Rajasthan Industry

प्रमुख उद्योग एवं औद्योगिक विकास की संभावनाएं 

राजस्थान के गठन के समय 11 वृहद उद्योग 7- सुती वस्त्र उद्योग 2- सीमेन्ट व चीनी उद्योग और 207 पंजीकृत फैक्ट्रिया थी वर्ष 1978 मे केन्द्र प्रवर्तित योजना के तहत जिला उद्योग केन्द्रो की स्थापना की गई वर्तमान में राज्य मे 36 जिला उद्योग केन्द्र व 8 उपकेन्द्र है

राजस्थान में सर्वाधिक औद्योगिक इकाईया जयपुर में है जबकि सर्वाधिक वृहद आद्यौगिक इकाईया अलवर में स्थापित की गयी है राज्य में सर्वाधिक बहुराष्ट्रीय औद्योगिक इकाईया भिवाड़ी(अलवर )में है

न्यूनतम औद्योगिक इकाईया जैसलमेर में स्थापित है तो सर्वाधिक पंजीकृत फैक्ट्रियां￶ जयपुर व् जोधपुर में तथा न्यूनतम जैसलमेर व् बारां में है

राज्य में सर्वाधिक खनन पट्टे संगमरमर के है

Image result for राजस्थान के उद्योग

राजस्थान मे औद्योगिक विकास के प्रयास ( Industrial development efforts in Rajasthan )

  • रिसर्जन्ट राजस्थान सम्मेलन- राज्य मे औद्योगिक निवेश को बढावा देने के लिए जयपुर मे 19 से 20 नवम्बर 2015 को सम्मेलन आयोजित किया गया
  • ई-गवर्नेन्स व आईटी नीति 2015 – मुख्यमंत्री ने नवीन सूचना प्रोद्योगिकी नीति 5नवम्बर 2015 को जारी की
  • राजस्थान स्टार्ट अप उत्सव – राज्य के छात्रो युवाओ व निवेशको स्टार्ट अप समुदाय प्रदान करने के लिए जयपुर मे दो दिवसीय राजस्थान स्टार्ट अप उत्सव 9 से 10 अक्टुबर 2015 को मनाया
  • स्टार्टअप पॉलियी जारी- राजस्थान सरकार ने 9 अक्टुबर 2015 को ऐसे उद्यमी युवा जो खुद का बिजनेस शुरू करना चाहते है उनके लिए है राजस्थान यह पॉलिसी जारी करने वाला देश का पाँचवा राज्य ओर उतर भारत का पहला राज्य है

राजस्थान की प्रमुख औद्योगिक नीतियाँ ( Rajasthan’s major industrial policies )
राजस्थान सरकार ने उद्योगो के विकास हेतु अब तक चार औद्योगिक नीतियाँ घोषित की है ये चारो औद्योगिक नीतियाँ मुख्यमंत्री भैरोसिंह शेखावत के समय घोषित की गई थी
प्रथम 24 जून 1978
दुसरी दिसम्बर 1990 को घोषित ओर लागु अप्रैल 1991
तीसरी 15 जून 1994
चोथी 4 जून 1998

भारत में औद्योगिक वातावरण तैयार करने के लिए दूसरी पंचवर्षीय योजना में महालनोबिस मॉडल के आधार पर औद्योगिक विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता प्रदान की गई

  • राजस्थान में तीसरी पंचवर्षीय योजना में आधारभूत सुविधाओं के विकास को सर्वोच्च प्राथमिकता दी गईराजस्थान में औद्योगिक विकास पर सर्वाधिक व्यय आठवीं पंचवर्षीय योजना में किया गया
  • राजस्थान में सर्वाधिक पंजीकृत फैक्ट्रियां जयपुर और जोधपुर जिले में है जबकि न्यूनतम जैसलमेर में बारां जिले में है रीको द्वारा दिसंबर 2015 तक 330 औद्योगिक क्षेत्रों का विकास किया जा चुका है

प्रमुख उद्योग एवं औद्योगिक विकास की संभावनाएं ( Prospects for major industry and industrial development )

राजस्थान के औद्योगिक विकास हेतु कार्यरत प्रमुख संस्थाएं
1 राजस्थान राज्य औद्योगिक विकास व विनियोग निगम लिमिटेड(RIICO)-  28 मार्च 1969 को राजस्थान उद्योग व खनिज विकास निगम की स्थापना की गई नवंबर 1979 को इसका विभाजन कर राजस्थान राज्य खनिज विकास निगम बनाया गया  जनवरी 1980 में रीको की स्थापना की गई रीको द्वारा वर्तमान में राज्य में 330 औद्योगिक क्षेत्र संचालित किए जा रहे हैं 

प्रमुख उद्योग ( Major industries )

1. सुती वस्त्र उद्योग (Cotton textiles)

राजस्थान निर्माण के समय यहा पर 7 मिले थी वर्ष 2010-11 में यहां पर 69 सुती वस्त्र निर्माण कारखाने है राजस्थान में पहली सुती कपडा़ मिल 1889 मे ब्यावर में दी कृष्णा मिल के नाम से स्थापित की गई फरवरी 2009 में केन्द्र सरकार ने भीलवाडा़ को वस्त्र निर्यातर नगर का दर्जा दिया है

2. ऊन उद्योग(Wool industry)

  • राजस्थान भेड़ पालन अधिक होता है क्योंकि यहां पर इनके अनुकूल जलवायु पाई जाती है राज्य में प्रति वर्ष भेड़ों से 2 करोड़ 36 लाख किलोग्राम ऊन प्राप्त होती है
  • प्रमुख ऊन उत्पादक जिले चूरू सीकर बीकानेर नागौर जोधपुर पाली बाड़मेर जालौर जैसलमेर झुंझुनूं गंगानगर यानी संपूर्ण पश्चिमी राजस्थान है
  • स्टेट वूल मिल्स बीकानेर- यह सरकारी कारखाना है यहा ऊनी धागा तैयार होता है
  • जोधपुर ऊन फैक्ट्री – यहा ऊनी धागा कम्बल कालीन तैयार होते है
  •  विदेशी आयात- निर्यात सस्थां कोटा यह काम्बिंग सयत्रं है जिसकी वार्षिक क्षमता 35 लाख किलोग्राम है
  • वस्ट्रेड स्पिनिगं मिल – चूरू
  • वस्ट्रेड स्पिनिगं मिल – लाडनुँ

3. चीनी उद्योग (Sugar industry)

कृषि आधारित उद्योग है इसका कच्चा माल गन्ना है

  •  राजस्थानी पहली चीनी मील 1932 में भूपाल सागर चित्तौड़गढ़ में स्थापित की गई
  • 1937 में दूसरी चीनी मिल दी गंगानगर शुगर मिल के नाम से स्थापित की गई
  • स्वतंत्रता के बाद 1965 में केशोरायपाटन बूंदी में चीनी मिल की स्थापना की गई जो सहकारी क्षेत्र में स्थापित थी
  • गंगानगर शुगर मिल के साथ चुकंदर से चीनी बनाने का प्लांट 1968 में लगाया गया लेकिन यह सफल नहीं हो सका
  •  गंगानगर शुगर मिल प्रारंभ में एक प्राइवेट शुगर मिल थी जिसे 1956 में राज्य सरकार द्वारा अधिकृत कर लिया गया गंगानगर शुगर मिल में शराब बनाने की डिस्टलरी है

 वर्तमान में राज्य में निम्नलिखित चीनी बनाने के कारखाने हैं

  1. मेवाड़ शुगर मिल भोपाल सागर मिल चित्तौड़गढ़
  2. गंगानगर शुगर मिल्स गंगानगर राज्य सरकार का उपक्रम इस मील के पुराने हो जाने से नई मिल 19 जनवरी 2016 से प्रारंभ की गई है
  3.  केशवराय पाटन सहकारी शुगर मिल्स जिला बूंदी वर्तमान में यह बदं गई
  4.  उदयपुर शुगर मिल भोपाल सागर शुगर मिल की सहायक कम्पनी है

04. राजस्थान में सीमेन्ट उद्योग (Cement Industry in Rajasthan)

राजस्थान में सीमेंट उद्योग का समुचित विकास हुआ है क्योंकि यहां पर इस उद्योग के लिए पर्याप्त संसाधन है यहां से कच्चा माल प्रचुरता से उपलब्ध है राजस्थान में पहली सीमेंट कारखाना 1915 में लाखेरी बूंदी में स्थापित किया गया था वर्तमान में राज्य में 12 बोरी सीमेंट इकाइयां हैं और अनेक मिनी सीमेंट प्लांट से करिए प्रमुख सीमेंट के बड़े कारखाने

  1. एसीसी लिमिटेड- लाखेरी
  2. जयपुर उद्योग- सवाई माधोपुर
  3. चित्तौड़गढ़ सीमेंट वर्क्स- चित्तौड़गढ़
  4. हिंदुस्तान शुगर- उदयपुर
  5. जेके सीमेंट -निंबाहेड़ा
  6. मंगलम सीमेंट – मोडक
  7. स्टॉ प्रोडक्ट्स बनास- सिरोही
  8. श्री सीमेंट -ब्यावर
  9. श्री राम सीमेंट- कोटा
  10. बिरला वाइट सीमेंट- गोटन
  11. हिंदुस्तान सीमेंट -उदयपुर
  12. राज श्री सीमेंट- खारिया मीठापुर नागौर
    इन सभी कारखानों में सर्वाधिक क्षमता जे के सीमेंट निंबाहेड़ा की तथा न्यूनतम क्षमता श्री राम सीमेंट कोटा की है

राज्य में धातु उद्योग ( Metal industry in the state )

राजस्थान में अनेक धात्विक खनिज उपलब्ध है जिनमें तांबा जस्ता सीसा चांदी लोहा मैगनीज आदि. धातुओ पर आधारित उद्योगों की संख्या में राजस्थान में तांबा ओर जस्ता उद्योग प्रमुख है

1. तांबा उद्योग ( Copper industry )

हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड यह भारत सरकार का उपक्रम है झुंझुनू जिले के खेतड़ी में स्थापित किया गया है इस तांबा शोधक संयंत्र की स्थापना 1967 में की गई इसके अंतर्गत राज्य में 3 परियोजनाएं कार्यरत हैं

1- खेतड़ी कॉपर कॉन्प्लेक्स खेतड़ी नगर झुंझुनू
2- दरीबा ताम्र परियोजना अलवर
3- चांदमारी ताम्र परियोजना झुंझुनू
राजस्थान में तांबा की प्रमुख खाने निमंत्रण माधव गोधन कोलीहान चांदमारी दरीबा इन खानों से प्राप्त तांबा अयस्क को संयंत्र तक रज्जू मार्ग से लाया जाता है

2. जस्ता उद्योग ( Zinc industry )

Rajasthan me राजस्थान में जस्ता उद्योग काफी प्राचीन है इसके प्रमाण छठी शताब्दी से मिलते हैं यह उद्योग स्थानीय स्तर पर था स्वतंत्रता के बाद आधुनिक जस्ता उद्योग का प्रारंभ जिंक स्मेल्टर की स्थापना के साथ हुआ  भारत सरकार का औद्योगिक उपकरण हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड है इसका 2005 से निजी करण कर दिया गया हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड उदयपुर के निकट देबारी में स्थित है

⚙ हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड की नई परियोजना भीलवाडा़ जिले में रामपुरा अगुचा मे स्थापित की गई है
⚙ चित्तौड़गढ़ जिले के चन्देरिया में सीसा जस्ता प्रद्रावक लगाया है

इंजीनियरिंग उद्योग ( Engineering industry )

1- हिंदुस्तान मशीन टुल्ल (Hindustan machine tools) अजमेर –भारत सरकार का उपक्रम है इसकी स्थापना 1967 में सूक्ष्म मशीनों के निर्माण हेतु की गई थी यहां पर मशीनों के अलावा एचएमटी घड़ियों का उत्पादन होता है

2- इन्सट्रुमेन्टेशन लिमिटेड (Instrumentation Limited) कोटा- यह भी भारत सरकार का उपक्रम है इसकी स्थापना 1964 में की गई पर विशिष्ट प्रकार की मशीनो का निर्माण किया जाता है
जयपुर मेटल्स – जयपुर बिजली के मीटर
कैप्सटन मीटर कम्पनी – जयपुर व पाली पानी के मीटर
मान इन्डस्ट्रीयल कॉरपोरशन- जयपुर लोहे के टावर व खिड़कियाँ
सिमको वेगन फैक्ट्री – भरतपुर रेल के डिब्बे

Rajasthan Industry important Question & Quiz

प्रश्न-1. राजस्थान एंटरप्राइजेज सिंगल विंडो एनेबिलिंग एंड क्लीयरेंस एक्ट 2011 अथवा एकल खिड़की योजना क्यों लागू हुई ?
उत्तर-1..राज्य में औद्योगिक निवेश को सुगम बनाने नियमों और प्रक्रियाओं को सरल बना कर परियोजनाओं को शीघ्र स्वीकृति देने निवेशको एवं विभिन्न राजकीय विभागों के मध्य एक ही स्थान पर विमर्श की सुविधा देने

प्रश्न-2. हस्तशिल्प एवं दस्तकार कल्याण कोष का क्या उपयोग किया जाता है?
उत्तर-2..इस कोष से अर्जित ब्याज की राशि को जरूरतमंद दस्तकारों को चिन्हित बीमारियों जैसे TV कैंसर कुष्ठरोग ,वाँल्व प्रतिरोपण बाईपास सर्जरी हृदय रोग और गुर्दा प्रत्यारोपण आदि में वित्तीय सहायता और उनके बच्चों की शिक्षा सामूहिक बीमा और राष्ट्रीय तथा राज्य स्तर पर सम्मानित दस्तकारों को मुख्यमंत्री वृद्धावस्था पेंशन देने हेतु उपयोग में लिया जा रहा है

प्रश्न-3. औद्योगिक विवाद संशोधन विधेयक 2014 से क्या तात्पर्य है और इसके मुख्य प्रावधान क्या है ?

उत्तर- औद्योगिक एवं व्यवसायिक संस्थानों में बड़ी संख्या में बनने वाली यूनियनों को रोकने और मालिक तथा कामगार के बीच मधुर संबंध बनाने के लिए औद्योगिक विवाद संशोधन विधेयक 2014 लागू किया है ?औद्योगिक विवाद संशोधन विधेयक 2014 के मुख्य प्रावधान—-
1- संस्थान मालिक और कामगार में विवाद की स्थिति में 45 दिन में कार्यवाही करनी होगी
2- कारखानों में पहले 15% से अधिक सदस्य रखने वाले संघ को प्रतिनिधि संघ के रूप में मान्यता थी लेकिन अब इसे बढ़ाकर 30% कर दिया गया है
3- उद्योग से कर्मचारी की छुट्टियां किए जाने पर उसे 3 माह के नोटिस के साथ 3 माह का अतिरिक्त वेतन और 1 वर्ष में औसत 15 दिन के वेतन के बराबर मजदूरी देनी होगी

प्रश्न-4. व्यवसायिक वर्गीकरण के आधार पर रत्नों को कितने प्रमुख वर्गों में रखा जाता है ?
उत्तर- व्यवसायिक वर्गीकरण के आधार पर रत्नों को 7 प्रमुख वर्गों में रखा गया है प्रथम वर्ग- में हीरा है जो विशुद्ध कार्बन है
दूसरा वर्ग-बहुमूल्य पत्थरों का है इसमें माणक ,नीलम ,पुखराज और पन्ना आते हैं
तीसरा वर्ग-अर्द्ध मूल्यवान पत्थरों का है जिसमें वह सभी रंगीन सफेद और काले पत्थर आते हैं जिनसे रत्न बनाए जा सके
चतुर्थ वर्ग-में मोती तथा
5 वर्ग-में मूंगा आता है मोती और मूंगा दोनों ही पत्थर नहीं होते
मोती के तीन भेद हैं–
1- असली
2- कल्चर्ड( बांसवाड़ा में कल्चर्ड मोती का उत्पादन होता है) और
3- नकली
छठा वर्ग- नकली रत्नों का है जो शीशे प्लास्टिक और अन्य पदार्थों से बनाए जाते हैं
सातवां वर्ग- सिंथेटिक रत्नों का है जो असली रत्नों में पाए जाने वाले रासायनिक द्रव्य से बनते हैं

प्रश्न-5. राजस्थान में औद्योगिक विकास हेतु राज्य सरकार द्वारा कौन-कौन से प्रयास किए जा रहे हैं ?
उत्तर- राज्य सरकार द्वारा औद्योगिक विकास हेतु निम्न प्रयास किए जा रहे हैं

आई स्टार्ट- मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने 18 अगस्त 2017 को राजस्थान स्टार्ट अप प्लेटफार्म आई स्टार्ट लांच किया उन्होंने राजस्थान स्टेक डिजिटल ऑफ इंडिया का भी शुभारंभ किया आई स्टार्ट एक ऐसा एकीकृत स्टार्ट अप प्लेटफॉर्म है जिसमें कंपनी के रजिस्ट्रेशन के साथ ही इनमें निवेश करने वाली एंजल फंडिंग और वेंचर कैपिटल संस्थाओं को भी पंजीकृत किया जाएगा इसके अतिरिक्त राजे द्वारा चैलेंज फॉर चेंज प्लेटफार्म का भी शुभारंभ किया गया

राजस्थान डिजिफेस्ट कोटा- 2017- राजस्थान में डिजिटल क्रांति के बढ़ते कदमों को जन जन तक पहुंचाने और नव प्रतिभाओं के नवाचारों से इसे अधिक समृद्ध बनाने की मंशा से 17 18 अगस्त 2017 को दो दिवसीय राजस्थान डिजिफेस्ट कोटा -2017 का आयोजन किया गया इसकी शुरुआत हैकाथन 2.0 से हुई प्रथम हैकाथन मार्च 2017 में आईटी दिवस के दौरान आयोजित किया गया था

वुडन हैंडीक्राफ्ट का संवर्धन व संरक्षण- वुडन हैंडीक्राफ्ट का संरक्षण व संवर्धन जोधपुर में आरंभ किया गया है राज्य के औद्योगिक विभाग ने सीमावर्ती क्षेत्रों के परंपरागत वुडन हेंडीक्राफ्ट के संरक्षण संवर्धन प्रशिक्षण और मार्केट लिंकेजेंज के माध्यम से प्रोत्साहित करने के लिए एक करोड़ 2164000 रुपए की विस्तृत कार्य योजना तैयार कर जोधपुर हैंडीक्राफ्ट परियोजना का क्रियांवयन शुरू किया गया वुडन क्लस्टर का क्रियान्वयन जिला उद्योग केंद्र जोधपुर द्वारा उद्यम प्रसार संस्थान के माध्यम से किया जा रहा है

कपास उगवा खुशियाली पाओ अभियान– 24 मई 2017 को कपास उगाया खुशहाली पाओ अभियान का विधिवत शुभारंभ किया गया मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने 24 मई 2017 को झालावाड़ जिले के धनौती में श्रीवल्लभ पीती ग्रुप के कपास उगवा खुशियाली पाओ अभियान का विधिवत शुभारंभ कियाश्रीमती वसुंधरा राजे ने श्री वल्लभ पित्ती ग्रुप कॉटन यार्न में जीनीगं और प्रोसेसिंग इकाई का भूमिपूजन, प्लैटिनम टेक्सटाइल लिमिटेड और एसपीवी ग्लोबल वेंचर्स लिमिटेड इकाई 1 का भी शुभारंभ किया किसानों की उगाई कपास पित्ती ग्रुप द्वारा खरीदी जाएगी इससे उन्हें अपनी कपास का उचित दाम मिलेगा और उनके जीवन में खुशहाली आएगी

राजस्थान इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंस्ट्रूमेंट्स लिमिटेड (रील)- 3 फरवरी 2016 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा राजस्थान की राजस्थान इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इंस्ट्रूमेंटेशन लिमिटेड (रील) कंपनी को भारी उद्योग विभाग के अधीन एक स्वतंत्र केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम में परिवर्तित करने को मंजूरी दी गई इस मंजूरी के बाद रील अब स्वतंत्र केंद्रीय सार्वजनिक क्षेत्र उपक्रम के रूप में काम कर सकेगी रील का गठन 1981 में हुआ था

इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट (Integrated steel plant) – राजस्थान का पहला इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट पूर (भीलवाड़ा) में स्थापित किया जाएगा 2500 करोड़ की लागत से जिंदल सॉ द्वारा स्थापित किया जाएगा

टेक्सटाइल पार्क योजना- भारत सरकार के वस्त्र मंत्रालय की प्रमुख योजना स्कीम ऑफ इंटीग्रेटेड टेक्सटाइल पार्क का संचालन राजस्थान में किया जा रहा है योजना अंतर्गत पार्को की स्थापना हेतु परियोजना लागत का 40% अथवा अधिकतम ₹40000 की सहायता दिए जाने का प्रावधान है राज्य सरकार पार्कों को हैंड लोडिंग सपोर्ट प्रदान करती है वर्तमान में राज्य में छह टेक्सटाइल पार्क है

रिसर्जेंट राजस्थान सम्मेलन- राजस्थान में औद्योगिक निवेश को आकर्षित करने के लिए जयपुर में 19-20 नवंबर 2015 को आयोजित किया गया था यह सम्मेलन, इसका उद्देश्य राज्य में निवेश प्रोत्साहित करना बड़ी संख्या में रोजगार सृजित करना, राज्य के सामाजिक व आर्थिक विकास को गति देना और लोगों के जीवन स्तर को ऊपर उठाना था

स्टार्ट अप पॉलिसी जारी- राजस्थान सरकार ने 9 अक्टूबर 2015 को प्रदेश की स्टार्टअप पॉलिसी लॉन्च की इस पॉलिसी के माध्यम से ऐसे उद्यमी युवाओं को सहायता प्रदान की जाएगी जिनके पास लिक से हटकर अपना नया बिजनेस प्लान होगा और वह स्वयं का व्यवसाय शुरू करना चाहते हैं केरल कर्नाटक आंध्र प्रदेश और गुजरात के बाद ऐसी पॉलिसी जारी करने वाला राजस्थान देश का पांचवा राज्य और उत्तर भारत का पहला राज्य है

सेज विधेयक 2015- राजस्थान विशेष आर्थिक जोन विधेयक 6 अप्रैल 2015 को विधानसभा में पारित कर दिया गया विधेयक में जुड़े सेज से जुड़े समस्त कार्य अलग-अलग एजेंसी के बजाय विकास आयुक्त के क्षेत्राधिकार में रखे गए हैं विकास आयुक्त को श्रम आयुक्त की शक्तियां प्रदान की गई है

औद्योगिक नीतियों का निर्माण- उद्योगों के संवर्धन हेतु राजस्थान सरकार द्वारा अब तक चार औद्योगिक नीति घोषित की गई है राज्य की चारों औद्योगिक नीतियां श्री भैरों सिंह शेखावत के मुख्यमंत्रित्व काल में घोषित की गई प्रथम नीति की घोषणा जनता पार्टी सरकार और शेष तीनों नीति की घोषणा भाजपा सरकार के शासनकाल में हुई

राजस्थान निवेश प्रोत्साहन योजना- राजस्थान में निवेश को बढ़ावा देने के लिए राजस्थान सरकार द्वारा राजस्थान निवेश प्रोत्साहन योजना-2014 दिनांक 8 अक्टूबर 2014 को जारी की गई योजना 8 अक्टूबर 2014 से दिनाक 31 मार्च 2019 तक जारी रहेगी इस योजना में निम्न लाभ के लिए प्रावधान किए गए हैं
1- मुद्रांक शुल्क और रूपांतरण शुल्क में 50% की छूट
2- 0% निवेश अनुदान और 20% रोजगार सर्जन अनुदान
3- 5% ब्याज अनुदान टेक्सटाइल क्षेत्र के लिए 7% अनुदान टेक्निकल टेक्सटाइल के लिए
4- विद्युत कर ,मंडी कर, मनोरंजन कर ,प्रवेश शुल्क और भूमि कर में 50% की छूट और विलासिता कर में 100 प्रतिशत छूट

भीलवाड़ा को कपड़ा निर्यातक शहर का दर्जा- केंद्र द्वारा 26 फरवरी 2009 को जारी अंतरिम आयात निर्यात नीति में भीलवाड़ा को कपड़ा निर्यातक शहर का दर्जा देने का ऐलान किया है राज्य में अभी तक जोधपुर को ही हैंडीक्राफ्ट के लिए टाउन ऑफ एक्सपोर्ट एक्सीलेंस का दर्जा मिला है भीलवाड़ा में पावरलूम मेगा क्लस्टर स्थापित किया जाएगा

प्रश्न-6 किस जिले में नई चीनी मिल बन रही है ?
उत्तर- गंगानगर जिले में पुरानी चीनी मिल के स्थान पर करणपुर पंचायत समिति के गांव कमीनपुरा में नई चीनी मिल स्थापित की जा रही है इस पर 180 करोड रुपए की लागत आई है

प्रश्न-7 राज्य में कार्बनिक खाद्य उत्पाद तैयार करने हेतु आदर्श डेरीवेटिव लिमिटेड द्वारा फूड प्रोसेसिंग कहां कहां स्थापित की जाएंगी ?
उत्तर- जोधपुर ,बीकानेर और श्री गंगानगर,
श्रीगंगानगर म-ें गेहूं और बाजरा आधारित इकाई लगेगी
बीकानेर में-मोठ के उत्पाद और मूंगफली के तेल की इकाइयां और
जोधपुर में-मूंग के उत्पाद और मूंगफली के तेल की इकाइयां लगेगी

प्रश्न-8 सिमको कारखाने में क्या बनता है ?
उत्तर- सिमको कारखाने में रेल के डिब्बे बनते हैं सिमको का पूरा नाम सेंट्रल इंडिया मशीनरी मैन्युफैक्चरिंग कंपनी है इसकी स्थापना 28 मार्च 1957 को भरतपुर में की गई थी इसकी वार्षिक उत्पादन क्षमता 6000 वैगन है इसे भरतपुर की लाइफ लाइन कहा जाता था लेकिन 13 नवंबर 2000 को तालाबंदी होने से यह बंद हो गई थी टीटागढ़ वैगंस कंपनी द्वारा यह 9 अक्टूबर 2008 को पुनः प्रारंभ की गई अब इस कारखाने में रेल इंजन (पावर )बनाने की योजना है सिमको बिरला लिमिटेड सह प्रवर्तन टीटागढ़ (कोलकाता) ने कार्यवाही आरंभ कर दी है पहले चरण में रेल इंजन का ढांचा बनाया जाएगा इस के सफल होने पर पूरा रेल इंजन बनाया जाएगा इस कारखाने में सवारी कोच ईएमयू बनाने की भी तैयारी चल रही है

प्रश्न-9 राजस्थान के किस औद्योगिक क्षेत्र को औद्योगिक विकास की धुरी माना जाता है ?
उत्तर- राजस्थान के अलवर जिले में स्थित नीमराणा औद्योगिक क्षेत्र को औद्योगिक विकास की धूरी माना जाता है दिल्ली मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर और दिल्ली मुंबई सेंट्रल गलियारे का हिस्सा होने के कारण यह क्षेत्र निकट भविष्य में देश का सबसे बड़ा ऑटो हब बनेगा और देश के सबसे बड़े बाजार दिल्ली का निकटतम केंद्र स्थल भी होगा जापानी जोन की स्थापना भी नीमराणा अलवर में की जाएगी निर्यात संवर्धन औद्योगिक पार्क की स्थापना नीमराणा में की जाएगी उद्यमियों की सुविधा के लिए राज्य में कन्वर्सेशन सेंटर नीमराणा औद्योगिक क्षेत्र में स्थापित किया जाएगा

प्रश्न-10 राजसिको क्या है तथा इसकी स्थापना का क्या उद्देश्य है ?
उत्तर- राजसिको एक उद्योग निगम हैं इसका पूरा नाम “राजस्थान लघु उद्योग निगम( राजस्थान स्माल इंडस्ट्रीज कारपोरेशन अथवा राजसिको)” है इसकी स्थापना 3 जून 1961 को की गई थी और इसे सार्वजनिक कंपनी 1 फरवरी 1975 को बनाया गया था
इसकी स्थापना का मुख्य उद्देश्य- राज्य की लघु उद्योग इकाइयों और हस्तशिल्पियों को सहायता प्रोत्साहन और उनके द्वारा उत्पादित वस्तुओं का समुचित विपणन करना था
राज्य में राजस्थान लघु उद्योग निगम ने 8 स्थानों पर अपने 12 शोरूम स्थापित कर रखे हैं राजसिको निगम द्वारा शिल्पियों से हस्तशिल्प उत्पाद सीधे क्रय किए जाते हैं राजसिको देशभर में स्थित नो राजस्थली के माध्यम से विपणन हेतु नोडल एजेंसी के रूप में कार्य करता है राजस्थली के माध्यम से ग्रामीण दस्तकार और शिल्प के उत्पादों को बेचा जाता है

राजस्थान लघु उद्योग निगम के मुख्य कार्य हैं-
1- लघु उद्योग इकाइयों को लोहा और इस्पात कोयला व पॉलीमर आदि कच्चा माल उपलब्ध कराना
2- लघु उद्योग इकाइयों के उत्पाद जैसे स्टील फर्नीचर, पेंट और त्रिपाल, डेजर्ट कूलर, आरसीसी पाइप, पॉलिथीन बैग्स, कांटेदार तार और एंगल आयरन पोस्ट के विवरण में सहायता प्रदान करना
3- लघु उद्योगों और शिल्पकारों के लिए प्रदर्शनी और प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन करना
4- जयपुर, जोधपुर, भिवाड़ी, भीलवाड़ा में अंतर्देशीय कंटेनर डिपो और सांगानेर जयपुर में एयर कार्गो कॉन्पलेक्स का संचालन करना
5- निगम ड्राइवर प्रशिक्षण केंद्र संचालित करना राज्य में गलीचो के उत्पादन और गुणवत्ता में सुधार हेतु राजसिको गलीचा प्रशिक्षण केंद्रों का संचालन करता है
6- बड़े पैमाने पर लोगों पैमाने की इकाइयों में आवश्यक सम्माननीय वह तालमेल स्थापित करता है

हस्तशिल्पियों को सम्मानित करने के उद्देश्य- से राजस्थान लघु उद्योग निगम ने वर्ष 1983 से शिल्पियों को पुरस्कृत करने की योजना प्रारंभ की है प्रत्येक राज्य स्तरीय पुरस्कार के अंतर्गत ₹25000 नकद और दक्षता प्रमाण पत्र प्राप्त करने वाले शिल्पी को ₹5000 पुरस्कार स्वरूप प्रदान किए जाते हैं

11. राज्य की प्रथम सूती वस्त्र मिल निजी क्षेत्र की कोनसी है ?
उत्तर – राज्य की प्रथम सूती वस्त्र मिल निजी क्षेत्र की ‘ दी कृष्णा मिल्स लि.’ 1889 में दामोदर दास राठी एव श्याम जी कृष्ण वर्मा द्वारा ब्यावर (अजमेर) में स्थापित की गई, जो वर्तमान में राजस्थान सरकार के अधीन है।

12. निजी क्षेत्र की पहली चीनी मिल कोनसी है ?
उत्तर- निजी क्षेत्र की पहली मिल ‘दी मेवाड़ शुगर मिल्स लि. ‘ भूपालसागर (चित्तौड़गढ़) की स्थापना1932 में की गई।

13. 1 अप्रैल 1993 को को राज्य की तीनों सहकारी क्षेत्र की मिलो को मिलाकर स्पिनफैड बना दिया है ?
उत्तर- सहकारी क्षेत्र में गुलाबपुरा(भीलवाड़ा), गंगापुर(भीलवाड़ा) तथा हनुमानगढ़ में सूती वस्त्र मिले स्थापित की गई है। इन तीनो मिलो को 1अप्रैल 1994 को मिलाकर स्पिनफैड बना दिया गया है।

14. राजस्थान में रासायनिक उद्योग समझाइये ?
उत्तर- 1964 ई. में स्थापित राजस्थान स्टेट केमिकल्स वर्क्स सोडिय सल्फेट का उत्पादन करती है तथा इसी नाम से 1966 में यही स्थापित एक अन्य संस्था सोडियम सल्फाइड का उत्पादन करती है। श्री राम फर्टिलाइजर्स ,कोटा निजी क्षेत्र में खाद का उत्पादन करता है। गाढ़ेपन (कोटा) में कुमार मंगलम बिड़ला का गैस आधारित खाद कारखाना ‘चम्बल फर्टिलाइजर्स एण्ड कैमिकल्स इंडस्ट्रीज’ स्थापित है। राजस्थान राष्ट्रीय कैमिकल एंड फर्टिलाइजर्स लि. (डाई अमोनियम फास्फेट) D.A.P. कपासन (चित्तौड़गढ़) में स्थापित किया गया है।

15. राजस्थान में केंद्रीय सरकार के उपक्रम पर प्रकाश डालिये ?
उत्तर- राजस्थान में केंद्र सरकार के 7 उपक्रम है।
(१). साम्भर साल्ट्स लि. साम्भर, (जयपुर)
स्थापना वर्ष- 30 सितम्बर,1964
कार्य- खाने का नमक व रासायनिक लवण का उत्पादन करना ।
(२) हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड, देबारी (उदयपुर)- केंद्र सरकार ने मैटल कॉपोरेशन ऑफ इंडिया के स्थान पर नवीन कंपनी की स्थापना की , जिसने 10 जनवरी,1966 से उत्पादन शुरू किया। एकीकृत परियोजना के अंतर्गत रामपुरा अगुचा(भीलवाड़ा) व चंदेरिया(चित्तौड़गढ़) सीसा- जस्ता प्रदावक शामिल है। हिंदुस्तान जिंक लिमिटेड, सीसा-जस्ता शोध संयंत्र एशिया का सबसे बड़ा सीसा-जस्ता शोध संयंत्र है।

(३) हिंदुस्तान कॉपर लिमिटेड, खेतड़ी(झुंझुनूं)- नवम्बर,1964 ई. संयुक्त राज्य अमेरिका की वेस्टर्न नैप इंजीनियरिंग कंपनी की सहायता से केंद्र सरकार ने खेतड़ी में इसकी स्थापना की। इससे वर्तमान में ताम्बा का उत्पादन किया जाता है।

(४)हिंदुस्तान मशीन टूल्स निगम,अजमेर – 1967 ई. में भारत सरकार की कंपनी HMT ने दी मशीन टूल्स फैक्ट्री स्थापित की । कुछ समय बाद नाम बदलकर हिंदुस्तान मशीन टूल्स निगम कर दिया गया। अजमेर में स्थापित की गई HMT की यह छठी इकाई थी ।जो वर्तमान में बंद पड़ी है। (५) इंस्ट्रुमेंटेशन लिमिटेड, कोटा- मार्च ,1964 ई. में इस संयंत्र की स्थापना कोटा में कई गई तथा इस संयंत्र ने उत्पादन1968-69 से प्रारंभ किया । इस संयंत्र का प्रधान कार्यालय जयपुर में स्थापित है
इसी संयंत्र की एक इकाई जयपुर व केरल में कार्यरत है। यह संयंत्र कैमिकल संयंत्रो में काम आने वाले प्रोसेस कंट्रोल, स्टील, थर्मल पावर व अन्य औद्योगिक यंत्रो का उत्पादन करते है

(6) मोर्डन बेकरीज इंडिया लिमिटेड, जयपुर- 1965ई. में स्थापित मॉर्डन बेकरीज की भारत मे 14 इकाइया कार्यरत है। यह ब्रेड बनाने का कार्य करती है तथा विश्वकर्मा औधौगिक क्षेत्र ,जयपुर में स्थापित है।
(७) राजस्थान इलेक्ट्रॉनिक्स एन्ड इंस्ट्रुमेंटीशन लि. कनकपुरा, जयपुर- 1982-83ई. में स्थापित यह संयंत्र इंस्ट्रुमेंटीशन लि. कोटा का सहायक संयंत्र है। इसी कारण स3 केंद्र सरकार के संयंत्र में शामिल किया गया है। इस उपक्रम में रीको की 49% व भारत सरकार की 51% पूंजी लगी है।

Play Quiz 

No of Question- 35

0%

प्र-1.. झालावाड़ जिले के बकानी क्षेत्र के गांव मोलक्याकला में राष्ट्रीय खादी ग्रामोद्योग आयोग की स्फूर्ति खादी क्लस्टर योजना कब प्रारंभ की गई??

Correct! Wrong!

प्र-2.. सिरेमिक इलेक्ट्रिकल रिसर्च एंड डेवलपमेंट सेंटर बीकानेर का लोकार्पण किया गया?

Correct! Wrong!

प्र-3.. हाथ से कोटा डोरिया उत्पाद बनाने वालों के लिए कौन सा पेटेंट प्राप्त किया गया है?

Correct! Wrong!

प्र-4.. राजस्थान की हस्तशिल्प वस्तुओं को राजस्थान लघु उद्योग निगम किस ब्रांड नाम से विपणन करता है??

Correct! Wrong!

प्र-5.. खेसला उद्योग के लिए प्रसिद्ध लेटाग्राम किस जिले में स्थित है??

Correct! Wrong!

प्र-6.. राजस्थान की परंपरागत छपाई का अस्तित्व बनाए रखने के लिए जयपुर इंटीग्रेटेड टेक्सक्राफ्ट पार्क की स्थापना में की गई है??

Correct! Wrong!

प्र-7.. निम्नांकित में से राजस्थान में कौनसा अधिसूचित विशेष आर्थिक क्षेत्र बीकानेर से संबंधित है??

Correct! Wrong!

प्र-8.. प्राकृतिक संसाधनों की प्रकृति और उपलब्धता के आधार पर वर्तमान में राजस्थान के औद्योगिक विकास में निम्न में से किस निवेश आधारित उद्योगों का समूह सर्वाधिक महत्वपूर्ण भूमिका अदा कर सकता है?

Correct! Wrong!

प्र-9.. राजस्थान में सरस्वती परियोजना प्रारंभ करने वाली एजेंसी है?

Correct! Wrong!

प्र-10.. स्टार्ट अप संस्कृति को विकसित और प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से राजस्थान में राजस्थान DJ फेस्ट 2017 कब और कहां आयोजित किया गया?

Correct! Wrong!

प्र-11.. राजस्थान के किस जिले में वुडन हैंडीक्राफ्ट का संवर्धन व संरक्षण आरंभ किया गया है?

Correct! Wrong!

प्र-12.. वल्लभ पित्ती समूह के बाद एसपीवी ग्लोबल वेंचर्स द्वारा 21 जुलाई 2016 को राज्य के किस जिले में पूर्ण स्वचालित टेक्सटाइल संयंत्र का शुभारंभ किया गया है??

Correct! Wrong!

प्र-13.. हाल ही में राजस्थान के किस जिले में पिनेकल इन्फोटेक सोल्युशन कंपनी का ग्लोबल आईटी डिलीवरी सेंटर स्थापित किया गया है?

Correct! Wrong!

प्र-14.. राजस्थान सरकार ने प्रदेश की स्टार्टअप पॉलिसी लॉन्च की?

Correct! Wrong!

प्र-15.. दिल्ली-मुंबई इंडस्ट्रियल कॉरिडोर राजस्थान में 1000 मेगा वाट का गैस आधारित एक प्लांट कहां पर लगाएगी?

Correct! Wrong!

Q 16 भारत में राजस्थान में क्रमशः प्रथम सूती वस्त्र मिल स्थापित की गई

Correct! Wrong!

Q.17 राजस्थान की वर्तमान में उद्योग मंत्री कौन हैं

Correct! Wrong!

Q. 18 राजस्थान का मैनचेस्टर व नवीन मेनचेस्टर क्रमशः कौन से शहर हैं

Correct! Wrong!

Q.19 असंगत को छांटिए

Correct! Wrong!

Q.20 होजरी चोपंकी कहां स्थित है

Correct! Wrong!

Q.21 राजस्थान की किस चीनी मिल में चुकंदर से चीनी बनाई जाती है

Correct! Wrong!

Q.22 रीको की स्थापना कब हुई

Correct! Wrong!

Q.23 एयर कार्गो कॉन्पलेक्स सांगानेर जयपुर जयपुर में किसके द्वारा स्थापित है

Correct! Wrong!

Q.24 दी मेवाड़ शुगर मिल भोपाल सागर किस क्षेत्र में स्थित है

Correct! Wrong!

Q. 25 राजस्थान में सर्वप्रथम सीमेंट का कारखाना कहां स्थापित किया गया

Correct! Wrong!

प्रश्न.26 राजस्थान स्टेट केमिकल वर्क्स कहा है

Correct! Wrong!

प्रश्न.27 इन्स्ट्रूमेन्टेशन लिमिटेड कहा है

Correct! Wrong!

प्रश्न.28 राजस्थान के औद्योगिक पिछड़ेपन के कारण है

Correct! Wrong!

प्रश्न.29 स्टेट वूल मिल कहाँ स्थित है

Correct! Wrong!

प्रश्न.30 राजस्थान में सीमेन्ट प्रथम उद्योग इकाई कहां स्थापित की गई

Correct! Wrong!

प्रश्न.31 चंबल फर्टिलाइजर प्लाटं कहा है

Correct! Wrong!

प्रश्न.32 राजस्थान में कौनसा शहर बेल बूटों की छपाई के लिए पारंपरिक कला के लिए प्रसिद्ध है

Correct! Wrong!

प्रश्न.33 राजस्थान में औद्योगिक विकास हेतु ऋण एवं अंश पूंजी प्रदान करने वाली संस्था कौन सी है

Correct! Wrong!

प्रश्न.34 राजस्थान में मूर्तिकला का प्रसिध्द केन्द्र है

Correct! Wrong!

प्रश्न. 35 निम्नलिखित में से कोनसा जोडा़ सुमेलित है

Correct! Wrong!

Rajasthan Ke Udyog quiz 01( in hindi)
VERY BAD! You got Few answers correct! need hard work.
BAD! You got Few answers correct! need hard work
GOOD! You well tried but got some wrong! need more preparation
VERY GOOD! You well tried but got some wrong! need preparation
AWESOME! You got the quiz correct! KEEP IT UP

Share your Results:

Specially thanks to ( With Regards )

राजवीर प्रजापत चूरू, ममता शर्मा, कमल सिंह राजावत टोंक, Rohitash Kumar Swami Sikar, प्रियंका गर्ग, सुभाष जोशी,  सुरेश कुमार स्वामी सीकर, विजय कुमार महला झुन्झुनू