चिम दिशा से गंगा मैदान की ओर चलती है

मैदानी भाग को पार करने के बाद यह पवने उत्तर- पूर्वी दिशा से चलने लग जाती है इन पवनो को उत्तरी- पूर्वी मानसून के नाम से जाना जाता है यह विशिष्ट क्रम शीत ऋतु में विकसित होता है इसलिए इन्हें शीतकालीन मानसून के नाम से भी जाना जाता है

प्रश्न=15. शीतकालीन मानसून वर्षा किस राज्य में नहीं होती है ?
(अ) पंजाब
(ब) हरियाणा
(स) उत्तरांचल
(द) महाराष्ट्र ✔
 
व्याख्या:- स्थल से जल की ओर चलने के कारण इस ऋतु में पवने अधिकांशत शुष्क होती है परिणाम स्वरूप इन पवनों से भारत में बहुत कम वर्षा होती है इस ऋतु में भूमध्य सागर से जन्म लेकर आने वाले चक्रवात उसे थोड़ी वृष्टि जम्मू कश्मीर हिमाचल प्रदेश पंजाब हरियाणा उत्तरांचल राजस्थान तथा उत्तर प्रदेश में होती है

इस वर्षा को मावठ कहते हैं यह फसल के लिए अत्यंत लाभप्रद होती है उत्तरी पूर्वी मानसून से थोड़ी सी वर्षा उत्तरी पूर्वी भारत के पर्वतीय क्षेत्र में भी होती है

प्रश्न=16. शीतकालीन वर्षा का अधिकतम भाग किस राज्य को प्राप्त होता है ?
(अ) पंजाब
(ब) हरियाणा
(स) तमिलनाडु ✔
(द) हिमाचल प्रदेश
 
व्याख्या:- बंगाल की खाड़ी की पर चलते समय पवने पुनः आद्रता ग्रहण का लेती है इसका लाभ तमिलनाडु को शीतकालीन वर्षा के रूप में मिलता है अतः शीतकालीन वर्षा का अधिकतम भाग तमिलनाडु को प्राप्त होता है

प्रश्न=17. आकाश का रंग पीला किस ऋतु में दिखाई देता है ?
(अ) शीत ऋतु में
(ब) ग्रीष्म ऋतु में
(स) वर्षा ऋतु में
(द) उपरोक्त सभी
 
व्याख्या:- ग्रीष्म ऋतु की अवधि मार्च से मध्य जून तक मानी जाती है इस ऋतु में मई व जून सर्वाधिक गर्म महीने होते हैं यह ऋतु शुष्क एवं गर्म होती है इस ऋतु में प्रायः धूल भरी आंधियां चला करती हैं यह गर्म व शुष्क हवाओं को लू कहते हैं तीव्र गामी पवनों के कारण कई बार काफी मात्रा में धूल कण उड़कर आकाश में छा जाते हैं जिससे आकाश का रंग पीला हो जाता है उत्तरी व पश्चिमी राजस्थान में इस ऋतु में आंधियां प्रायः प्रतिदिन चलती है

प्रश्न=18. भारत में कुल वर्षा का कितने प्रतिशत भाग दक्षिण पश्चिमी मानसून से प्राप्त होता है?
(अ) 10%
(ब) 30%
(स) 70%
(द) 90% ✔
 
व्याख्या:- दक्षिण पश्चिम मानसून पवने जल से स्थल की ओर चलने के कारण यह पवने अत्यंत आद्र होती है इसलिए भारत में व्यापक वर्षा होती है भारत में कुल वार्षिक वर्षा का लगभग 90% भाग ग्रीष्म ऋतु में प्राप्त होता है

प्रश्न=19. दक्षिण पठार का कोनसा भाग वृष्टि छाया क्षेत्र में आता हे ?
(अ) पूर्वी भाग ✔
(ब) पश्चिमी भाग
(स) दक्षिणी भाग
(द) उतरी भाग
 
व्याख्या:- अरब सागरीय मानसून पश्चिमी घाट पार करतें समय जल की कमी हो जाती हे बल्कि पूर्वी ढालो पर उतरते समय गर्म होकर ये पवने शुष्क भी हो जाती हे अतः वृष्टि छाया प्रभाव के कारण पश्चिमी घाट के पूर्वी ढालो और दक्षिण के पठार पर कम वर्षा होती हे पूर्व में चेन्नई तक पहुचने पर इनमे 38 सेमि. से भी कम वर्षा होती हे इस प्रकार दक्षिणी के पठार का पूर्वी भाग वृष्टि छाया प्रभाव में रहता हे।

प्रश्न=20. किस शाखा से मेघालय के मोसिनराम नामक स्थान पर 1300 सेमि. से भी अधिक वर्षा होती हे?
(अ) अरब सागरीय शाखा से
(ब) बंगाल की खाड़ी की शाखा से ✔
(स) पश्चिमि विक्षोभ से
(द) चक्रवाती वर्षा
 
व्याख्या:- बंगाल की खाड़ी के प्रारम्भ होकर इसकी एक शाखा हिमालय के पूर्वी भाग में काफी वर्षा करती हे यहाँ पर खासी की पहाड़ियो में स्थित मोसिनराम नामक स्थान पर 1300 सेमि. से भी अधिक वर्षा होती हे।वर्षा का औसत विश्व में सर्वाधिक हे।

प्रश्न=21. भारत में वर्षा के दिनों की संख्या सर्वाधिक किस क्षेत्र रहती हे?
(अ) कोलकाता ✔
(ब) चेन्नई
(स) मुम्बई
(द) कानपुर
 
व्याख्या:- भारत में वर्षा के दिनों की संख्या बहुत कम हे जेसे:- कोलकता में 118 दिन, चेन्नई में 55 दिन, मुम्बई में 75 दिन आदि । अतः सिंचाइ की आवशयकता होती हे

प्रश्न=22- भारत की जलवायु को प्रभावित करने वाले कारकों में से कौन सा एक नहीं है 
【अ】समुद्र से दूरी
【ब】समुद्र तल से ऊंचाई
【स】पवनों की दिशा
【द】ऋतु परिवर्तन ✔

व्याख्या:➖ भारत की जलवायु को प्रभावित करने वाले कारक निम्न है समुद्र तल से ऊंचाई, समुद्र से दूरी, भूमध्य रेखा से दूरी, पर्वतों की स्थिति, पवनों की दिशा, पर्वतों की दिशा, उच्च स्तरीय वायु संचरण। 

प्रश्न=23- हिमालय के दक्षिणी ढालो पर हिम रेखा की ऊंचाई अधिक होने का कारण क्या है 
【अ】भूमध्य रेखा से दूरी ✔
【ब】समुद्र तल से ऊंचाई
【स】समुद्र से दूरी
【द】पवन की दिशा

व्याख्या:➖ बढ़ते हुए अक्षांश के साथ तापमान में कमी आ जाती है क्योंकि सूर्य की किरणों का तिरछापन बढ़ता जाता है इसी कारण हिमालय के दक्षिणी डालो पर ही मिलेगा की ऊंचाई अधिक है। 

प्रश्न=24- प्रायद्वीपीय भारत की पश्चिमी घाट के पश्चिमी ढालो पर दक्षिण पश्चिम मानसून के द्वारा प्रचुर मात्रा में वर्षा होती है इसका क्या कारण है 
【अ】पर्वतों की दिशा
【ब】पर्वतों की स्थिति ✔
【स】पवनों की दिशा
【द】समुद्र से दूरी

व्याख्या:➖पश्चिमी घाट की स्थिति प्रायद्वीपीय भारत की पश्चिमी तट के निकट है इस कारण दक्षिण पश्चिम मानसून से इनकी पश्चिमी डालो पर प्रचुर वर्षा होती है जबकि इसके विपरीत ढाल एवं प्रायद्वीपीय पठार दक्षिण पश्चिम मानसून की वृष्टि छाया क्षेत्र में आते हैं। 

प्रश्न=25- शीत ऋतु में भारत में सर्वाधिक वायुदाब कहां पर होता है 
【अ】बिहार
【ब】उत्तरी पश्चिमी राजस्थान ✔
【स】उड़ीसा
【द】केरल

व्याख्या:➖ सर्दियों में संपूर्ण एशिया महाद्वीप के वायुदाब तंत्र में सर्वाधिक वायुदाब के 3 केंद्र हैं एक केंद्र बैकाल झील के पास दूसरा पाकिस्तान में पेशावर के निकट का तीसरा उत्तरी पश्चिमी राजस्थान में विकसित होता है। इस ऋतु में जलीय क्षेत्र अपेक्षाकृत उष्ण रहते हैं, अतः हिंद महासागर में निम्न दाब विकसित हो जाता है। 

प्रश्न=26- भारत में उत्तरी पूर्वी मानसून की दिशा होती है 
【अ】पश्चिम से पूर्व की ओर
【ब】दक्षिण से उत्तर की ओर
【स】स्थल से जल की ओर ✔
【द】जल से स्थल की ओर

व्याख्या:➖ पवनें उच्च दाब से निम्न दाब की ओर चलती हैं। भारत में शीत ऋतु में पवने स्थल से जल की ओर चलने लगती है। इन पवनों को उत्तरी पूर्वी मानसून के नाम से जाना जाता है। 

 

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

लालशंकर पटेल डूंगरपुर, धर्मवीर शर्मा अलवर, Vijay Pal Badhal