Rajasthan Climate

( राजस्थान की जलवायु Part -2)

Rajasthan Climate important Question 

1. जलवायु को स्पष्ट कीजिये ?
उत्तर- किसी भू-भाग पर लम्बी अवधि के दौरान विभिन्न समयों में विविध मौसमों की औसत अवस्था उस भू-भाग की जलवायु कहलाती है।

2. ग्रीष्म काल मे चलने वाली गर्म हवाओं को किस नाम से जाना जाता है ?
उत्तर- ग्रीष्म काल मे चलने वाली हवाओं को “लू” के नाम से जाना जाता है। तीव्र गति के कारण स्थानीय वायु भंवर बन जाती है जिसे स्थानीय भाषा मे “भरभूल्या” के नाम से जानते है।

3. वर्षा के आधार पर राजस्थान को कितने भागो में बाटा गया है। बताइये ?
उत्तर – वर्षा के आधार पर राजस्थान को 4 भागों में बाटा गया है।
(A) 25 सेंटीमीटर से कम वर्षा वाले क्षेत्र- जैसलमेर, बीकानेर, बाड़मेर , जोधपुर, चूरू, श्रीगंगानगर, हनुमानगढ़ ।
(B) 25 सेंटीमीटर से 50 सेंटीमीटर तक वर्षा वाले क्षेत्र- झुंझुनू, सिरोही, जालौर, पाली ।
(C) 50 सेंटीमीटर से 100 सेंटीमीटर तक वर्षा वाले क्षेत्र- झालावाड़, बांसवाड़ा, उदयपुर, धौलपुर, पूर्वी राजस्थान ।
(D) 100 सेंटीमीटर से अधिक वर्षा वाले क्षेत्र – सिरोही में माउंट आबू तथा कुछ क्षेत्र झालावाड़, बांसवाड़ा, उदयपुर के भी आते हैं।

4. कोपेन के अनुसार राजस्थान की जलवायु का वर्गीकरण बताइये ?
उत्तर- कोपेन ने 1918 में तापमान , वर्षा, एवं वनस्पति के आधार पर राजस्थान की जलवायु को 4 भागों में विभाजित किया है ।
(A) उष्ण कटिबंधीय आर्द्र जलवायु प्रदेश/ AW
(B) अर्द्ध-शुष्क जलवायु प्रदेश/BSHW
(C) शुष्क उष्ण मरुस्थलीय जलवायु प्रदेश/ BHhw
(D) शुष्क शीत जलवायु प्रदेश/ CWG

5. वर्षा, तापमान, वनस्पति के आधार पर जलवायु का वर्गीकरण कीजिये ?
उत्तर- वर्षा, तापमान , वनस्पति के आधार पर जलवायु को 5 भागो में बाटा गया है।
(A) शुष्क जलवायु प्रदेश – इसमे जैसलमेर का सम्पूर्ण जिला, जोधपुर , बाड़मेर , बीकानेर और श्रीगंगानगर का कुछ भाग आता है।
(B) अर्द्ध-शुष्क जलवायु प्रदेश- इस प्रदेश के अंतर्गत श्रीगंगानगर, बीकानेर, बाड़मेर, जोधपुर जिलो के पूर्वी भाग तथा झुंझुनू, सीकर , चूरू, नागौर, पाली, हनुमानगढ़ जिलो के पश्चिमी भाग सम्मिलित है।
(C) उप-आर्द्र जलवायु प्रदेश- इस प्रदेश के अंतर्गत जालौर, पाली, सीकर, झुंझुनू, अजमेर, जयपुर के पूर्वी भाग तथा भीलवाड़ा, टोंक , सिरोही, के उत्तरी-पश्चिमी भाग आते है।
(D) आर्द्र जलवायु- इस प्रदेश में धौलपुर, भरतपुर, कोटा, बूंदी, करौली, सवाई माधोपुर का उत्तरी-पश्चिमी क्षेत्र तथा उदयपुर व राजसमंद का उत्तरी-पूर्वी क्षेत्र शामिल है।
(E) अति-आर्द्र जलवायु प्रदेश – इस प्रदेश के अंतर्गत दक्षिणी-पूर्वी कोटा, झालावाड़, बांसवाड़ा, उदयपुर का दक्षिणी भाग तथा माउंट आबू आते है।

 प्र. 6 राजस्थान की औसत वार्षिक वर्षा कितनी है ?
उ. 57.51 सेमी.

