प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करे ( How to Preparation Competitive Exams )

?मेरे प्रिय परिवार सदस्यो (सामान्य ज्ञान ग्रुप परिवार)

जो साथी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे है। उनके मन मे अनेक सवाल है।

सवाल कुछ तरह से होते है।

  1. मैं किसकी तैयारी करूँ?
  2. मुझे क्या पढ़ना चाहिए। परीक्षा में सफल होने के लिए
  3. कौनसी पुस्तकें पढ़नी चाहिए। किसकी की गाइड खरीदूँया फिर कहते है क्या कोचिंग करना जरूरी है
  4. कितने घंटे पढ़ना चाहिए

इन सारे सवालों का ज़बाब

1.मैं किसकी तैयारी करूँ?
➡इस सवाल का उत्तर ख़ुद से पूछना चाहिए। क्योंकि आप अपनी रूचि,क्षमता ,विषय की जानकारी को ख़ुद बेहतर समझते हो। कोई दूसरा इसका उत्तर नही दे पायेगा क्योंकि उनको आपको बारे में नही पता है। इसलिए आप खुद एक लक्ष्य बना लीजिए। अगल-अलग एग्जाम की तैयारी करने की बजाय एक भर्ती की तैयारी कीजिए ,आपको निश्चित तौर से सफलता मिलेगी।

Q.2.कौनसी गाइड ख़रीदनी चाहिए?या मुझे कौनसी पुस्तक पढ़नी चाहिए ?
➡ दोस्तो,आज के समय में बेरोज़गारी बढ़ती जा रही है।इसका फायदा गाइड व्यवसायी नें उठाया है।बाज़ारीकरण के दौर में परीक्षार्थी ठगा जा रहा है।हालाँकि कुछ गाइड ठीक है। लेकिन मात्र गाइड सफल होने लिए काफी नही है। इसलिए मेरी सलाह यहीं है कि आप सिलेबस के अनुसार मूल और प्रामाणिक पुस्तकें का अध्ययन कीजिए। अब प्रश्न यह बन गया पुस्तकों का चुनाव कैसे करें -इसका सामान्य सा उत्तर है आप विषय-विशेषज्ञों से सलाह ले या उस क्षेत्र में सफ़ल और अनुभवी परीक्षार्थी से सलाह लेकर चुनाव करें।
एक बात ध्यान रखना कि आज का जमाना कैसा है आप सब जानते हो फ़ालतू की सलाह देने वालों से बचें और स्वयं का विवेक इस्तेमाल करें।

Q.3. क्या कोचिंग करना ज़रूरी हैं ओर सेल्फ स्टडी सफ़लता में कितनी कारगर हैं?
➡ दोस्तो,मंजिल आपको की तय करनी पड़ेगी तो उस तक पहुँचने के लिए रास्तें भी ख़ुद ही बनाने पड़ेंगे। बस स्व-अध्ययन सबसे कारगर है। इतना सा कहना है अगर कोचिंग करनी है बस अच्छे टीचर से ही पढ़ें। जो आपको मोटीवेट करे और विषय पर पूरी पकड़ हो।

Q.4- कितने घंटे स्टडी करनी चाहिए?क्या सुबह जल्दी उठकर पढ़ने से ज़्यादा याद होता है?
➡मानव की स्मृति कोई डेटा फीड करने की मशीन नही है।इसलिए व्यक्ति किसी क्षमता और रूचि के अनुसार योजनाबद्ध तरीके से 6 से 8 आठ तक स्टडी कर लीजिए। लेकिन इस कार्य में नियमितता होना अति आवश्यक है।पढ़ने का कोई समय और स्थान नही होता है।आप कभी और कहीं भी पढ़ सकते हो। बस आपको स्टडी में डिस्टर्ब नही होना चाहिए। रेलयात्रा में चलते-चलते पढ़ो। या रूम में बंद होकर पढो। सुबह पढो या रात में पढ़ो लेकिन एकाग्रता के साथ अध्ययन करो।शौक से पढ़ो। जैसे खाना खाने से भूख मिटती है पानी पीने से प्यास बुझती है।इसी तरह स्टडी करने से भी अपनी जिज्ञासा को शान्त होती है।
अंतिम बात➡ “पढ़ना एक निज़ी आदत है। अगर आप कॉम्पटीशन की तैयारी कर रहे हो तो कभी निराश मत होना।

आस पर विश्वास में ही श्वास हैं!

-यदि कोई इंसान सोने का चम्मच लेकर पैदा होता हैं और सारी सुविधाएँ तथा परिस्थितियाँ उसे अनुकूल मिली हों तब वह कामयाब होकर दिखाता हैं तो उसे कामयाबी काम सुकून हमेशा उस कामयाब व्यक्ति से कम नहीं रहेगा; जिसे लकङी का भी चम्मच भी नसीब नहीं हुआ हो और जिसने जीवन के हर मोड़ पर संघर्ष करके ही कामयाबी पाई हो।

हमेशा सकरात्मक ऊर्जा के साथ आगे बढे

शुक्रिया

Specially thanks to Post writer ( With Regards )

मोटाराम चौधरी बाड़मेर, MEGA RAM 

23 thoughts on “How to Preparation Competitive Exams ( प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करे )”

  1. It’s truly a nice and useful piece of info. I am happy that you just shared this useful information with us.
    Please stay us up to date like this. Thank you for sharing.

  2. Wow! This blog looks just like my old one! It’s on a entirely different subject but it has pretty much the same page
    layout and design. Wonderful choice of colors!

  3. It’s enormous that you are getting thoughts from this post
    as well as from our discussion made at this place.

  4. Excellent pieces. Keep writing such kind of info on your site.

    Im really impressed by your blog.
    Hello there, You have performed an excellent job.
    I’ll definitely digg it and in my opinion suggest to my friends.
    I’m confident they will be benefited from this site.

  5. Heya! I’m at work surfing around your blog from
    my new iphone 3gs! Just wanted to say I love reading through your blog and look forward to all
    your posts! Keep up the outstanding work!

  6. Link exchange is nothing else except it is simply
    placing the other person’s web site link on your page at suitable place and other person will also do
    similar in support of you.

  7. I’m really enjoying the design and layout of your blog.
    It’s a very easy on the eyes which makes it much more pleasant for me to come here and visit more often. Did you
    hire out a developer to create your theme? Outstanding work!

  8. If you would like to grow your know-how simply keep visiting this site and be updated with the hottest gossip posted here.

  9. “I love reading through a post that will make men and women think. Also, many thanks for allowing me to comment!”

  10. You really make it seem so easy with your presentation but I find
    this topic to be really something which I think I would never understand.
    It seems too complicated and extremely broad for me.
    I am looking forward for your next post, I’ll try to get the hang of it!

  11. Howdy just wanted to give you a quick heads up and let you know a few of the
    images aren’t loading properly. I’m not sure why but I think
    its a linking issue. I’ve tried it in two different
    web browsers and both show the same results.

  12. Greetings! Very useful advice in this particular post! It’s
    the little changes that produce the most important changes.
    Thanks a lot for sharing!

  13. I’ve been browsing online greater than 3 hours nowadays,
    yet I never found any fascinating article like yours. It is beautiful price
    sufficient for me. Personally, if all web owners and bloggers made good
    content material as you did, the web shall be a lot more helpful than ever before.

  14. I’m gone to tell my little brother, that he should also go to see this webpage on regular
    basis to obtain updated from newest reports.

  15. Excellent article. Keep writing such kind of info on your
    site. Im really impressed by it.
    Hi there, You have performed a fantastic job. I will certainly digg it and in my opinion recommend to my friends.
    I’m confident they’ll be benefited from this site.

  16. Hi there, its fastidious post regarding media print, we all understand
    media is a wonderful source of facts.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *