There are four basic language skills in every language

They are –
1. Listening (सुनना)
2. Speaking (बोलना)
3. Reading (पढ़ना)
4. Writing (लिखना)

Meaning of Reading Comprehension

Reading is a very important skill of a language. Reading means the process of reading something written on any paper, on the wall, in the book or anywhere else. But the true sense of reading is “reading with comprehension” or “reading with understanding” (समझकर पढ़ना)

How to understand the written text

हर भाषा के दो महत्वपूर्ण भाग होते हैं –

  1. Vocabulary
  2. Grammar

किसी भी भाषा में लिखे हुए लेख को पढ़ने के लिए उस भाषा का शब्द भंडार और व्याकरण को जानना आवश्यक है।

किसी भाषा के शब्दों को जानने के पश्चात हम उस भाषा को थोड़ा बहुत समझ सकते हैं । लेकिन उस भाषा के ग्रामर या व्याकरण को जानने के पश्चात हम उस भाषा को और अच्छी तरह से समझ सकते हैं ।अतः हमें शब्द भंडार और ग्रामर का ज्ञान बढ़ाने की कोशिश करनी चाहिए ।

लेकिन केवल शब्द भंडार ही काफी नहीं है । शब्द भी विभिन्न प्रकार के होते हैं जिन्हें Part of speech कहते हैं। और अलग-अलग Part of speech के शब्दों का अलग-अलग कार्य होता है। इसके पश्चात हमें वाक्य रचना को जानना आवश्यक है।

जैसे  हिंदी भाषा की वाक्य रचना है
कर्ता + कर्म + क्रिया
(subject + Object + Verb)

और इंग्लिश की वाक्य रचना है
कर्ता +क्रिया +कर्म
(Subject + Verb + Object)

Look at the following example

I am reading a book.

इस वाक्य में I कर्ता (subject), am reading क्रिया (verb) और
a book कर्म (object ) है।

Important Tips for English Reading –

1. समान उच्चारण वाले शब्द ( homonyms )
2. राइमिंग वर्ड्स (rhyming words )
3. साइलेंट लेटर्स (silent letters)
4. एक ही शब्द का अलग-अलग स्थान पर अलग-अलग अर्थ
5. एक ही शब्द का अलग-अलग पार्ट्स ऑफ स्पीच के रूप में प्रयोग
6. दैनिक जीवन के अधिकांश शब्दों को इंग्लिश में जानना इत्यादि

इतना जान लेने के पश्चात हम अवश्य ही एक बेहतर रीडिंग (Reading with Understanding) कर सकते हैं ।

Tips for a better Reading with Understanding

समझ कर पढ़ने (Reading with Understanding) के लिए कुछ word meanings, कुछ grammar rules, कुछ phrasal verbs और idiomatic phrases के मीनिंग और यूज को जानना सहायक हो सकता है ।

इसके अतिरिक्त कुछ Technical words (तकनीकी शब्दों) की मीनिंग्स जानना भी आवश्यक है क्योंकि लिखी हुई सामग्री जिस विषय से संबंधित है उस विषय से संबंधित शब्द आपको उस लेख में अधिक मिलेंगे ।

जो शब्द सिर्फ किसी विशेष विषय से संबंधित होते हैं उन्हें टेक्निकल वर्ड्स कहा जाता है ।
So we should know some technical words with meanings and uses related to science, literature, administration, sports, grammar etc.

बहुत सी चीजें ऐसी भी हैं जिनका daily life में बहुत ज्यादा प्रयोग होता है और इनसे हम अच्छी तरह से परिचित भी हैं। ये भी हमारी Reading with Understanding की प्रक्रिया में बहुत सहायक होतेे हैं । जैसे auxiliary verbs, action words of daily life, some adjectives, adverbs, prepositions, idiomatic phrases, phrasal verbs etc.

Tense is also very important factor in a better Reading Comprehension.

Example
Past Tense का प्रयोग निम्नलिखित क्षेत्रों में बहुत अधिक होता है –

  • कहानियों में (in the stories )
  • ऐतिहासिक घटनाओं के वर्णन में (in the description of Historical events)
  • महापुरुषों की जीवनियों में (in the biographies of great leaders )
  • महापुरुषों के बारे में निबंध लिखने में ( in the essays of great men)
  • बीती हुई घटनाओं के वर्णन में (to tell the past incidents)

All the above things are very helpful in our Reading Comprehension.

Play Quiz 

No of Questions-13 

[wp_quiz id=”2410″]

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

Jitendra Kumar Patel Dhamtari Chhattisgarh, Mukesh Kumar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *