Geography Quiz Questions and Answer : 02

भूगोल : हॉर्टशार्न, हंटिंगटन, ब्लॉश एवं कार्ल सोवर का योगदान

1 – निम्न में से सावर की रचनाएं कौन से हैं
(अ) जैविक विश्व का मानवीय उपयोग
(ब) सांस्कृतिक भूगोल
(स) दृश्य से भूमि का स्वरूप
(द) सभी ✔

2 – निम्न में से ब्लास की रचना कौन सी नहीं है
(अ) यूरोप के ऐतिहासिक एवं भौगोलिक परिवेश पर तैयार की गई एटलस
(ब) फ्रांस का भूगोल
(स) आर्थिक सामाजिक भूगोल ✔
(द) पूर्वी फ्रांस का भूगोल

3. हार्टशोर्न का भूगोल में सर्वाधिक महत्वपूर्ण योगदान माना जाता है?
(अ) मानव व वातावरण के मध्य सामंजस्य स्थापित करना
(ब) भूगोल की संकल्पना काल व विधि तंत्र स्वरूप की व्याख्या प्रस्तुत करना  ✔
(स) भौतिक दशाओं में परस्पर एकता व संबंध को स्वीकार करना
(द) किसी क्षेत्र में रहने वाले मानव समूहों द्वारा दीर्घकाल में विकसित विशिष्ट जीवन पद्धति क्षेत्र विकसित करना

व्याख्या:- रिचर्ड हार्टशोर्न अमेरिकन भूगोलवेत्ता व आधुनिक विद्वान माने जाते हैं और यह संभव्वादी भूगोलवेत्ता भी माने जाते हैं किटोनिग 【पेंसिलवेनिया】 अमेरिका में जन्म हुआ प्रिंसटन विश्वविद्यालय में स्नातक करने के पश्चात शिकागो विश्वविद्यालय से शोध कार्य किया आगे चलकर मिनोसेटा विस्कॉन्सिन विश्वविद्यालय में भूगोल के प्रोफेसर बने हॉटशोर्न का भूगोल में सर्वाधिक महत्वपूर्ण योगदान भूगोल की संकल्पना काल वह विधितंत्रीय स्वरूप की व्याख्या प्रस्तुत करना माना जाता है

4. हार्टशोर्न के अनुसार क्षेत्रीय विज्ञान का रूप नहीं है ?
(अ) खगोल विज्ञान
(ब) भूगर्भ विज्ञान
(स) जलाशय भू दृश्य
(द) पृथ्वी सतह

(स)✔
व्याख्या:– हॉटशोर्न द्वारा भूगोल में क्षेत्रीय विभेदीकरण की संकल्पना का पोषण किया भूगोल को हार्ट शोर्न ने स्थानिक विज्ञान【Special science 】 का रूप माना है हार्टशोर्न क्षेत्रीय विज्ञान के तीन रूप बताएं- 1. खगोल विज्ञान 2. भूगर्भ विज्ञान 3. पृथ्वी सतह/ तल

पृथ्वी सतह के अंतर्गत हार्टशोर्न स्थलमंडल, जलमंडल और वायुमंडल को सम्मिलित किया है

5. हार्टशोर्न के अनुसार “द्वैतवाद” से भूगोल को क्या लाभ होता हे ?
(अ) द्वैतवाद से भूगोल को लाभ होता है
(ब) द्वैतवाद से भूगोल को हानि उठानी पड़ती है
(स) द्वैतवाद से भूगोल और अन्य विषयों में सामंजस्य बना रहता है
(द) द्वैतवाद से भूगोल का विकास सर्वाधिक होता

(ब)✔
व्याख्या:- हार्ट शोर्न के अनुसार भूगोल की अन्य महत्वपूर्ण संकल्पना भू दृश्य की संकल्पना ( Landscape ) है इन्होंने कार्ल सावर के द्वारा प्रस्तुत यह विचार स्वीकार कर लिया और भू दृश्य के दो प्रकार माने

  1. प्राकृतिक भू दृश्य
  2. सांस्कृतिक भू दृश्य

हार्टशोर्न भूगोल में द्वैतवाद को अस्वीकृत कर दिया उनके अनुसार “प्राकृतिक तत्वों से मानवीय तत्वों से और क्रम बद्ध पद्धति को प्रादेशिक पद्धति से अलग नहीं किया जा सकता हे” उनके अनुसार द्वैतवाद से भूगोल को ही हानि उठानी पड़ती है

प्रश्न=26.निम्न में से हार्ट शोर्न की रचना नहीं हे ?
(अ) दी नेचर ऑफ़ जियोग्राफी
(ब) पर्सपेक्टिव ऑन दी नेचर ऑफ़ जियोग्राफी
(स) दा एकेडमिक सिटीजन
(द) मार्फोलॉजी ऑफ़ लेंडस्केप

(द)✔
व्याख्या:- हार्ट शोर्न का प्रमुख योगदान निम्न हे-
1. दी नेचर ऑफ़ जियोग्राफी【1932】
2. पर्सपेक्टिव ऑन द नेचर ऑफ ज्योग्राफी 【1959】 – उक्त दोनों पुस्तकों में हार्टशोर्न भूगोल की विस्तृत संकल्पना और विधि तंत्र की व्याख्या की
3. द एकेडमिक सिटीजन रिसेट डेवलपमेंट इन पॉलीटिकल ज्योग्राफी 【1935】
5. राजनीति भूगोल के संदर्भ में उन्होंने कई महत्वपूर्ण लेख प्रकाशित किए
6. पॉलीटिकल जॉग्राफी इंन दा मॉडर्न वर्ल्ड 【1960】
7. सजेशन ऑन दी टर्मिनोलॉजी ऑफ पॉलीटिकल ज्योग्राफी

प्रश्न=27. सांस्कृतिक भूगोल के पिता कहा जाता है?
(अ) हार्टशोर्न को
(ब) कार्ल सावर को
(स) हंटिंगटन को
(द) विडाल डी ला ब्लास को

(अ)✔
व्याख्या:- अमेरिकन भूगोलवेत्ता सावर 【1889 – 1975】 को सांस्कृतिक भूगोल के पिता कहा जाता है उनका जन्म मिसौरी प्रांत 【अमेरिका】 में हुआ इनके द्वारा शोध कार्य शिकागो विश्वविद्यालय में किया गया यह मिशीगन व कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय में यह भूगोल के प्रोफेसर रहे

प्रश्न=28. सावर का सर्वाधिक योगदान माना जाता है ?
(अ) लैंडस्केप में
(ब) भूगर्भ विज्ञान में
(स) मानव के संपूर्ण विकास में
(द) विधि तंत्र व संकल्पनाओ का

(द)✔
व्याख्या:- सावर का सर्वाधिक योगदान भूगोल के विधि तंत्र व संकल्पनाओं का माना जाता है सावर द्वारा अमेरिकी भूगोल में संभववादी व नव निश्चयवादी दृष्टिकोण से मानव भूगोल का विस्तृत अध्ययन किया गया

प्रश्न=29. कार्ल सावर मानव भूगोल की प्रकृति में समय के अनुसार निम्न प्रकार से परिवर्तन मानते हैं उनमें से वह परिवर्तन नहीं है ?
(अ) वातावरण द्वारा मानव पर नियंत्रण
(ब) वातावरण द्वारा मानव पर प्रभाव
(स) मानव द्वारा वातावरण के प्रतिउत्तर
(द) वातावरण द्वारा मानव का स्थल रूप

(द)✔
व्याख्या:- कार्ल सावर मानव भूगोल की प्रकृति में समय के अनुसार निम्न प्रकार से परिवर्तन मानते हैं-
1. वातावरण द्वारा मानव पर नियंत्रण
2. वातावरण द्वारा मानव पर प्रभाव
3. मानव द्वारा वातावरण को प्रतिउत्तर
4. मानव व वातावरण के मध्य सामंजस्य

प्रश्न=30. कार्ल सावर ने नव निश्चयवाद को कहा ?
(अ) प्रेजेंट डे डिटरमिनिज्म
(ब) कैरेक्टर ऑफ रेसेज
(स) जैन- रे- डी- वी
(द) टेबेलो – डी – ला

(अ)✔
व्याख्या:- कार्ल सावर नव निश्चयवाद को प्रेजेंट डे डिटरमिनिज्म 【आधुनिक / वर्तमान का निश्चयवाद】 कहां है
सावर द्वारा हेटनर की भू- विस्तार संकल्पना का समर्थन किया गया जिससे इन्होंने क्षेत्रीय विभेदीकरण शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग करते हुए विस्तार से समझाया 【भू- विस्तार – क्रोरोलॉजी】

प्रश्न=31. “लैंडस्केप” की संकल्पना का प्रतिपादन किया ?
(अ) हार्टशोर्न
(ब) कार्ल सावर
(स)हंटिंगटन ने
(द)विडाल डी ला ब्लास ने

(ब)✔
व्याख्या:- कार्ल सावर द्वारा “भू दृश्य”【लैंडस्केप】 की संकल्पना का प्रतिपादन किया गया इनके अनुसार भूदृश्य दो प्रकार के होते हैं- 1.प्राकृतिक दृश्य और 2.सांस्कृतिक भूदृश्य

प्रश्न=32. “कल्चरल हर्थ” शब्द का सर्वप्रथम प्रयोग किया गया ?
(अ) फेब्रे द्वारा
(ब) सावर द्वारा
(स) हटीगटन द्वारा
(द) पेज द्वारा

(ब)✔
व्याख्या:- कार्ल सावर ने “कल्चरल हर्थ” का सर्वप्रथम प्रयोग किया इससे अभिप्राय सांस्कृतिक उद्गम केंद्र होता है
सावर द्वारा मानव भूगोल को सांस्कृतिक भूगोल के रूप में प्रारंभ में संभव वादी से उसके बाद नव निश्चय वादी दृष्टिकोण से अध्ययन किया गया

प्रश्न=33. निम्न में से कार्ल सावर से संबंधित ग्रंथ नहीं है ?
(अ) लैंड एंड लाइफ
(ब) मोरफ़ोलॉजी ऑफ ऑर्गेनिक वर्ल्ड
(स) मोरफ़ोलॉजी ऑफ लैंडस्केप
(द) दी पल्स ऑफ एशिया

(द)✔
व्याख्या:- कार्ल सावर के प्रमुख ग्रंथ निम्न है-
1. लैंड एंड लाइफ 2. हुमैन यूजेज़ ऑफ ऑर्गेनिक वर्ल्ड 3. मार्फोलॉजी ऑफ ऑर्गेनिक वर्ल्ड
4. मोरफ़ोलॉजी ऑफ लैंडस्केप

प्रश्न=34. हटिंगटन द्वारा लिखित ग्रंथ नहीं है ?
(अ)सिविलाइजेशन एंड क्लाइमेट
(ब) प्रिंसिपल ऑफ हुमन ज्योग्राफी
(स) कैरेक्टर को रेशेज
(द) एटलस ऑफ यूरोप

(द)✔
व्याख्या:- हटिंगटन महोदय महान अमेरिकन भूगोलवेत्ता 【1876 – 1947】 था और उन्होंने भूगोल को निश्चय वादी दृष्टिकोण से प्रस्तुत किया
इनके द्वारा मानव व मानव सभ्यता पर जलवायु के प्रभाव की स्पष्ट व्याख्या की गई उनके द्वारा लिखित ग्रंथ व रचनाएं निम्न है-
1. पीपल्स ऑफ एशिया
2. सिविलाइजेशन एंड क्लाइमेट
3. प्रिंसिपल ऑफ हुमन ज्योग्राफी
4. कैरेक्टर ऑफ रेसेज
5. इकोनॉमिक्स एंड सोशियल ज्योग्राफी

प्रश्न=35. हटिंगटन भूगोलवेत्ता द्वारा कितने प्रकार की भौतिक दशा मानी है?
(अ) तीन प्रकार की
(ब) चार प्रकार की
(स) पांच प्रकार की
(द) छः प्रकार की

(स)✔
व्याख्या:- हंटिंगटन ने भौतिक दशाएं पांच प्रकार की दर्शाई है- 1. भूमंडल पर अवस्थित है
2. स्थलरूप 【लैंडस्केप】 3. जलवायु 4 मृदा व खनिज पदार्थ 5 जलाशय

प्रश्न=36. हटिंगटन ने मानव के प्रति कितने प्रकार की श्रेणियां बताइ?
(अ) 12
(ब) 18
(स) 22
(द) 27

(स)✔
व्याख्या:- हटिंगटन ने भौतिक दशाओं का जीवन के प्रकारों के विभिन्न माननीय प्रतिक्रियाओं को उत्पन्न मानते हैं इन्हें वर्ग 4 वर्ग में विभक्त कर कुल 22 श्रेणियों में स्वीकार करते हैं-
1. भौतिक व मूलभूत आवश्यकता है 【कुल 5】
2. प्रमुख व्यवसाय【 कुल 8】
3. कार्यकुशलता 【कुल 3】 4. उच्चतर आवश्यकता है 【कूल 6】

प्रश्न=37.हटिंगटन महोदय के अनुसार मानव के संपूर्ण विकास के लिए उपयुक्त तापमान रहता है ?
(अ) 4.4 डिग्री सेल्सियस से 21 डिग्री सेल्सियस
(ब) 6.4 डिग्री सेल्सियस से 15 डिग्री सेल्सियस
(स) 8.4 डिग्री सेल्सियस से 15 डिग्री सेल्सियस
(द) 9.4 डिग्री सेल्सियस से 17 डिग्री सेल्सियस

(अ)✔
व्याख्या:- हंटिंगटन महोदय के अनुसार मानव की संपूर्ण विकास के लिए उपयुक्त-
तापमान 4.4 डिग्री सेल्सियस से 21 डिग्री सेल्सियस रहता है
उनके अनुसार मानव बुद्धि / मानसिक विकास हेतु उपयुक्त तापमान लगभग 58 डिग्री फॉरेनहाइट होता है जबकि शारीरिक ल पूर्ण विकास के लिए उपयुक्त तापमान 15 डिग्री सेल्सियस स्वीकार किया

प्रश्न=38.जेनरे-डी-वि की सनकल्पना किसने दी थी ?
(अ) हम्बोल्ट
(ब) ब्लाश
(स) हटिंगटन
(द) शावर

(ब)✔
व्याख्या:- जेनरे-डी-वि की सनकल्पना:- ब्लाश महोदय के अनुसार किसी क्षेत्र में रहने वाले मानव समूह द्वारा दीर्घकाल में विकसित विशिष्ट जीवन पद्धति क्षेत्र जेनरे- डी- वि कहलाता हे और भूगोल का अध्ययन इस आधार पर किया जाना चाइये।

Specially thanks to Post and Quiz Creator ( With Regards )

लालशंकर पटेल डूंगरपुर, धर्मवीर शर्मा अलवर, कमलेश