Habib Tanveer  

हबीब तनवीर का जन्म 1 सितंबर 1923 को रायपुर छत्तीसगढ़ में हुआ था तनवीर ने रायपुर मैट्रिक करने के उपरांत नागपुर विश्वविद्यालय से बीए की उपाधि हासिल की तदउप्रांत अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से m.a. किया करियर के आरंभिक दौर में तनवीर जी तखल्लुस उपनाम से कविताएं लिखते रहें वर्ष 1945 में मुंबई आए और वहां ऑल इंडिया रेडियो में बतौर प्रोड्यूसर नौकरी कि इसके अतिरिक्त प्रगतिशील साहित्यकारों के संस्था PAW है और इंडियन पीपुल्स थिएटर एसोसिएशन(IPTA) मे अभिनेता के तौर पर काम किया !

सन 1955 में हबीब तनवीर ने इंग्लैंड प्रस्थान किया उन्होंने वहां रॉयल एकेडमी ऑफ ड्रामेटिक आर्ट्स में अभिनय का प्रशिक्षण प्राप्त किया ! सन 1958 में तनवीर जी भारत आए उन्होंने यहां मिट्टी की गाड़ी मुद्राराक्षस नाटक किया इसके अलावा 1972 में आप का नाटक गांव का नाम ससुराल, मोर नाव दामाद भी खूब चर्चित हुआ !

आपके अन्य चर्चित नाटक :- आगरा बाजार (1954), शतरंज के मोहरे (1954), लाला शौहरत राय, मिट्ठू की गाड़ी (1958), चरणदास चोर (1975), उत्तररामचरित (1977), बहादुर कलारिन (1970) पोगा पंडित,जिन लाहौर नहीं देख्या (1990) राज रक्त (2006) शाहजहांपुर की शांति बाई आदि !

जय भारत भवन रंगमंडल के निदेशक भी रहे वर्ष 2000 में रंग मंडल बंद करने की घोषणा पर उनका जमकर विरोध हुआ हबीब तनवीर वर्ष 1959 में मध्य प्रदेश आए और उन्होंने भोपाल में “नया थियेटर नाट्य संस्था” की स्थापना की ! बहुमुखी प्रतिभा के धनी रंगकर्मी के रूप में विख्यात तनवीर का 8 जून 2009 को निधन हो गया !

Bansi Kaul  

बंसीकौल जी का जन्म 1949 में श्रीनगर में हुआ था आपने एशियन रंग संस्थान व राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय से डिप्लोमा किया !

योगदान:- रंगकर्म के क्षेत्र में लगातार सक्रिय देश विदेश में कई महत्वपूर्ण उत्सव में भागीदारी,रंगकर्म के क्षेत्र में नए एवं अनूठा प्रयोग, देश के सभी प्रमुख नगरों में रंग शिविरों का आयोजन,लोक नाट्य विधा का गहन अध्ययन और संरक्षण,बहुभाषी राष्ट्रीय नाट्य उत्सव का आयोजन, विदुषको का आधारित नाटक प्रयोगशाला व रंग विदूषक काफी चर्चित ! कई देशी-विदेशी नाटककारों की रचनाओं का मंचन निर्देशन, गोगोल के इंस्पेक्टर जर्नल का हिंदी अनुवाद, आलो वर्ग विशेष प्रसिद्ध है !

सदस्य:- संगीत नाटक एकेडमी (1977), प्रोफेसर राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय 1980- 81, निदेशक श्री राम सेंटर फॉर आर्ट एंड कल्चर 1982- 83, 20 वर्षों से मध्यप्रदेश में सक्रिय राष्ट्रीय पुरस्कार प्राप्त, चोमन फिल्म के कला निर्देशक, कई वृत्तचित्रों बाल फिल्मों में सह निदेशक, सेमिनार, कई राष्ट्रीय अंतर्राष्ट्रीय सेमिनार सम्मेलन,कार्यशाला में भागीदारी का आयोजन !

Jadugar Anand  

मध्य प्रदेश ही नहीं भारत के प्रसिद्ध ख्याति प्राप्त जादूगर ब्लू सेल्स पुरस्कार म्यूजिक ऑफ ट्रस्ट अवार्ड तथा अन्य राष्ट्रीय पुरस्कारों से सम्मानित अंतरराष्ट्रीय ख्याति प्राप्त जादूगर है !

Annu Kapoor  

नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा से प्रशिक्षित अन्नू कपूर को “रुका हुआ फैसला” नाटक से प्रसिद्धि प्राप्त हुई आज मैं दूरदर्शन पर अपनी प्रतिभा से सर्वाधिक वेस्ट कलाकार बन गए हैं !

Om Prakash Chaurasia  

विश्व विख्यात संतूर वादक श्री ओम प्रकाश चौरसिया ने संतूर के माध्यम से पूरे विश्व में प्रसिद्धि प्राप्त की है इन्हें अनेक पुरस्कारों से सम्मानित किया जा चुका है !

Jiuddin dagar  

संगीत नाटक अकादमी एवं तानसेन सम्मान से अलंकृत ध्रुपद के महान गायक अमेरिका, फ्रांस, इटली, हॉलेंड, स्वीडन, कनाडा, चेकोस्लाविया, युगोस्लाविया. स्पेन, इटली, ऑस्ट्रेलिया आदि में अपनी गायिका का चमत्कारी प्रदर्शन किया है

Begum Asghari Bai  

बेगम असगरी बाई शास्त्रीय संगीत की महान गायिका ने संगीत क्षेत्र में अनेक नए आयाम स्थापित किए हैं तानसेन सम्मान, शिखर सम्मान और पद्मश्री से इन्हें नवाजा जा चुका है !

Mukesh Tiwari  

मध्य प्रदेश के सागर जिले के श्री मुकेश तिवारी हिंदी सिनेमा के महत्वपूर्ण कलाकार हैं ! इन्होंने सिनेमा जगत में खूब ख्याति कमाई है !

Ustad Amjad Ali Khan  

भारत के प्रसिद्ध सरोद वादक 12 वर्ष की आयु में ही एकल प्रस्तुति आरंभ कर अपने पूर्वजों का नाम रोशन किया सरोज ने इन्हें अंतरराष्ट्रीय प्रसिद्धि प्राप्त हुई उन्होंने राग में अनेक अभिनव प्रयोग किए इन्हें अनेक अंतर्राष्ट्रीय पुरस्कारों के साथ पद्मश्री और पद्म भूषण से सम्मानित किया गया है !

Javed akhtar  

अभी तक 9 बार फिल्मफेयर अवार्ड से सम्मानित 20 से अधिक सफल फिल्मों की पटकथा लेखक भारतीय फिल्म उद्योग के प्रतिष्ठित गीतकार लेखक को फिल्म जंजीर की पटकथा से फिल्म जगत में प्रवेश मिला उन्होंने सिनेमा जगत में ख्याति प्राप्त की है !

Rajiv Verma  

दूरदर्शन धारावाहिक चुनौती से प्रसिद्धि प्राप्त की,बाल्यावस्था से ही गांव में रामलीला से अभिनय यात्रा आरंभ करने वाले कलाकार को कई पुरस्कार मिले हैं मध्य प्रदेश फिल्म पत्रकार संघ एवं राज्य का कासलीबाल अवार्ड से सम्मानित किए जा चुके हैं !

Jaya Bachchan  

फिल्म गुड्डी से अपना फिल्म सफर आरंभ करने वाली जया बच्चन ने फिल्म जगत में अपनी लगन और परिश्रम से नए आयाम स्थापित किए उन्होंने 30 से अधिक फिल्मों में कार्य किया क्या जया बच्च्न जी को फिल्मफेयर अवार्ड और पद्मश्री से सम्मानित किया जा चुका है !

Sabandhu dube  

छायांकन के क्षेत्र में सुबंधु दुबे ने मध्य प्रदेश को प्रसिद्धि दिलाई है अनेक देशी विदेशी संबंधों से पुरस्कृत किया जा चुका है !

Ashutosh Rana  

मध्यप्रदेश के नरसिंहपुर( गाडरवारा) के इस ख्याति प्राप्त कलाकार ने अपनी प्रतिभा के बल पर बड़ी तेजी से फिल्म जगत में अपने पैर जमा लिए हैं फिल्म जगत में अपनी खूबख्याती कमाई है !

Chandresh Saxena  

उज्जैन के श्री सक्सेना जे जे स्कूल ऑफ आर्ट्स मुंबई और विश्व भारती विश्वविद्यालय शांतिनिकेतन से प्रशिक्षण प्राप्त किया है श्री सक्सेना की कलाकृतियां राष्ट्रीय कला प्रदर्शनी में अनेक सम्मान प्राप्त कर चुकी है 1959 में आपको कालिदास चित्रकला पुरस्कार से सम्मानित किया जा चुका है श्री सक्सेना ने मध्य प्रदेश की पांडव गुफाओं पर शोध कार्य आरंभ किया !

Quiz 

Question – 18

[wp_quiz id=”5249″]

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

विष्णु गौर सीहोर, मध्यप्रदेश

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *