राज्य प्रकृति एवं कार्य संबंधित प्रश्नोत्तरी | स्नातक स्तर

0%
27

राज्य प्रकृति एवं कार्य संबंधित प्रश्नोत्तरी | स्नातक स्तर

1 / 25

1. राज्य को अत्यधिक महत्ता प्रदान की है-

2 / 25

2. राज्य के लिए निश्चित भूमि का आवश्यक होना सर्वप्रथम किसने माना

3 / 25

3. रूसो में आदर्श राज्य की जनसंख्या कितनी बताई

4 / 25

4. स्वत्वबोधक व्यक्तिवाद शब्द का प्रयोग किया है।

5 / 25

5. किस सिद्धांत के अनुसार राज्य वर्ग विरोधी विसंगतियों की उपज एवं अभिव्यक्ति है?

6 / 25

6. निम्नलिखित में से किस ने राज्य को एक निश्चित भू भाग्य राजनीतिक दृष्टि से संगठित लोग के रूप में परिभाषित किया?

7 / 25

7. The state पुस्तक है।

8 / 25

8. " राज्य व्यक्ति का पूर्वगामी है । " यह कथन है -

9 / 25

9. किसके शब्दों में वैधता शासक और शासितों के बीच लाभ पूर्ण लेन देन का समझोता है-

10 / 25

10. अप्राप्त को प्राप्ति, प्राप्त का संरक्षण, संरक्षित का संवर्धन और संवर्द्धित का सत्पात्रों में वितरण करना राज्य का प्रयोजन है किसने कहा

11 / 25

11. सेवाधर्मी राज्य का समर्थन किसने किया

12 / 25

12. कार्य क्षेत्र की दृष्टि से राज्य के प्रकार हैं

13 / 25

13. निम्न में से कोनसा राज्य नहीं है?

14 / 25

14. राज्य और सरकार मे अंतर है।

15 / 25

15. बेवरिज रिपोर्ट को किसने लागू किया

16 / 25

16. सर्वप्रथम राज्य के सिद्धांत का प्रतिपादन किया -

17 / 25

17. राज्य को बीमा कंपनी जैसी संस्था मानता है।

18 / 25

18. .प्रिंसिपल ऑफ पोलेटिकल इकोनॉमी पुस्तक हैं

19 / 25

19. .De Republic पुस्तक हैं

20 / 25

20. उदारवाद के बाद का काल कहलाता है

21 / 25

21. राज्य और समाज में अंतर नहीं है।

22 / 25

22. एड्वर्ड शील्स और गोल्ड हेमर ने शक्ति के प्रकार बताये है -

23 / 25

23. राज्य को आवश्यक बुराई कोन मानते है

24 / 25

24. निम्नलिखित राजनीतिक सिद्धांतों में से कौन सा राज्य को एक आवश्यक बुराई समझता है?

25 / 25

25. जो विचारक राज्य को संघ मानते हैं उन्हें कहा जाता है?

Your score is

The average score is 13%

0%

आप इस परीक्षा को 5 में से कितने सितारे देना चाहेंगे?
How many stars out of 5 would you like to give this exam?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *