दो या दो से अधिक व्यक्तियों के बीच अपने पूर्वजों द्वारा किए गए संतान उत्पत्ति के आधार पर बनाया गया आपसे मधुर सद्भावनापूर्ण सुदृढ़ रिश्ता या संबंध रक्त संबंध कहलाता है

रक्त संबंध के अंतर्गत आपके रिश्ते संबंधी ज्ञान की जांच की जाती है इसके अंतर्गत किन्ही दो या दो से अधिक व्यक्तियों के संबंध दिए होते हैं और इन्हीं संबंधों के आधार पर किसी अन्य व्यक्ति का संबंध ज्ञात करना होता है

साधारणतया रक्त संबंधी प्रश्नों में सात पीढ़ियों के अंतर्गत ही प्रश्न पूछे जाते हैं रक्त संबंधी प्रश्नों को हल करते समय स्वयं को इन सात पीढ़ियों के ठीक बीच में रखना चाहिए अर्थात तीन पीढ़ी आपके ऊपर और तीन पीढ़ी आपकी नीचे होगी

पीढ़ी के अनुसार व्यक्तियों के बीच के संबंध का नाम नीचे दी गई तालिका में दर्शाया गया है– ????

ऊपर के प्रथम तीन पीढ़ी

1- तीन पीढ़ी ऊपर(⬆)– परदादा परदादी परनाना परनानी परदादा परनाना ससुर पर दादी सास पर नानी सास

2- दो पीढ़ियों ऊपर(⬆) दादा दादी नाना नानी दादा ससुर नाना ससुर दादी सासू नानी सासू

3- एक पीढ़ी ऊपर(⬆) पिता माता चाचा चाची बुआ फूफा मामा मम्मी मौसा मौसी सास ससुर

4- स्वयं की पीढ़ी(⬇)- पति पत्नी भाई बहन चचेरा चचेरी फूफेरा फूफेरी मौसेरा भाई मौसेरी बहन बहनोई साली का पति साले की पत्नी साला ननंद देवर देवरानी जेठानी जेठ ननंद नंदोई

5- एक पीढ़ी नीचे (⬇)- पुत्र-पुत्री भतीजा भतीजी भांजा भांजी दामाद पुत्रवधू

6- दो पीढी़ नीचे (⬇)- पोता पोती नाती नातिन पोति या नातिन का पति पोता या नाती की पत्नी

7- तीन पीढी़ नीचे (⬇)- परपोता परपोती परना ती पर नातिन पर पोतिया पर नातिन का पति परपोता या पन्ना ती की पत्नी

रक्त संबंधों को निरूपित करने के लिए तीर (⬆⬇)का प्रयोग किया जाता है जिससे जो संबंधित होता है उसे शीर्ष पर लिखते हैं जिस से संबंधित है उसे गर्त अथार्थ नीचे लिखते हैं तथा संबंध के शब्द को आधार पर लिखते हैं

जिस पीढ़ी का संबंध हो उसी के अनुरूप तीर को दर्शाया जाता है यदि ऊपरी पीढ़ी का संबंध हो तो “⬆”चिह्न से निचली पीढ़ी का संबंध हो तो “⬇”चिह्न से और सामान पीढ़ी का संबंध हो तो “➡”चिह्न से दर्शाया जाता है

रक्त संबंधों पर आधारित प्रश्नों को हल करने के लिए कुछ संकेतो की सहायता भी ली जाती है जिनमें से कुछ प्रमुख संकेत निम्न है ?

1- (+) =पुरुष
2- (-)=स्त्री
3- (+~-) पति पत्नी (विवाहित जोड़ा)
4- (-~+) पत्नी पति (विवाहित जोड़ा )
5- (+~+) भाई भाई
6- (-~-) बहन बहन
7- (+~-) भाई बहन
8- (-~+) बहन भाई
9- (+~+) पिता-पुत्र
10- (+~-) पिता पुत्री
11- (-~-) माता पुत्री
12- (-~+) माता पुत्र

रक्त संबंध पर आधारित प्रश्न

प्रथम प्रकार के प्रश्न— पहेली वार्तालाप संकेत तस्वीर पर आधारित रक्त संबंध

इसके अंतर्गत आने वाले प्रश्नों में सामान्यता एक या दो पीढ़ियों के संबंध पर आधारित कुछ जानकारियां दी गई होती है जो सीधे संबंधों को परोक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से घुमा-फिराकर प्रस्तुत की गई होती है आपको इसी जानकारी के आधार पर किन्ही दो अलग-अलग व्यक्तियों के बीच संबंध निरूपित करना होता है

उदाहरण-1—शंकर मीता का भाई है यदि शीला जो मीता की बहन है रमेश की भतीजी है तो शंकर का रमेश से क्या संबंध है ?

(अ)-भाई
(ब)-भतीजा ✔
(स)-पुत्र
(द)-पिता

व्याख्या:- क्योंकि शीला मीता की बहन है इसीलिए वह शंकर की भी बहन होगी और शंकर और मीता भाई-बहन है तथा शीला रमेश की भतीजी है अतः शंकर रमेश का भतीजा होगा

उदाहरण-2– एक औरत की तस्वीर दिखाते हुए एक व्यक्ति ने कहा कि वह मेरे इकलौते पुत्र की सास की इकलौती लड़की है औरत का उस व्यक्ति से क्या संबंध है ?

(अ)-सास
(ब)-बेटी
(स)-पत्नी
(द)-बहू ✔

व्याख्या:- अतः व्यक्ति के इकलौते बेटे की सांस की इकलौती बेटी उसके बेटे की पत्नी अथार्थ व्यक्ति की बहू होगी

द्वितीय प्रकार के प्रश्न– प्रतीकात्मक गणितीय संकेतों पर आधारित रक्त संबंध-

इसके अंतर्गत पूछे जाने वाले प्रश्न सामान्य तक गणितीय/ संकेतों से संबंधित होते हैं इस प्रकार के प्रश्नों को हल करने से पहले दिए गए प्रतीकात्मक गणितीय संकेतों का अर्थ भली-भांति समझ लेना चाहिए और उसके बाद ही प्रश्नों को हल करना चाहिए

इस प्रकार के प्रश्नों में प्रत्येक गणितीय संकेत चिह्न का सही अर्थ जानने में सदैव चिह्न के साथ-साथ यह ध्यान रखना होता है कि चिह्न के बाएं या दाएं और में से किस और के व्यक्ति बताए गए संबंधों से संबंधित हैं प्रश्नों में दी गई जानकारी के आधार पर ही प्रतीकात्मक गणितीय चिन्हों के अर्थ को समझा जाता है

जैसे— ए + बी का अर्थ है कि ए बी का पिता है यहां ए और बी का महत्व नगण्य है इसे केवल बाएं और दाएं की स्पष्टता के लिए दिया गया है अर्थात + का अर्थ पिता है

ए पिता है अर्थात + के बाएं जिसका नाम होगा वह दाएं वाले का पिता होगा

ऐसी स्थिति में ए पिता है यह निश्चित है लेकिन बी पुत्र है या पुत्री यह निश्चित नहीं होता

इसी प्रकार ए + बी का अर्थ है b.a. का पिता है यहां के दाएं जिसका नाम होगा वह बाएं वाले का पिता होगा

किसी सांकेतिक भाषा में ए+ बी का अर्थ है की ए बी का पिता है तो ऐसी स्थिति में ए पिता है और पुल्लिंग है यह निश्चित है लेकिन बी पुत्र या पुत्री यह निश्चित नहीं है

उदाहरण- ए – बी का अर्थ है कि ए भाई है बी का; ‘ए× बी का अर्थ है कि ए मां है बी की, तो “एम-आर×डी में एम डी से किस प्रकार संबंधित है ?

(अ)- माता
(ब)- चाचा
(स)- पिता
(द)- मामा✔

स्मरणीय तथ्य (Points to Remember)?

⏭माता या पिता का पुत्र ↪भाई (Brother)
⏭माता या पिता की पुत्री↪बहन (Sister)
⏭माता और पिता का भाई↪क्रमशः मामा और चाचा (Uncle)
⏭माता और पिता की बहन ↪क्रमशः मौसी और बुआ (Aunt)
⏭माता और पिता की माँ ↪क्रमशः नानी और दादी (Grandfather)
⏭माता और पिता के पिता↪ क्रमशः नाना और दादा (Grandfather)
⏭पुत्र की पत्नी↪ बहू (daughter-in-law)
⏭पुत्री का पति↪ दामाद (Son-in-law)
⏭पति या पत्नी का भाई↪ क्रमशः देवर और साला (brother-in-law)
⏭पति या पत्नी की बहन ↪क्रमशः ननद और साली (Sister-in-law)
⏭भाई की पुत्री↪भतीजी (Niece)
⏭भाई का पुत्र↪भतीजा (Nephew)
⏭चाचा/चाची का पुत्र/पुत्री↪चचेरा भाई/बहन (Cousin)
⏭फुफा/बुआ का पुत्र/पुत्री↪फूफेरा भाई/ बहन (Cousin)
⏭मौसा/मौसी का पुत्र/पुत्री↪मौसेरा भाई/बहन (Cousin)
⏭बहन का पति↪बहनोई (Brother-in-Law)
⏭भाई की पत्नी↪भाभो या भाभी (Sister-in-law)
⏭इकलौता पुत्र/बहन↪ एकमात्र पुत्री/बहन (Only Daughter/Siter)
⏭इकलौता पुत्र/भाई↪ एकमात्र पुत्र/भाई (Only Son/Brother)
⏭न भाई न बहन ↪स्वयं (Self)

 

Play Quiz 

No of Questions-25

[wp_quiz id=”2653″]

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

विजय कुमार महला झुंझुनूं, MAMTA SHARMA KOTA, जोगाराम बेनिवाल मेहलू बाड़मेर, चिराग बालियान, S.L Gurjar, जेठाराम जी

One thought on “BLOOD RELATION ( रिश्ता सम्बन्धी )”

Leave a Reply

Your email address will not be published.