NCERT Book : Water Questions and Answers

भूगोल : जल

प्रश्न=1. निम्नलिखित में से कौन-कौन सी प्रक्रिया जल चक्र में सम्मिलित हैं ?
1. वाष्पीकरण
2. संघनन
3. वर्षण

(अ) केवल 1 और 2
(ब) केवल 2 और 3
(स) केवल 3 और 1
(द) उपरोक्त सभी

(द)✔
व्याख्याः सूर्य के ताप के कारण जल वाष्पित हो जाता है। ठंडा होने पर जलवाष्प संघनित होकर बादलों का रूप ले लेती है। यहाँ से यह वर्षा, हिम अथवा सहिम वृष्टि के रूप में धरती या समुद्र पर नीचे गिरता है। दूसरे शब्दों में कहें तो जिस प्रक्रम में जल लगातार अपने स्वरूप को बदलता रहता है और महासागरों, वायुमंडल एवं धरती के बीच चक्कर लगाता रहता है उसको जल चक्र कहते हैं।

प्रश्न 2. निम्नलिखित में से किसका सागरीय जल की लवणता में सर्वाधिक योगदान है ?
(अ) सोडियम क्लोराइड
(ब) कैल्शियम क्लोराइड
(स) मैग्नीशियम क्लोराइड
(स) कैल्शियम सल्फेट

(अ)✔
व्याख्याः महासागरों एवं समुद्रों का जल लवणीय होता है। इसमें अधिकांश सोडियम क्लोराइड (खाने का नमक) होता है।
“लवणता” 1000 ग्राम जल में मौजूद नमक की मात्रा होती है। महासागर की औसत लवणता 35 भाग प्रति हजार ग्राम है। इजराइल के मृत सागर में 45 भाग प्रति हजार ग्राम लवणता है।

प्रश्न 3. महासागर में ज्वार-भाटा की उत्पत्ति के प्रमुख कारण हैं-

(अ) सूर्य का गुरुत्वाकर्षण बल
(ब) चंद्रमा का गुरुत्वाकर्षण बल
(स) सूर्य एवं चंद्रमा दोनों के गुरुत्वाकर्षण बल के कारण
(द) समुद्री जलधाराएँ

(स)✔
व्याख्याः सूर्य एवं चंद्रमा के शक्तिशाली गुरुत्वाकर्षण बल के कारण पृथ्वी की सतह पर ज्वार-भाटा आते हैं।
जब महासागर का जल सर्वाधिक ऊँचाई तक उठकर, तट के बड़े हिस्से को डुबो देता है, तब उसे ज्वार कहते हैं। जब जल अपने निम्नतम स्तर तक आ जाता है एवं तट से पीछे चला जाता है, तो उसे भाटा कहते हैं। दिन में दो बार नियम से ज्वार एवं भाटा आते हैं।

प्रश्न 4.वृहत् ज्वार आने की सही स्थिति क्या है?

(अ) जब सूर्य, चंद्रमा एवं पृथ्वी तीनों एक सीध में होते हैं।
(ब) जब सूर्य एवं चंद्रमा पृथ्वी पर समकोण बनाते हैं।
(स) जब महासागरीय सतह का तापमान उच्च होता है।
(द) जब बहुत तेज़ हवाएँ चलती हैं।

(अ)✔
व्याख्याः जब सूर्य, चंद्रमा एवं पृथ्वी तीनों एक सीध में होते हैं, उस समय सबसे ऊँचे ज्वार उठते हैं। इस ज्वार को वृहत् ज्वार कहते हैं।

प्रश्न 5. वृहत् ज्वार किन दिनों में आते हैं ?

(अ) पूर्णिमा
(ब) अमावस्या
(स) दोनों दिनों में
(द) इन दिनों के अलावा किसी भी दिन।

(स)✔
व्याख्याः पूर्णिमा एवं अमावस्या के दिनों में सूर्य, चंद्रमा एवं पृथ्वी तीनों एक ही सीध में होते हैं तब उस समय वृहत् ज्वार आते हैं।

प्रश्न 6. निम्नलिखित कथनों को ध्यानपूर्वक पढ़ियेः
1. जब पृथ्वी का जल चंद्रमा के निकट होता है, उस समय चंद्रमा के गुरुत्वाकर्षण बल के कारण उच्च ज्वार आते हैं।
2. जब चंद्रमा एवं सूर्य पृथ्वी पर समकोण बनाते हैं तब निम्न ज्वार-भाटा आता है।
उपरोक्त में से कौन-सा/से कथन सत्य है/हैं?

(अ) केवल 1
(ब) केवल 2
(स) 1 और 2 दोनों
(द) न तो 1 और न ही 2

(स)✔
व्याख्याः जब पृथ्वी का जल चंद्रमा के निकट होता है उस समय चंद्रमा के गुरुत्वाकर्षण बल से जल अभिकर्षित होता है, जिसके कारण उच्च ज्वार आते हैं। किन्तु जब चंद्रमा अपने प्रथम एवं अंतिम चतुर्थांश में होता है अर्थात् चंद्रमा एवं सूर्य पृथ्वी पर समकोण बनाते हैं तब पृथ्वी एवं सूर्य का गुरुत्वाकर्षण बल विपरीत दिशाओं से महासागरीय जल पर पड़ता है, परिणाम स्वरूप निम्न ज्वार-भाटा आता है। ऐसे ज्वार को लघु ज्वार-भाटा कहते हैं।

प्रश्न 7. निम्नलिखित में से कौन-कौन से लाभ उच्च ज्वार से होते हैं?
1. उच्च ज्वार नौसंचालन में सहायक होते हैं।
2. उच्च ज्वार मछली पकड़ने में मदद करते हैं।
3. इनके उपयोग से विद्युत उत्पन्न की जा सकती है।

(अ) केवल 1 और 2
(ब) केवल 1 और 3
(स) केवल 2 और 3
(द) उपरोक्त सभी

(द)✔
व्याख्याः उच्च ज्वार नौसंचालन में सहायक होते हैं। ये जल स्तर को तट की ऊँचाई तक पहुँचाते हैं। ये जहाज़ को बंदरगाह तक पहुँचाने में सहायक होते हैं। उच्च ज्वार मछली पकड़ने में भी मदद करते हैं। उच्च ज्वार के दौरान अनेक मछलियाँ तट के निकट आ जाती हैं। इसके फलस्वरूप मछुआरे बिना कठिनाई के मछलियाँ पकड़ पाते हैं। कुछ स्थानों पर ज्वार-भाटा से होने वाले जल के उतार-चढ़ाव का उपयोग विद्युत उत्पन्न करने के लिये किया जाता है।

प्रश्न8. महासागरीय धाराओं के संदर्भ में निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा कथन असत्य है?
(अ) गर्म महासागरीय धाराएँ भूमध्य रेखा के निकट उत्पन्न होती हैं एवं ध्रुवों की ओर प्रवाहित होती हैं।
(ब) ठंडी धाराएँ ध्रुवों या उच्च अक्षांशों से उष्णकटिबंधीय या निम्न अक्षांशों की ओर प्रवाहित होती हैं।
(स) लेब्रोडोर महासागरीय जलधारा उष्ण जलधाराएँ होती हैं।
(द) महासागरीय धाराएँ आस-पास के क्षेत्र के तापमान को भी प्रभावित करती हैं।

(स)✔
व्याख्याः तीसरा कथन गलत है। लेब्रोडोर महासागरीय धाराएँ शीत जलधाराएँ होती हैं, जबकि गल्फ स्ट्रीम गर्म जलधाराएँ होती हैं।

प्रश्न 9. निम्नलिखित में से कौन-सा महासागरीय क्षेत्र विश्व भर में सर्वोत्तम मत्स्यन क्षेत्र माना जाता है?

(अ) वह क्षेत्र जहाँ शीत जलधाराएँ बहती हैं।
(ब) वह क्षेत्र जहाँ गर्म जलधाराएँ बहती हैं।
(स) वह क्षेत्र जहाँ गर्म एवं शीत जलधाराएँ मिलती हैं।
(द) समुद्र का वह क्षेत्र जो विषुवत रेखा के आस-पास है।

(स)✔
व्याख्याः सागर या महासागर के जिस स्थान पर गर्म एवं शीत जलधाराएँ मिलती हैं, वह स्थान विश्वभर में सर्वोत्तम मत्स्यन क्षेत्र माना जाता है। जापान के आस-पास एवं उत्तर अमेरिका के पूर्वी तट इसके कुछ उदाहरण हैं। जहाँ गर्म एवं ठंडी जलधाराएँ मिलती हैं वहाँ कुहरे वाला मौसम बनता है। इसके फलस्वरूप नौसंचालन में बाधा उत्पन्न होती है।

प्रश्न 10. सुनामी शब्द की उत्पत्ति किस भाषा से हुई है?
(अ) चीनी भाषा
(ब) फ्रेंच भाषा
(स) जर्मन भाषा
(द) जापानी भाषा

(द)✔
व्याख्याः सुनामी जापानी भाषा का एक शब्द है, जिसका अर्थ है- “पोताश्रय तरंगें” क्योंकि सुनामी आने पर पोताश्रय नष्ट हो जाते हैं। 26 दिसंबर, 2004 को हिंद महासागर में सुनामी के कारण अत्यधिक विनाश हुआ था। जिसके परिणामस्वरूप हिंद महासागर के कुछ द्वीप पूर्णतः डूब गए।

भारतीय सीमा का सबसे दक्षिणी बिन्दु इंदिरा प्वाइंट जो अंडमान-निकोबार द्वीप समूह में स्थित था पूरी तरह से डूब गया।
यद्यपि पहले से भूकंप का अनुमान लगाना संभव नहीं है फिर भी बड़ी सुनामी के संकेत तीन घंटे पहले मिल सकते हैं। प्रशांत महासागर में प्राथमिक चेतावनी की ऐसी प्रणालियाँ क्रियाशील हैं, लेकिन हिंद महासागर में ये सुविधाएँ नहीं हैं।

 

Specially thanks to Post and Quiz Creator ( With Regards )

महेन्द्र चौहान, Kapil, कोमल शर्मा, दीपक मैठाणी, रविकांत दिवाकर