प्र. 7 राजस्थान में सर्वाधिक वर्षा किस मानसून से होती है ?
उ . बंगाल की खाड़ी के मानसून से,

प्र. 8 राजस्थान की कोनसी झील में शीत ऋतु में बर्फ जमती है ?
उ. नक्की झील

प्र. 9 मावठ किसे कहते है ?
उ. भारत में शीत ऋतु में होने वाली वर्षा को “मावठ” या “पश्चिमी विक्षोभ” कहा जाता है। ये चक्रवात भूमध्य सागर से आकर राजस्थान सहित उत्तरी-पश्चिमी भारत में वर्षा करते है । इस वर्षा से गैंहू की फसल को लाभ मिलता है ।

प्र. 10 शीत लहर ( cold wave ) क्या है ?
उ. हिमालय की ओर से आने वाली ठंडी पवनो को ‘शीत लहर (cold wave )’ कहते है।

प्र. 11 राजस्थान का अधिकांश भाग किस कटिबन्ध में आता है ?
उ. शीतोष्ण कटिबन्ध में

12.राजस्थान में सर्वप्रथम किस मानसून से वर्षा होती है?
✒ राजस्थान में सर्वप्रथम अरब सागरीय मानसून से वर्षा होती है

13.मावठ की उतप्ति कहा से होती है
✒ मावठ की उतप्ति केस्पियन सागर/ भुमध्य सागर से होती है

14.राजस्थान का बर्खोयांसक किसे कहते है?
✒ माउन्ट आबू (सिरोही) राजस्थान का बर्खोयांस्क और राजस्थान का शिमला कहते है क्योकि यहाँ कम तापमान एंव अधिक वर्षा होती है बर्खोयांस्क रूस में अवस्थित है जो विश्व का सबसे ठंडा स्थान माना जाता है

15.राजस्थान में अकाल पर टिपण्णी लिखो
✒ राज में अकाल व् सूखे की समस्या को कर्नल जेम्स टॉड ने प्राकृतिक रोग की संज्ञा दी है राजस्थान में 1987 में त्रिकाल पड़ा था जिसमे अन्न,जल,चारा तीनो की कमी हो गयी थी विक्रम संवत 1900-01 में अकाल पड़ा जिसे सहसा भदूसा अकाल के नाम से जाना जाता है और विक्रम संवत 1956/सन 1999 में अकाल पड़ा जिसे छपन्ना काल कहा जाता है

16. जलवायु के आधार पर राज्य में कितने प्रकार की ऋतुऍ पायी जाती है?

जलवायु के आधार पर राज्य में तीन प्रकार की ऋतुऍ पायी जाती है

  1. ग्रीष्म ऋतू ( summer season )
  2. वर्षा ऋतू ( Rainy season )
  3. शीत ऋतू  ( Winter season )

Summer Season ( ग्रीष्म ऋतू ) 

ग्रीष्म ऋतू का प्रारम्भ मार्च से होता है तथा मध्ये जून तक चलता है 22 दिसम्बर को सूर्ये की किरणे मकर रेखा पर सीधी पड़ती है और इसके पश्चात सूर्ये उत्तरायण होने लगता है जिससे तापमान में बठोत्तरी होती है ! 21 जून को जब सूर्ये की किरणे कर्क रेखा पर सीधी पड़ती है जिससे राज्ये में भयंकर गर्मी पड़ती है

Rainy Season ( वर्षा ऋतू )

 राजस्थान में लगभग 90 प्रतिशत वर्षा जुलाई से सितम्बर के दौरान होती है राजस्थान में मानसूनी वर्षा दक्षिण-पश्चिम से उत्तर दक्षिण की और बढ़ती है लेकिन राजस्थान में उत्तर -पश्चिम से दक्षिणपूर्व की ओर वर्षा की मात्रा में वृद्धि होती है

Winter Season ( शीत ऋतु )

 राजस्थान में शीत ऋतु का सम्बन्ध मध्ये दिसम्बर से फरवरी के अंत तक रहता है रात्रि के समय चलने वाली ठंडी हवाओ के कारन रात्रि का तापमान बहुत गिर जाता है जिसे पाला पड़ना कहते है राज्य में सबसे ठंडा महिना जनवरी होता है

 

Quiz 

Question – 45

[wp_quiz id=”4233″]

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )
धर्मवीर शर्मा अलवर, भवानी सिंह जोधपुर, चन्द्रेश कुमार करौली, लालशंकर पटेल डूंगरपुर, सुभाष शेरावत 

Leave a Reply