( पाश्यात्य राजनीतिक विचारक-अरस्तू )

Related imageअरस्तु का जन्म मेसिडोनिया राज्य की सीमा पर स्थित स्टेगिरा यूनानी शहर में 384 साल में हुआ था, प्लेटो की अकादमी में अरस्तू ने 20 वर्ष गुजारे कथा 12 वर्ष तक अरस्तू ने एक यात्री के रूप में अनेक यूनानी नगर राज्यों में अपना समय गुजारा इस प्रक्रिया में उसे प्रशासन संबंधी ज्ञान भी प्राप्त हुआ । अरस्तू ने अपनी शिक्षा संस्थान लाईस्यूम में 12 वर्ष व्यतीत किए,

अरस्तु की रचनाएं

  1. Politics,
  2. Constitutions,
  3. Ethics

वे रचनाएं हैं जिनका संबंध प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रुप से राजनीति विज्ञान से हैं

उनकी अन्य रचनाओं में

  1. Rhetorics
  2. Poetic
  3. Physics
  4. Metaphysics
  5. History of animals

Constitutions अरस्तु की वह कृति है जिसमें वह अपने समय के 158 संविधानों का तुलनात्मक अध्ययन करते हुए शासन व्यवस्था के मूल तत्व को दर्शाता है

Politics अरस्तु द्वारा रचित एक अनुपम कृति है राजनीति के क्षेत्र में सर्वश्रेष्ठ रचना है इसमें 8 भाग बताए जाते हैं

  • पहले भाग में राज्य की प्रकृति व दास प्रथा का वर्णन है
  • दूसरे भाग में प्लेटो के दर्शन की आलोचना है
  • तीसरे भाग में सभी संविधानों के विभिन्न स्वरूपों का वर्णन मिलता है
  •  चौथे भाग में राजतंत्र के अतिरिक्त अन्य प्रकार के संविधानों का वर्णन मिलता है
  • पांचवी विभाग में अरस्तु क्रांतियों उनके कारणों तथा उन्हें दूर करने के उपाय बताता है
  •  छठे भाग में 5 विभाग का विस्तार हैं व निष्कर्ष हैं
  •  7 भाग में आदर्श संविधान का विवेचन किया गया है

 

Play Quiz 

No of Questions- 61

[wp_quiz id=”2927″]

Specially thanks to Post and Quiz makers ( With Regards )

B.s.meena Alwar, मुकेश पारीक ओसियाँ, नवीन कुमार जी झुंझुनू, अर्जुन जी कोटा, गोविंद प्रसाद गुर्जर कोटा, नेमीचंद जी चावला टोंक, रवि जी जोधपुर, हरेन्द्रसिंह जी

Leave a Reply