Indian Geography : Iron and Steel Industry

भारत के प्रमुख लौह इस्पात उद्योग

प्रश्न=1. भिलाई संयंत्र की स्थापना पूर्व सोवियत संघ 【रूस】 के सहयोग से छत्तीसगढ़ के किस जिले में की गई थी ?
(अ) रायपुर
(ब) दुर्ग
(स) बिलासपुर
(द) बालाघाट

(ब)✔
व्याख्या:- हिंदुस्तान स्टील लिमिटेड भिलाई की स्थापना पूर्व सोवियत संघ (रूस) के सहयोग से छत्तीसगढ़ के दुर्ग जिले में की गई थी जिसमें 1959 इसमें उत्पादन प्रारंभ हुआ और यह संयंत्र कोलकाता – मुंबई रेल मार्ग पर स्थित है।

प्रश्न=2. भिलाई संयंत्र को लोह अयस्क तीन खानों से प्राप्त होता है?
(अ) डल्ली – राजहरा खानों से
(ब) कोरबा की खानों से
(स) करगाली की खानों से
(द) झरिया की खानों से

(अ)✔
व्याख्या:- भिलाई संयंत्र को लौह अयस्क डल्ली – राजहरा खानों से तथा कोयला कोरबा और करगाली खानों से प्राप्त होता है इस संयंत्र को जल तंदूला बांध से और विद्युत शक्ति कोरबा ताप शक्ति ग्रहों से प्राप्त होती है इस संयंत्र से उत्पादित इस्पात का अधिकांश भाग विशाखापट्टनम स्थित हिंदुस्तान शिपयार्ड में चला जाता है।

प्रश्न=3. दुर्गापुर इस्पात संयंत्र के द्वारा उत्पादन कब से प्रारंभ किया गया?
(अ) 1959 ईस्वी में
(ब) 1962 ईस्वी में
(स) 1964 ईस्वी में
(द) 937 ईस्वी में

(ब)✔
व्याख्या:- दुर्गापुर इस्पात संयंत्र यूनाइटेड किंग्डम (ब्रिटेन) के सहयोग से पश्चिम बंगाल के आसनसोल में वर्द्धमान जिले के समीप स्थापित किया गया था सन 1962 में इससे उत्पादन प्रारंभ हो गया।

प्रश्न=4. दुर्गापुर इस्पात संयंत्र किस कोयला पेटी में स्थित है?
(अ) रानीगंज और झरिया कोयला पेटी में
(ब) रानीगंज और नोआमुंडी कोयला पेटी में
(स) झरिया और सुंदरगढ़ कोयला पेटी में
(द) रानीगंज और क्योझर कोयला पेटी में

(अ)✔
व्याख्या:- दुर्गापुर इस्पात संयंत्र रानीगंज और झरिया कोयला पेटी में स्थित है  इस संयंत्र को लौह अयस्क नोआमुंडी से प्राप्त होता है

प्रश्न=5. दुर्गापुर इस्पात संयंत्र को जल विद्युत शक्ति कहां से प्राप्त होती है ?
(अ) स्वर्णरेखा वह खारकोई नदी से
(ब) दामोदर घाटी कारपोरेशन से
(स) ब्रह्माणी नदी से व शंख नदी पर बने बांध से
(द) तंदूला नहर और गोंदली जलास्य से

ब)✔
व्याख्या:- दुर्गापुर इस्पात संयंत्र दुर्गापुर – कोलकाता – दिल्ली रेलवे मार्ग पर स्थित है इस संयंत्र को जल विद्युत शक्ति दामोदर घाटी कारपोरेशन (डी. वी. सी.) से प्राप्त होता है।

प्रश्न=6. भारत में लोह इस्पात का ऐसा कौनसा कारखाना है जिसमे ऑस्ट्रेलिया से कोयला आयात किया जाता है?
(अ) जमशेदपुर
(ब) दुर्गापुर
(स) भिलाई
(द) विशाखापट्टनम

(द)✔
व्याख्या:- विशाखापट्टनम कारखाने में लोह अयस्क बैलाडीला की खान से प्राप्त किया जाता हे और कोयला आस्ट्रेलिया से आयात किया जाता हे चुना पत्थर छत्तीसगढ़ क्षेत्र से प्राप्त किया जाता हे

प्रश्न=7. निम्न में से कौन सा लौह इस्पात कारखाने स्वतंत्रता से पूर्व स्थापित हुए थे?
(अ) कुल्टी (पश्चिम बंगाल)
(ब) साकची (झारखंड)
(स) भद्रावती (कर्नाटक)
(द) उपरोक्त सभी

(द)✔
व्याख्या:- स्वतंत्रता से पूर्व स्थापित होने वाले लोहा इस्पात के कारखाने निम्न है-
1. कुल्टी (पश्चिम बंगाल) – 1874
2. साकची (झारखंड) – 1907
3. हीरापुर (पश्चिम बंगाल) – 1908
4. भद्रावती (कर्नाटक) – 1823
5. बर्नपुर (पश्चिम बंगाल) – 1937

प्रश्न=8. भारत में आधुनिक लोह इस्पात कारखाने की शुरुआत किस कारखाने की स्थापना से मानी जाती है?
(अ) कुल्टी
(ब) साकची
(स) भद्रावती
(द) बर्नपुर

(ब)✔
व्याख्या:- साकची लोह इस्पात कारखाना झारखंड में स्थित है जिसकी स्थापना 1907 ईस्वी में हुई थी यह कारखाना जमशेदजी टाटा द्वारा स्थापित किया गया था भारत में आधुनिक लौह इस्पात कारखाने की शुरुआत यहीं से मानी जाती है

प्रश्न=9. वह कौनसा लोह इस्पात का कारखाना है जो स्टील कॉरपोरेशन ऑफ बंगाल के नाम से स्थापित किया गया था किंतु बाद में इंडियन आयरन एंड स्टील कंपनी में इसका विलय कर दिया गया?
(अ) बर्नपुर
(ब) भद्रावती
(स) विशाखापत्तनम
(द) हीरापुर

(अ)✔
व्याख्या:- बर्नपुर कारखाने की स्थापना पश्चिम बंगाल में 1937 ई. में की गई थी यह स्टील कॉरपोरेशन ऑफ बंगाल के नाम से स्थापित किया गया था किंतु बाद में इंडियन आयरन एंड स्टील कंपनी में इसका विलय कर दिया गया।

प्रश्न=10. बोकारो इस्पात संयंत्र की स्थापना कब की गई थी ?
(अ) 1961 ईस्वी में
(ब) 1962 ईस्वी में
(स) 1964 ईस्वी में
(द) 1972 ईस्वी में

(स)✔
व्याख्या:- बोकारो इस्पात संयत्र रूस के सहयोग से 1964 ईस्वी में बोकारो और दामोदर नदियों के संगम पर बोकारो में स्थापित किया गया था सन 1972 ईस्वी में इससे उत्पादन प्रारंभ हुआ

प्रश्न=11. कौन सा संयंत्र परिवहन लागत न्यूनीकरण सिद्धांत के आधार पर स्थापित किया गया था ?
(अ) भिलाई संयंत्र
(ब) कुल्टी संयंत्र रा
(स) भिलाई संयंत्र
(द) बोकारो संयंत्र

(द)✔
व्याख्या:- बोकारो संयंत्र की स्थापना परिवहन लागत न्यूनीकरण सिद्धांत के आधार पर की गई थी जिसके अनुसार बोकारो और राउरकेला संयुक्त रूप से राउरकेला प्रदेश में लोह अयस्क प्राप्त करते हैं और वापसी में मालगाड़ी के डिब्बे राउरकेला के लिए बोकारो क्षेत्र से कोयला ले जाते हैं इस संयंत्र को जल और जल विद्युत शक्ति की आपूर्ति दामोदर घाटी कारपोरेशन द्वारा की जाती है

प्रश्न=12. 24 जनवरी 1973 ईस्वी को कितने करोड़ की पूंजी के साथ भारत इस्पात प्राधिकरण लिमिटेड को संचालन करने की जिम्मेदारी दी गई थी?
(अ) 2000 करोड़
(ब) 3000 करोड़
(स) 4000 करोड़
(द) 5000 करोड़

(अ)✔
व्याख्या:- 24 जनवरी 1973 ईस्वी को 2000 करोड़ की पूंजी के साथ भारत इस्पात प्राधिकरण लिमिटेड (सेल) को भिलाई दुर्गापुर बोकारो राउरकेला बर्नपुर सलेम एवं विश्वेश्वरय्या लोह इस्पात कारखाना को एक साथ मिलाकर संचालन करने की जिम्मेदारी दी गई थी

प्रश्न=13. वर्ष 2014 में भारत का विश्व इस्पात उत्पादक देश में कौन सा स्थान था?
(अ) दूसरा
(ब) चौथा
(स) सातवा
(द) 9 वा

(ब)✔
व्याख्या:- वर्ष 2014 ईस्वी में भारत चीन जापान तथा यूएसए के बाद विश्व का चौथा सबसे बड़ा इस्पात उत्पादक देश है स्पंज आयरन के उत्पादन में भारत का विश्व में प्रथम स्थान है

प्रश्न=14. चतुर्थ पंचवर्षीय योजना के दौरान स्थापित किए गए तीन नए इस्पात संयंत्र कच्चे माल स्रोतों से दूर हैं और वह सभी दक्षिण भारत में है उनमें से वह कौन सा संयंत्र नहीं है?
(अ) विजाग इस्पात संयंत्र
(ब) विजयनगर इस्पात संयंत्र
(स) सलेम इस्पात संयंत्र
(द) मैसूर इस्पात संयंत्र

(द)✔
व्याख्या:- चतुर्थ पंचवर्षीय योजना के दौरान स्थापित तीन नए इस्पात संयंत्र कच्चे माल स्रोतों से दूर है यह संयत्र दक्षिण भारत में स्थापित है जो निम्न है –
1. विजाग इस्पात संयंत्र आंध्र प्रदेश
2. विजयनगर इस्पात संयंत्र कर्नाटक
3. सलेम इस्पात संयंत्र तमिलनाडु

प्रश्न=15. वह कौनसा कारखाना है जो पहला पत्तन आधारित संयंत्र है और भारत का पहला तटवर्ती कारखाना भी है?
(अ) विजाग इस्पात संयंत्र विशाखापट्टनम आंध्र प्रदेश
(ब) विजयनगर इस्पात संयंत्र हॉस्पेट – बेल्लारी कर्नाटक
(स) सेलम इस्पात संयंत्र तमिलनाडु
(द) इनमें से कोई नहीं

(अ)✔
व्याख्या:- विजाग इस्पात संयंत्र विशाखापट्टनम आंध्र प्रदेश में स्थित पहला पत्तन आधारित संयंत्र है जिसकी शुरुआत 1992 में हुई थी यह भारत का पहला तटवर्ती कारखाना भी है।

प्रश्न=16. वह कौनसा संयंत्र हैं जिसमें स्वदेशी तकनीकी का उपयोग किया जा रहा है?
(अ) विजाग इस्पात संयंत्र
(ब) विजयनगर इस्पात संयंत्र
(स) सेलम इस्पात संयंत्र
(द) भिलाई इस्पात संयंत्र

(ब)✔
व्याख्या:- विजयनगर इस्पात संयंत्र को हॉस्पेट में विकसित किया गया इसमें स्वदेशी तकनीकी का उपयोग किया जा रहा है

प्रश्न=17. सेलम इस्पात संयंत्र की स्थापना कब की गई थी ?
(अ) 1964
(ब) 1965
(स) 1980
(द) 1982

(द)✔
व्याख्या:- सेलम इस्पात संयंत्र तमिलनाडु में 1982 ईस्वी में प्रारंभ किया गया था इस मुख्य इस्पात संयंत्रों के अतिरिक्त देश के विभिन्न भागों में 206 से अधिक अन्य इकाइयां स्थापित की गई।

प्रश्न=18. सर्वोत्तम किस्म का लोह अयस्क निम्न में से कौनसा है?
(अ) मैग्नेटाइट
(ब) हेमेटाइट
(स) लिमोनाइट
(द) सीडेराइट

(अ)✔
व्याख्या:- मैग्नेटाइट लौह अयस्क काले रंग का होता है इसमें धातु का अंश 72% तक होता है यह सर्वोत्तम किस्म का लोह अयस्क है भारत में यह दक्षिण पूर्वी सिंहभूम कर्नाटक (कुद्रेमुख) तमिलनाडु (सेलम) एवं आंध्र प्रदेश में मुख्य रूप से पाया जाता है

प्रश्न=19. लाल या भूरे रंग का कौनसा लोह अयस्क पाया जाता है ?
(अ) हेमेटाइट
(ब) मैग्नेटाइट
(स) सीडेराइट
(द) लिमोनाइट

(अ)✔
व्याख्या:- हेमेटाइट लोह अयस्क लाल या भूरे रंग का होता है जिसमें धातु का अंश 60 से 70% तक होता है भारत में कुल संचित भंडार का 2/3 से भी अधिक लोह अयस्क इसी प्रकार का है यह मुख्यतः झारखंड (सिंहभूम) उड़ीसा (मयूरभंज क्योंझर सुंदरगढ़) महाराष्ट्र कर्नाटक गोवा में पाया जाता

प्रश्न=20. किस लौह अयस्क का रंग पीला होता है ?
(अ) मैग्नेटाइट
(ब) हेमेटाइट
(स) लिमोनाइट
(द) सीडे राइट

(स)✔
व्याख्या:- लिमोनाइट लोह इसको में धातु का अंश 10% से 40% तक होता है इसका रंग पीला होता है यह परतदार चट्टानों में पाया जाता है यह पश्चिम बंगाल के रानीगंज क्षेत्र में पाया जाता है

प्रश्न=21. किस लौह अयस्क में लोहे एवं कार्बन का मिश्रण होता है ?
(अ) लिमोनाइट
(ब) मैग्नेटाइट
(स) सीडेराइट
(द) हेमेटाइट

(स)✔
व्याख्या:- सीडे राइट लोह अयस्क में लोहे एवं कार्बन का मिश्रण होता है इसमें धातु का अंत 48% तक होता है लिमोनाइट एवं सीडे राइट निम्न कोटि का लौह अयस्क है

प्रश्न=22. भारतीय भूगर्भ विभाग के अनुसार भारत में लोहे का अनुमानित भंडार 3200 करोड़ टन है जिसमें से जिसमें सर्वाधिक संचित भंडार किस लौह अयस्क का पाया जाता है?
(अ) मैग्नेटाइट
(ब) हेमेटाइट
(स) लिमो नाइट
(द) सीडी राइट

(ब)✔
व्याख्या:- भारतीय भूगर्भ विभाग के अनुसार भारत में लोहे का अनुमानित भंडार 3200 करोड़ टन का है जिसमें 85% हेमेटाइट 8% मैग्नेटाइट एवं 7% अन्य प्रकार के है भारत में हेमेटाइट का सबसे बड़ा संचित भंडार है विश्व का लगभग 20% लोह अयस्क भारत में संचित है भारतीय लौह अयस्क उत्तम कोटि का है एवं इसमें गंधक की मात्रा काफी कम (0.6% से भी कम) होती है

प्रश्न=23. भारत के किस राज्य में उच्च कोटि का हेमेटाइट अयस्क पाया जाता है ?
(अ) झारखंड
(ब) उड़ीसा
(स) छत्तीसगढ़
(द) कर्नाटक

(अ)✔
व्याख्या:- झारखंड राज्य में लोहा मुख्यतः सिंहभूम जिले में पाया जाता है यहां उच्च कोटि का हेमेटाइट अयस्क पाया जाता है नोआमुंडी गुआ जामदा एवं मनोहरपुर सिंहभूम जिले लोहा खनन के मुख्य केंद्र हैं

प्रश्न=24. बैलाडीला से लौह अयस्क किस देश को निर्यात किया जाता है?
(अ) अमेरिका
(ब) ईरान
(स) जापान
(द) ऑस्ट्रेलिया

(स)✔
व्याख्या:- छत्तीसगढ़ में बस्तर जिले का बैलाडीला एवं राव घाट तथा दुर्ग जिले का डल्ली – राजहरा महत्वपूर्ण उत्पादक क्षेत्र हैं बैलाडीला से लौह अयस्क जापान को निर्यात किया जाता है।

प्रश्न=25. कुद्रेमुख क्षेत्र से लोहे का निर्यात किस देश को किया जाता है ?
(अ) ईरान
(ब) जापान
(स) जर्मनी
(द) अमेरिका

(अ)✔
व्याख्या:-कर्नाटक में चिकमंगलूर जिले की बाबा बुदन पहाड़ी एवं कुन्द्रेमुख क्षेत्र बेलारी जिले का हॉस्पेट संदूर क्षेत्र के अलावा चित्रदुर्ग व शिमोगा जिले से भी लौह अयस्क को प्राप्त किया जाता है कुन्दरेमुख क्षेत्र से लोहे का निर्यात ईरान को किया जाता है

प्रश्न=26. भारत में मैग्नेटाइट लौह अयस्क का संचित भंडार किस राज्य में पाया जाता है?
(अ) कर्नाटक
(ब) तमिल नाडु
(स) आंध्र प्रदेश
(द) केरल

(अ)✔
व्याख्या:- भारत में मैग्नेटाइट लौह अयस्क का कुल संचित भंडार 273 करोड़ टन हे जिनमें से सर्वाधिक कर्नाटक राज्य में 201 करोड़ टन तमिलनाडु में 44 करोड टन आंध्र प्रदेश में 20 करोड़ टन केरल में 8 करोड़ टन पाया जाता है।

प्रश्न=27. भारत का लौह अयस्क निर्यात में कौनसा स्थान है ?
(अ) पहला
(ब) दूसरा
(स) तीसरा
(द) चौथा

(द)✔
व्याख्या:- भारत विश्व का चौथा सबसे बड़ा लौह अयस्क निर्यातक देश है निर्यात मुख्य रूप से जापान एवं यूरोपीय देशों को किया जाता है अकेले जापान ही हमारे द्वारा निर्यात किए जाने वाले लौह अयस्क के तीन चौथाई भाग का खरीददार हैं

प्रश्न 28. विश्व के कुल लौह अयस्क का कितने प्रतिशत भाग भारत में निकाला जाता है?
(अ) 2%
(ब) 3%
(स) 4%
(द) 5%

(ब)✔
व्याख्या:- विश्व के कुल लौह अयस्क का 3% भाग भारत में निकाला जाता है मांग कम होने के कारण कुल उत्पादन का 50% से भी अधिक भाग निर्यात कर दिया जाता है गोवा में उत्पादित होने वाला संपूर्ण लौह अयस्क निर्यात के लिए होता है जिसका प्रमुख बंदरगाह मारमुगाव हे।

Specially thanks to Post and Quiz Creator (With Regards)

लालशंकर पटेल डूंगरपुर, धर्मवीर शर्मा अलवर

Leave a Reply