Please support us by sharing on

Saur Mandal me Prithvi Questions

सौरमंडल में पृथ्वी

प्रश्न=1. सौर मंडल में किन दो ग्रहों के बीच क्षुद्र ग्रह पट्टी पाई जाती है ?
(अ) बुध और शुक्र
(ब) शुक्र और पृथ्वी
(स) पृथ्वी और मंगल
(द) मंगल और बृहस्पति

(द)✔
व्याख्या:- तारों ,ग्रहों एवं उपग्रहों के अतिरिक्त असंख्य छोटे पिंड सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाते हैं इन पिंडों को क्षुद्र ग्रह कहते हैं। यह मंगल और बृहस्पति की कक्षाओं के बीच पाए जाते हैं। वैज्ञानिकों के अनुसार क्षुद्र ग्रह, ग्रह के ही भाग होते हैं जो बहुत वर्ष पहले विस्फोट के बाद ग्रहों से टूट कर अलग हो गए।

प्रश्न= 2. हमारे सौरमंडल में सूर्य से सबसे दूर कौन सा ग्रह अवस्थित है?
(अ) यूरेनस (अरुण)
(ब) नेप्च्यून (वरुण)
(स) शनि
(द) बृहस्पति

(ब)✔
व्याख्या:- सूर्य से दूरी के अनुसार ग्रहों की स्थिति है बुध -शुक्र -पृथ्वी- मंगल -शनि -यूरेनस- नेपच्यून
वर्ष 2006 में अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संगठन ने अपनी बैठक में निर्णय लिया कि “प्लूटो”तथा अन्य खगोलीय पिंड “बोने ग्रह “के जा सकते हैं जो अभी तक एक ग्रह माने जाते थे।

प्रश्न= 3. नीचे दिए गए कथन एवं कारणों पर विचार कीजिए ?
कथनः पृथ्वी के आकार को भू- आभ भी कहा जाता है।
कारणः पृथ्वी ध्रुवों के पास थोड़ी चपटी है।
(अ) कथन सही है एवं कारण भी सही है तथा कारण कथन की व्याख्या करता है
(ब) कथन सही एवं कारण भी सही है तथा कारण कथन की व्याख्या नहीं करता
(स) कथन सही है एवं कारण गलत है
(द) कथन गलत है एवं कारण सही है

(अ)✔

प्रश्न=4. नीचे दिए गए कथनों में से कौन सा /से कथन सत्य है/हैं?
1. अंतरिक्ष से देखने पर पृथ्वी हरे रंग की दिखाई देती है
2. पृथ्वी का हरा रंग हमें यहां के वनों के कारण दिखाई देता है
(अ) केवल एक
(ब) केवल दो
(स) एक और दो
(द) न तो एक नहीं दो

(द)✔
व्याख्या:- अंतरिक्ष से देखने पर पृथ्वी नीले रंग की दिखाई पड़ती है क्योंकि पृथ्वी की दो तिहाई सतह पानी से ढँकी हुई है , इसलिए इसे नीला ग्रह कहा जाता है।

प्रश्न=5. सौरमंडल का निर्माण किस से मिलकर होता है?
1. ग्रह
2.उपग्रह
3. सूर्य
4. उल्कापिंड
कूटः

(अ) 1, 2 एव 3
(ब) 2, 3 एव 4
(स) 1, 3 एव 4
(द) उपरोक्त सभी

(द)✔
 
प्रश्न= 6. नीचे दिए गए कथनों में से कौनसा/ से कथन सकते हैं /हैं ?
1. सूर्य का खिंचाव बल सौरमंडल को बांधे रखता है
2. सूर्य, सौरमंडल के लिए प्रकाश एव ऊष्मा का एकमात्र स्रोत है
(अ) केवल 1
(ब) केवल 2
(स) 1 और 2 दोनों
(द) न तो 1 और नहीं 2

(स)✔
व्याख्या:- सूर्य सौरमंडल के केंद्र में स्थित है यह बहुत बड़ा एवं अत्यधिक गर्म गैसों से बना है, इसका खिंचाव बल सौरमंडल को बांधे रखता है।
सूर्य सौरमंडल के लिए प्रकाश ऊष्मा का एकमात्र स्रोत है हम सूर्य के अत्यधिक तेज उष्मा को महसूस नहीं करते क्योंकि यह पृथ्वी के सबसे नजदीक तारा होने के बावजूद हम से लगभग 15 करोड़ किलोमीटर दूर है तथा सूर्य के प्रकाश को पृथ्वी पर पहुंचने में लगभग 8 मिनट लगते हैं।

प्रश्न= 7. सौर मंडल के ग्रह जो सूर्य का चक्कर लगाते हैं उनके रास्ते किस आकार में फैले हैं?
(अ) वृत्ताकार
(ब) दीर्घवार्ताकार
(स) लघुवृता कार
(द) निश्चित नहीं है

(ब)✔
व्याख्या:- सौर मंडल के सभी 8 ग्रह एक निश्चित पथ पर सूर्य का चक्कर लगाते हैं यह रास्ते दीर्घवृताकार में फैले हुए हैं यह कक्षा कहलाते हैं

प्रश्न= 8. किस ग्रह की आकृति एव आकार लगभग पृथ्वी के ही समान है?
(अ) बुध
(ब) शुक्र
(स) मंगल
(द) शनि

(ब)✔
व्याख्या:- शुक्र को पृथ्वी का जुड़वा ग्रह मानते क्यों किस का आकार एवं आकृति लगभग पृथ्वी के ही समान है।

प्रश्न= 9. पृथ्वी के सबसे निकटतम ग्रह कौन सा है?
(अ) बुध
(ब) शुक्र
(स) मंगल
(द) चंद्रमा
 (ब)✔

प्रश्न 10. किस ग्रह को पृथ्वी के जुड़वां ग्रह के नाम से जाना जाता है ?
A. बृहस्पति
B. शनि
C. शुक्र
D. मंगल

(C) ✔

प्रश्न 11. सूरज से तीसरा सबसे नजदीक ग्रह कौन सा है ?
A. शुक्र
B. पृथ्वी
C. बुध
D. बृहस्पति

(B) ✔

प्रश्न 12. सभी ग्रह सूर्य के चारों ओर किस प्रकार के पथ पर चक्कर लगाते हैं ?
A. वृत्तीय पथ पर
B. आयताकार पथ पर
C. दीर्घ वृत्ताकार पथ पर
D. बेलनाकार पथ पर

(C) ✔

प्रश्न 13. ध्रुव तारे से किस दिशा का ज्ञान होता है ?
A. दक्षिण
B. उत्तर
C. पूरब
D. पश्चिम

(B) ✔

प्रश्न 14. छुद्र ग्रह किन कक्षाओं के बीच पाए जाते हैं ?
A. शनि एवं बृहस्पति
B. मंगल एवं बृहस्पति
C. पृथ्वी एवं मंगल
D. पृथ्वी एवं बुध

(B) ✔ 

प्रश्न=15. हमारे सौरमंडल का सबसे बड़ा एवं सबसे छोटा ग्रह कौन सा है ?
(अ) बृहस्पति एवं बुध
(ब) बृहस्पति एवं अरुण
(स) शनि एवं मंगल
(द) शुक्र एवं बुध

(अ)✔
व्याख्या:- हमारे सौरमंडल में ग्रहों में बृहस्पति सबसे बड़ा है तथा बुध सबसे छोटा है

प्रश्न=16. कौन से वे दो ग्रह हैं जिनका सौरमंडल के अन्य ग्रहों की तुलना परिक्रमण विपरीत दिशा में है?
(अ) बुध और शुक्र
(ब) शुक्र और शनि
(स) शुक्र और यूरेनस (अरुण)
(द) बृहस्पति और यूरेनस (अरुण)

(स)✔
व्याख्या:- शुक्र और यूरेनस की परिक्रमण की दिशा अन्य ग्रहों से विपरीत होती है। शुक्र और यूरेनस घड़ी की सुई की दिशा में(clockwise) घूमते हैं जबकि अन्य ग्रह घड़ी की सुई के विपरीत दिशा (Anti clockwise)में घूमते है

प्रश्न=17. हमारे सौरमंडल में में किन ग्रहों के पास एक भी चंद्रमा नहीं है?
1. बुध
2. शनि
3. शुक्र
4. यूरेनस
कूटः

(अ) 1 और 2
(ब) 2 और 3
(स) 3 और 4
(द) 1 और 3

(द)✔
व्याख्या:- हमारे सौरमंडल में बुध एवं शुक्र के पास कोई चंद्रमा (प्राकृतिक उपग्रह) नहीं है

प्रश्न=18. नीचे दिए गए ग्रहों में सबसे अधिक चंद्रमा (प्राकृतिक उपग्रह) किसके पास है?
(अ) शनि
(ब) बृहस्पति
(स) मंगल
(द) यूरेनस

(ब)✔
व्याख्या:- शनि के चंद्रमा की संख्या = 62
बृहस्पति के चंद्रमा की संख्या = 67
मंगल के चंद्रमा की संख्या = 2
यूरेनस के चंद्रमा की संख्या = 27

प्रश्न=19. नीचे दिए गए कथनों में से कौन-सा /से कथन सत्य हैं / हैं?
1. उपग्रह अपने ग्रहों की परिक्रमा करते हैं साथ ही साथ सूर्य की भी परिक्रमा करते हैं
2. पृथ्वी के उपग्रह चंद्रमा का व्यास पृथ्वी के व्यास से आधा है।
कुटः

(अ) केवल 1
(ब) केवल 2
(स) 1 और 2 दोनों
(द) ना तो 1 और ना ही 2

(अ)✔
व्याख्या:- ग्रह को अंग्रेजी में सेटेलाइट कहते हैं जिसका अर्थ होता है साथी या सहचर। अपने नाम को सार्थक करते हुए उपग्रह अपने ग्रहों की परिक्रमा करते हुए सूर्य के इर्द-गिर्द चक्कर लगाते हैं।
हमारी पृथ्वी के पास केवल एक उपग्रह है ,चंद्रमा इसका व्यास का केवल एक चौथाई है ।इतना बड़ा इसलिए प्रतीत होता है क्योंकि यह हमारे ग्रह से अन्य खगोलीय पिंडों की अपेक्षा नजदीक है।

प्रश्न=20. प्राचीन भारत के प्रसिद्ध खगोल शास्त्री कौन थे ?
(अ) पाणिनी
(ब) भास्कराचार्य
(स) आर्यभट्ट
(द) नागार्जुन

👉(स)✔
व्याख्या:- खगोलीय पिंडों एवं उनकी गति के संबंध में अध्ययन करने वालों को खगोलशास्त्री कहते हैं ।आर्यभट्ट प्राचीन भारत के प्रसिद्ध खगोलशास्त्री के

प्रश्न=21. नीचे दिए गए कथन एवं कारण पर विचार कीजिए ?
कथनः पृथ्वी से हमें चंद्रमा का केवल एक ही भाग दिखाई देता है
कारणः चंद्रमा के द्वारा पृथ्वी का एक चक्कर पूरा करने में लगने वाले समय अपने अक्ष पर एक चक्कर पूरा करने में लगने वाले समय से अधिक है।
(अ) कथन एवं कारण सही है तथा कारण कथन की सही व्याख्या करता है
(ब) कथन एवं कारण सही है तथा कारण ,कथन की सही व्याख्या नहीं करता है
(स) कथन सही है ,कारण गलत है
(द) कथन गलत है, कारण सही है

(स)✔
व्याख्या:- चंद्रमा पृथ्वी का एक चक्कर लगभग 27 दिनों में पूरा करता है। लगभग इतने ही समय में यह अपने अक्ष पर एक चक्कर भी पूरा करता है। चंद्रमा के द्वारा पथरी का एक चक्कर पूरा करने में लगने वाला समय अपने अक्ष पर एक चक्कर पूरा करने में लगने वाले समय के बराबर ही होता है इसके परिणाम स्वरूप पृथ्वी से हमें चंद्रमा का केवल एक ही भाग दिखाई देता है।

प्रश्न=22. नीचे दिए गए कथन पर विचार कीजिए?
1. सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाले पत्थरों के छोटे-छोटे टुकड़ों को उल्कापिंड कहते हैं
2. खुले आकाश में फैली, एक छोर से दूसरे छोर तक चौड़ी सफेद पट्टी जो लाखों तारों का समूह है। इसे आकाशगंगा कहते हैं ।
ऊपर दिए गए कथनों में से कौन सा /से कथन सत्य है/है ?
कुटः

(अ) केवल 1
(ब) केवल 2
(स) 1 और 2 दोनों
(द) न तो 1 और नहीं 2

(स) ✔
व्याख्या:- उपरोक्त दोनों कथन सत्य है । सूर्य के चारों ओर चक्कर लगाने वाले पत्थरों के छोटे-छोटे टुकड़ों को उल्कापिंड कहते हैं ।
खुले आकाश में एक छोर से दूसरे छोर तक फैली चौडी सफेद पट्टी जो कि एक चमकदार रास्ते की तरह दिखती है यह लाखों तारों का समूह है यह पट्टी आकाशगंगा है ।हमारा सौरमंडल आकाश गंगा का ही एक भाग है। प्राचीन भारत में इसकी कल्पना आकाश में प्रकाश की एक बहती नदी से की गई थी ।इस प्रकार इसका नाम आकाशगंगा पड़ा। लाखों आकाशगंगाए मिलकर ब्रह्मांड का निर्माण करते हैं।

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

नेहा शर्मा झालावाड़, राहुल कुमार मंडल, धर्मवीर शर्मा अलवर

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *