Learning ( अधिगम )

सीखना एक निरंतर चलने वाली सार्वभौमिक प्रक्रिया है व्यक्ति जन्म से सीखना प्रारंभ कर देता तथा जीवनपर्यंत कुछ न कुछ सीखता रहता है परिस्थिति तथा आवश्यकता के अनुरूप सीखने की गति घटती बढ़ती रहती है सीखने के लिए कोई स्थान विशेष निश्चित नहीं होता व्यक्ति कहीं भी किसी भी समय किसी से भी कुछ भी सीख सकता है मनोवैज्ञानिक भाषा में सीखने को अधिगम कहते हैं

अधिगम से अभिप्राय अभ्यास या अनुभव द्वारा व्यवहार में परिवर्तन लाने की प्रक्रिया से है स्वाभाविक में होने वाले प्रगतिशील परिवर्तन या परिमार्जन को ही अधिगम या सीखना कहते हैं

उदाहरण – एक छोटा बालक पहली बार आग देख कर उसे छू लेता है और जल जाता है इससे बालक को एक नया अनुभव प्राप्त होता है जब बाद में आग देखता तो से दूर रहता है अर्थात पुराना अनुभव से आग से दूर रहना सिखा देता है इस तरह सीखना अनुभव द्वारा व्यवहार में परिवर्तन है

उदाहरण – अधिगम – एक विद्यार्थी का सपना अध्यापक बनाना होता है परीक्षा देता भी है परंतु उसमें असफल हो जाता है फिर दोबारा से अच्छे से तैयारी करता है इस तरह की शिक्षण सामग्रियों अलग-अलग नोट्स बुक्स आदि का प्रयोग करके तैयारी करता है और इस बार वह अपनी कड़ी मेहनत से अपने लक्ष्य को प्राप्त कर लेता है

अधिगम की परिभाषा ( Definition of learning )

स्किनर – अधिगम व्यवहार में क्रमिक सामाजस्य की प्रक्रिया है

गिलफोर्ड- व्यवहार के कारण व्यवहार में परिवर्तन ही अधिगम है
क्रो व क्रो- सीखना आदतों ज्ञान और अभिव्रत्तियो का अर्जन है मार्गन अधिगम अपेक्षाकृत व्यवहार में स्थाई परिवर्तन है जो अभ्यास अथवा अनुभव के परिणाम स्वरूप होता हैं
गेट्स-  अनुभव एवं प्रशिक्षण दुवरा व्यवहार में संशोधन अधिगम है
वुडवर्थ – नवीन ज्ञान एवं अनुक्रिया को प्राप्त करने की प्रक्रिया, अधिगम की प्रक्रिया कहलाती हैं

एस एस चौहान – प्राणी के व्यवहार में परिवर्तन लाना ही अधिगम का अभिप्राय हैं

पील- अधिगम व्यक्ति में एक परिवर्तन है जो उसके वातावरण के परिवर्तनों की अनुसरण में होते हैं

अधिगम के प्रकार ( Types of learning )

1 ज्ञानात्मक अधिगम
2 भावात्मक अधिगम
3 क्रियात्मक अधिगम

अधिगम की विधियां ( Learning methods )

1 करके सीखना
2 निरीक्षण करके सीखना
3 परीक्षण करके सीखना
4 सामूहिक विधियों द्वारा सीखना

उद्दीपन अनुक्रिया सिद्धांत= थार्न डाइक
अनुकूलित अनुक्रिया सिद्धांत= पावलव
क्रिया प्रसूत अनुबंधन सिद्धांत= स्किनर
सामाजिक अधिगम सिद्धांत= अल्बर्ट बंडूरा

अधिगम की विशेषताये ( Characteristic of learning )

  • अधिगम व्यवहार में परिवर्तन है।
  • अर्जित व्यवहार की प्रकृति अपेक्षाकृत स्थायी होती है।
  • अधिगम जीवनपर्यन्त चलने वाली प्रक्रिया है।
  • अधिगम एक यूनिवर्सल प्रक्रिया है।
  • अधिगम उद्देश्यपूर्ण एवं लक्ष्य निर्देशित होता है।
  • अधिगम का सम्बन्ध अनुभवो की नवीन व्यवस्था से होता है।
  • अधिगम वातावरण एवं क्रियाशीलता की उपज है।
  • अधिगम हेतु एक परिस्थिति से दूसरी परिस्थिति में स्तनंतरण होता है।
  • अधिगम समायोजन में सहायक है।

अधिगम को प्रभावित करने वाले कारक ( Factors Affecting Learning )

1.  पुर्व अधिगम
2.  विषय वस्तु का स्वरूप 
3.  विषय के प्रति मनोवृति 
4.  सीखने की इच्छा 
5.  सीखने की विधि 
6.  अभिप्रेरणा 
7.  वातावरण 
8.  थकान 
9.  शारीरिक व मानसिक स्वास्थ्य 
10.  वंशानुक्रम 

सीखने के नियम ( Learning Rule )

 ई॰एल॰ थार्नडाइक ने सीखने के कुछ नियमों की खोज की जिन्हें निम्नलिखित दो भागों में विभाजित किया गया है

मुख्य नियम (Primary Laws)

1. तत्परता का निय
2. अभ्यास का नियम

  • उपयोग का नियम
  • अनुप्रयोग का नियम

3. प्रभाव का नियम

गौण नियम ( Secondary Laws)

1. बहु-अनुक्रिया का नियम
2. मानसिक स्थिति का नियम
3. आंशिक क्रिया का नियम
4. समानता का नियम
5. साहचर्य-परिर्वतन का नियम

पावलव का शास्त्रीय अनुबंधन (अनुकूलित-अनुक्रिया) का सिद्धातं ( Pavlov Theory of conditioned Response )

इस सिद्धान्त का प्रतिपादन 1904 में में पावलव ने किया था। उसने अनुबंधित क्रिया(Conditioned Response) को समझाने के लिए कुत्ते के ऊपर प्रयोग किया।  प्रारम्भ में भूखे कुत्ते के मंह में भोजन देखकर लार आ जाना स्वाभाविक क्रिया है।

  1. पावलव में प्रयोग के प्रारम्भ में कई दिनो तक खाने के साथ घण्टी बजा कर खाना दिया। (खाना घण्टी) यह प्रयोग कई दिनां- तक दोहराने पर पाया गया कि खाना एवं घण्टी में सम्बन्ध उत्पन्न हो जाता है। एवं स्वाभाविक क्रिया-लार टपकना होती है।
  2. इसके बाद केवल घण्टी बजाई परन्तु खाना साथ में नहीं दिया गया। इससे यह पाया गया कि कुत्ता स्वाभाविक क्रिया (लार टपकती है) करता है। इस प्रयोग को इस प्रकार दर्षाया जा सकता है इस सिद्धांत का प्रयोग पशुआंे एवं मनुष्यों के व्यवहार को सुधारने व परिमार्जन में महत्वपूर्ण सिद्ध होता है।

सिद्धातं:- अस्वाभाविक (कृत्रिम) उत्तेजना के प्रति स्वाभाविक क्रिया का उत्पन्न होना अनुकूलित अनुक्रिया कहलाती है। उदाहरण – मिठाई की दुकान को देखकर बच्चों के मुंह से लार टपकने लगता है।

स्किनर का सक्रिय अनुबन्धन ( Instrumental conditioning ) सिद्धान्त

इस सिद्धान्त का प्रतिपादन अमेरिका के हारवर्ड विश्वविद्यालय के प्रोफेसर बी.एफ स्किनर ने किया। इस सिद्धान्त का प्रमुख आधार थार्नडाइक द्वारा प्रतिपादित प्रभाव का नियमथा ।

इस नियम के अनुसार यदि किसी अनुक्रिया या व्यवहार के बाद सन्तोष या आनन्द की अनुभूति होती हैं तो प्राणी उस व्यवहार को दोहराना चाहता हैं इसके विपरीत यदि किसी अनुक्रिया के पश्चात् असन्तोष या दुःख का अनुभव होता हैं तो प्राणी उस व्यवहार को पुनः दोहराना नहीं चाहता ।

इस प्रकार ऐसे व्यवहार में उत्तेजन एंव अनुक्रिया का बन्धन (S-R bond) कमजोर हो जाता हैं यही नियम स्किनर के क्रिया प्रसूत व अनुबन्धन का आधार हैं।

सूझू तथा अन्र्तदृष्टि का सिद्धान्त

सूझ द्वारा सीखने के सिद्धांत के प्रतिपादक जर्मनी के गेस्टाल्टवादी है। इसलिए इस सिद्धांत को गेस्टाल्ट सिद्धांत भी कहते हैं। इनके अनुसार व्यक्ति अपनी सम्पूर्ण परिस्थिति को अपनी मानसिक शक्ति से अच्छी तरह समझ या सीख लेता है। इस प्रकार वह अपनी सूझ के कारण करता है। इस संबंध में अनेक प्रयोग किए जा चुके हैं, जिनमें सबसे प्रसिद्ध प्रयोग कोहलर का है।

कोहलर का प्रयोग ( Kohler’s Experiment )

कोहलर ने एक भूखे चिम्पाजी को एक कमरे में बंद किया। कमरे की छत में कुछ केले इस प्रकार टाँग दिए कि वे चिम्पाजी की पहंच के बाहर थे। कमरे में कुछ दूरी पर तीन-चार खाली बक्से भी रखे गए।

चिम्पांजी ने उछल कर केले लेने का प्रयास किया पर सफल नहीं हुआ। कुछ समय पश्चात फर्ष पर रखे खाली बक्सों को देखकर उनको केले के नीचे खींच कर उस पर चढ़ गया केले प्राप्त कर लिए। यह उसकी सूझ ही है जिसने उसे अपने लक्ष्य को प्राप्त करने में सफलता दी। चिम्पान्जी के समान बालक और व्यक्ति भी सूझ द्वारा सीखते हैं

 

 

Play Quiz 

No of Questions-28

0%

प्र-1 अधिगम एक प्रक्रिया है

Correct! Wrong!

प्र-2 पुनर्बलन के सिद्धांत का प्रतिपादन किया

Correct! Wrong!

प्र-3 अधिगम का मुख्य चालक कहलाता है

Correct! Wrong!

प्र-4 पाँवलव ने शास्त्रीय अनुबंध के सिद्धांत मे प्रयोग किया

Correct! Wrong!

प्र-5 संरचनात्मक सिद्धांत के प्रवर्तक है

Correct! Wrong!

प्र-6 क्रिया प्रसूत अनुबन्धन के सिद्धांत का शिक्षकों के लिए निम्नलिखित में से कोनसा निहितार्थ हैं

Correct! Wrong!

प्र-7 पाँवलव के शास्त्रीय अनुबन्धन मे

Please select 2 correct answers

Correct! Wrong!

प्र-8 अन्तर्दृष्टि सिद्धांत के प्रतिपादक कौन थे

Correct! Wrong!

प्र-9 लघु पदों के सिद्धांत का संबंध है

Correct! Wrong!

प्र-10 गेने ने अधिगम के कितने प्रकार बताए

Correct! Wrong!

प्रश्न=11" मनोविज्ञान व्यवहार और अनुभव का विज्ञान है" किसने कहा-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=12" मनोविज्ञान वातावरण के संबंध में व्यक्तियों की क्रियाओं का वैज्ञानिक अध्ययन है "किसका कथन है-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=13 "मनोविज्ञान आचरण एवं व्यवहार का यथार्थ विज्ञान ह"ै यह कथन किसका है-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=14 "मनोविज्ञान का संबंध प्रत्यक्ष मानव व्यवहार से है "किसने कहा-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=15 "मनोविज्ञान मानव एवं पशु व्यवहार का विज्ञान है" किसका कथन है-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=16 सीखना विकास की प्रक्रिया है किसने कहा-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=17 सीखना व्यवहार में उत्तरोत्तर सामंजस्य की प्रक्रिया है किसने कहा-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=18 सीखना अनुभव और प्रशिक्षण के द्वारा व्यवहार में परिवर्तन है किसने कहा-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=19 उपयुक्त अनुक्रिया के चयन तथा उसके उत्तेजना से जोड़ने का अधिगम कहते हैं किसने कहा-?

Correct! Wrong!

प्रश्न=20 सीखना आदतों ज्ञान और अभिवृत्ति यों का अर्जन है किसने कहा-?

Correct! Wrong!

प्र०21 जब पूर्व प्राप्त अनुभव नवीन समस्या को हल करने में सहायक होता है वह है

Correct! Wrong!

प्र०22 उद्दीपक अनुक्रिया के मध्य साहचर्य स्थापित करने वाले प्रकम को क्या कहते हैं

Correct! Wrong!

प्र०23 अधिगम के प्रक्रम में अभिप्रेरणा -

Correct! Wrong!

प्र०24 शिवानी द्वारा पूछे गए प्रश्न का उत्तर शिक्षक तत्काल नहीं दे सकता है शिक्षक की प्रतिक्रिया क्या होनी चाहिए

Correct! Wrong!

प्रo25 क्लासिकल स्थिति का प्रतिपादक कौन था?

Correct! Wrong!

प्रo26पावलोव के अनुबंधन प्रयोग मे भोजन से पूर्व उपस्थित ध्वनि को क्या कहते है? (RPSC 11 हिंदी 2010)

Correct! Wrong!

प्रo27 एक बालक एक बार अंगीठी से जलने के बाद अंगीठी से दूर रहता है। यह उदाहरण है..

Correct! Wrong!

प्रo28 क्लासिकी अनुबंध मे घंटी के प्रति लार की अनुक्रिया है...

Correct! Wrong!

Learning Quiz ( अधिगम )
बहुत खराब ! आपके कुछ जवाब सही हैं! कड़ी मेहनत की ज़रूरत है
खराब ! आप कुछ जवाब सही हैं! कड़ी मेहनत की ज़रूरत है
अच्छा ! आपने अच्छी कोशिश की लेकिन कुछ गलत हो गया ! अधिक तैयारी की जरूरत है
बहुत अच्छा ! आपने अच्छी कोशिश की लेकिन कुछ गलत हो गया! तैयारी की जरूरत है
शानदार ! आपका प्रश्नोत्तरी सही है! ऐसे ही आगे भी करते रहे

Share your Results:

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

गीता राठौड़ कोटा, पुष्पेंद्र कुलदीप झुंझुन, चन्द्रेश कुमार कराैली, सुरेश कुमार सैनी, धर्मवीर शर्मा अलवर, नवल गुर्जर टोंक

Leave a Reply