The meaning of precis writing is to make a paragraph very short removing all the unnecessary words out of it. In this process all the useless words are avoided. Precis ( लिखने की प्रक्रिया में केवल उन्हीं शब्दों को रखा जाता है जिससे गद्यांश का मूल भाव बना रहे )

A PRECIS can also be called the summary of a paragraph. But a PRECIS is shorter than a SUMMARY. The PRECIS should be almost one third of the paragraph.

Precis writing का अर्थ है दिए गए paragraph को बहुत छोटा करके अपने शब्दों में लिखना और इस प्रकार से लिखना कि paragraph का मूल भाव बिल्कुल न बदले।

precis writing :- writing a precis means making an intelligent summary of a long passage. To write a precis one should have a clear understanding of the passage. Only then well one be able to include all the essential points and tips and tricks of essay example in the precis.

दैनिक जीवन का एक उदाहरण देखिए

यदि हम से कहा जाए कि कल आपने क्या किया उसे लिखिए ।तो हम इस प्रकार लिखेंगे?

मैं सुबह 4:00 बजे सो कर उठा । उसके बाद अपने दैनिक कार्य से निवृत होकर खेत चला गया। खेत देश देखकर आने के बाद दाल रोटी सब्जी खाया । फिर घर का कुछ काम करने के बाद नहाने चला गया । नहाकर आने के बाद मैं शहर गया क्योंकि घर का राशन समाप्त हो गया था । और मुझे ब्लड टेस्ट भी करवाना था। मैंने देखा कि बहुत ट्रैफिक जाम था । बहुत हंगामा मच गया था । मेरा काम बड़ी मुश्किल से हो पाया । बड़ी मुश्किल से मैं शहर से वापस आया । घर आते आते शाम 5:00 बज गए थे। घर पहुंचकर मैंने चाय नाश्ता किया । इसके बाद टहलने के लिए जाने की सोच रहा था कि कुछ मेहमान आ गए। वे लोग मेरे बड़े भैया की सास के भाई की पत्नी की बहन के भाभी के भाई के मामा जी के बेटे से मेरे एक मित्र के चाचाजी की बेटी के लिए रिश्ता लेकर आए थे। आखिरकार रिश्ता तय हो गया। और सभी ने मिलकर चर्चा करने के पश्चात शादी की तारीख 2 महीने बाद की रखी। मेहमानों ने चाय नाश्ता किया और वे अपने घर चले गए ।

उपरोक्त पैराग्राफ का precis

उपरोक्त गद्यांश में अनावश्यक शब्द बहुत अधिक हैं जिन्हें गद्यांश से हटाया भी जा सकता है।

उपरोक्त पैराग्राफ का PRECIS

मैं सुबह सोकर उठा और खेत देखने चला गया। फिर नहा खाकर तैयार हुआ क्योंकि ब्लड टेस्ट करवाने और राशन लाने के लिए मुझे शहर भी जाना था। शाम 5:00 बजे तक मैं वापस आया। तभी कुछ मेहमान आए जो मेरे मित्र की एक बहन रिश्ता लेकर आए थे। रिश्ता अच्छा था। अतः चर्चा के पश्चात शादी की तारीख भी तय कर दी गई।

Reading Comprehension और Precis Writing अभिन्न रूप से एक दूसरे से जुड़े हुए हैं। क्योंकि यदि हम किसी PASSAGE को पढ़कर समझ जाते हैं तो उसका सारांश (SUMMARY) भी अपने शब्दों में लिख सकते हैं।  और उसी सारांश को हम और भी छोटा कर सकते हैं जिसे इंग्लिश में PRECIS कहा जाता है।

Note – The Precis doesn’t change the root sense of the passage. (PRECIS लिखने पर passage के मूल भाव में कोई परिवर्तन नहीं होता है )

◼ Some general conditions to writing prices :-
It is Generally Accepted that a precis should be a third of the passage given. If the original passage has 300 words, the precis should not be more than 110 word in length.

A precis should be in the language of precis writer . The original passage is not to be reduced in length by just removing unimportant or unnecessary sentence and by reproducing the rest of the precis .

techniques of precis writing :-
There are three kind of work to be done in producing a clear and successful successful precis . they are

  1. Reading
  2. Writing
  3. Revision .

 

Play Quiz 

No of Questions- 14 

[wp_quiz id=”2428″]

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

Jitendra Kumar Patel Dhamtari CG, Nena G, MUKESH KUAMR G

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *